आधार कार्ड में सुधार कैसे करे 2023 में (ऑनलाइन मोबाइल से)


आधार कार्ड में सुधार कैसे करे 2023 में (ऑनलाइन मोबाइल से) अगर आपके आधार कार्ड में कोई information गलत हो गयी है, और आप उसको बदलना चाहते हो तो आज इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की आधार कार्ड में नाम, पता, मोबाइल नंबर, जन्म की तरीक (Date of Birth), Gender को online update और change कैसे करें पूरी जानकारी हिंदी में.

आधार कार्ड में सुधार कैसे करे 2023 में (ऑनलाइन मोबाइल से)

अगर आपसे आधार कार्ड बनवाते समय गलती से कोई गलत information डल गयी है, तो अब आपको tension लेने की कोई जरुरत नहीं है, क्युकी आज इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की आधार कार्ड में सुधार कैसे करे? आप अपने आधार कार्ड में online कोई भी correction or sudhar कर सकते हो, और उसमे अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर, जन्म की तरीक (Date of Birth), Gender और Email Address को online update और change भी कर सकते हो.


अपने आधार कार्ड में online कोई भी changes or update करने के लिए आपके आधार कार्ड में मोबाइल नंबर Add होना चाइये। अगर आपके आधार कार्ड में मोबाइल नंबर Add नहीं है, तो आप online कोई भी changes नहीं कर सकते।

अनुक्रम

आधार कार्ड क्या है?

इंडियन गवर्नमेंट द्वारा देश में रहने वाले लोगों को आधार कार्ड जारी किया जाता है, जो कि एक प्रकार का पहचान पत्र होता है। आधार कार्ड में 12 अंकों का एक विशिष्ट नंबर होता है।इस नंबर को जारी करने का काम भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के द्वारा किया जाता है, जिसे अंग्रेजी भाषा में यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया कहते हैं।


हर व्यक्ति के आधार कार्ड में छपे हुए 12 नंबर अलग-अलग होते हैं। किसी भी व्यक्ति के आधार कार्ड के 12 नंबर एक जैसे नहीं हो सकते हैं।अगर ऐसा पाया जाता है तो आधार कार्ड में सुधार करवाने की आवश्यकता होती है। आधार कार्ड के द्वारा व्यक्ति भारत देश में किसी भी राज्य में अपनी पहचान को और अपने एड्रेस को प्रमाणित कर सकता है।

इंडियन पोस्ट के द्वारा प्राप्त आधार कार्ड और यूआईडीएआई की वेबसाइट से डाउनलोड किया गया आधार कार्ड दोनों ही समान रूप से वैलिड होता है। किसी भी व्यक्ति के द्वारा आधार कार्ड का नामांकन करवाया जा सकता है।हालांकि वह भारतीय निवासी हो और यूआईडीएआई के द्वारा निर्धारित वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को पूरा करता हो, फिर चाहे उसकी उम्र कोई भी हो और वह किसी भी जेंडर का क्यों ना हो।

आधार कार्ड के लिए भारतीय व्यक्ति सिर्फ एक ही बार अपना पंजीकरण करवा सकता है। नामांकन शुल्क बिल्कुल फ्री है। बता दे कि आधार कार्ड भारतीय लोगों की पहचान का प्रमाण पत्र है।परंतु यह भारतीय नागरिकता का सर्टिफिकेट बिल्कुल भी नहीं है। आधार कार्ड भारत के इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय से संबंधित है।


जिसके चेयरमैन जे. सत्यनारायण है। साल 2009 में 28 जनवरी के दिन भारत में आधार कार्ड की शुरुआत की गई थी और साल 2019 के अगस्त के महीने तक इसका बजट 11,366 करोड रुपए था तथा साल 2020 के जनवरी महीने तक तकरीबन 1.253 अरब आधार कार्ड धारक हमारे देश में हो चुके थे। आधार कार्ड से संबंधित सारे कामकाज uidai.gov.in वेबसाइट पर संपूर्ण किए जाते हैं।

आधार कार्ड में सुधार कैसे करे?

सरकार के द्वारा आधार कार्ड में किसी तरह में सुधार करवाने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही प्रक्रिया दी गई है। व्यक्ति अपनी सुविधा के अनुसार ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन में से किसी भी प्रक्रिया का चयन करके आधार कार्ड में सुधार करवा सकता है।

बता दे कि ऑनलाइन आधार कार्ड में सुधार करवाने के लिए आपको हर बार ₹50 की पेमेंट करनी होती है और अगर आप ऑफलाइन प्रक्रिया के द्वारा आधार कार्ड में सुधार करवाते हैं तो आपको ₹150 भरने की आवश्यकता होती है।


ऑफलाइन आप नजदीकी आधार कार्ड सेंटर में से अपना आधार कार्ड अपडेट करवा सकते हैं अर्थात सुधार  करवा सकते हैं। ऑनलाइन आप आधार कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट के द्वारा आधार कार्ड में सुधार करवा सकते हैं।

आधार कार्ड में क्या क्या सुधार (Correction) कर सकते हैं?

इससे पहले की आप आधार कार्ड में सुधार (Correction) करवाने की प्रक्रिया का पालन करें, आपको यह भी पता कर लेना चाहिए कि आखिर आधार कार्ड में आप कौन-कौन से सुधार करवा सकते हैं। आधार कार्ड में आप जो सुधार करवा सकते हैं, उसकी जानकारी हमने नीचे उपलब्ध करवाई है।

  • व्यक्ति का नाम
  • पिता का नाम
  • मोबाइल नंबर जेनरेट
  • एड्रेस
  • फोटो
  • जन्म तिथि
  • लिंग (महिला/पुरुष)

आधार कार्ड में सुधार करने हेतु दस्तावेज

जिन दस्तावेज का इस्तेमाल करके आपने आधार कार्ड बनवाया था, उन्हीं दस्तावेज का इस्तेमाल करके आप सरलता से अपने आधार कार्ड में सुधार (Correction) करवा सकते हैं।


याद रखें कि जब आप आधार कार्ड में सुधार (Correction) करवाने की प्रक्रिया प्रारंभ करें तो उसके पहले ही आवश्यक दस्तावेज की ओरिजिनल और डुप्लीकेट फोटो कॉपी अपने पास अवश्य रख लें, ताकि आपका काम दस्तावेज की वजह से बीच में ना अटके।

  • वोटर आईडी
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पैन कार्ड
  • दसवीं/बारहवीं की मार्क शीट
  • पीएसयू द्वारा जारी किया गया सर्विस कार्ड
  • राशन कार्ड
  • यूनिवर्सिटी मार्क शीट
  • बैंक अकाउंट
  • क्रेडिट कार्ड
  • विकलांगता पहचान पत्र
  • पिछले तीन माह का बिजली का बिल
  • पेंशनर कार्ड
  • स्वतंत्रता सेनानी कार्ड
  • क्षेत्र पंचायत अधिकारी, जिला पंचायत अधिकारी व ग्राम प्रधान द्वारा लिखित प्रमाण पत्र जिसमे उनके हस्ताक्षर भी हों।
  • डाक विभाग द्वारा पता कार्ड
  • ईसीएचएस कार्ड

ऑनलाइन आधार कार्ड में सुधार कैसे करे?

अगर आप बिना आधार कार्ड सेंटर में गए हुए घर बैठे ही अपने आधार कार्ड में सुधार करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट का इस्तेमाल करना पड़ेगा। आधिकारिक वेबसाइट पर आपको आधार कार्ड में सुधार (Correction) करने का ऑप्शन आसानी से प्राप्त होता है।

1: आधार कार्ड सुधार ऑनलाइन करवाने के लिए सर्वप्रथम अपने किसी भी ब्राउज़र में यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट को ओपन करे।

2: आधिकारिक वेबसाइट ओपन होने के पश्चात आपको वेबसाइट के होम पेज पर online update service वाला ऑप्शन ढूंढना है और प्राप्त हो जाने पर आपको इसी ऑप्शन के अंतर्गत update aadhar online वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।

3: अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन हो करके आएगा। आपको स्क्रीन पर दिखाई दे रहे पेज में निश्चित जगह में अपने आधार कार्ड नंबर को दर्ज करना है। उसके पश्चात आपको कैप्चा कोड को भी इंटर कर देना है।

4: अब जो ओटीपी आपको प्राप्त हुआ है उसे आपको इंटर ओटीपी वाले बॉक्स में डालना है और लॉगइन बटन पर क्लिक करना है।

5: लॉगिन हो जाने के बाद आपको एड्रेस अपडेट वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।

6: अब आपको ऐड्रेस प्रूफ वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।

7: अब आपको निश्चित जगह में अपने नए एड्रेस की जानकारी को सही-सही दर्ज करना है।

8: जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको संबंधी दस्तावेज को भी डिजिटल फॉर्मेट में स्कैन करके अपलोड कर देना है।

9: अब आपको सबसे आखरी में सबमिट बटन पर क्लिक कर देना होता है।

इतनी प्रक्रिया जब आपके द्वारा कर ली जाती है तो 7 से 10 दिनों के अंदर आपके आधार कार्ड में आपका एड्रेस चेंज कर दिया जाता है और फिर नया आधार कार्ड स्पीड पोस्ट के द्वारा आप के घर पर डिलीवर कर दिया जाता है। 

आप चाहे तो यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट से भी अपने अपडेट हुए आधार कार्ड को डाउनलोड कर सकते हैं और उसका प्रिंट आउट निकाल कर उसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

ऑफलाइन आधार कार्ड में सुधार कैसे करे?

जिन लोगों को आधार कार्ड में सुधार करने की ऑनलाइन प्रक्रिया समझ में नहीं आती है वह लोग ऑफलाइन प्रक्रिया के अंतर्गत आधार सेंटर जा करके भी अपने आधार कार्ड में अपना एड्रेस अपडेट करवा सकते हैं।

या फिर आधार कार्ड में दूसरे सुधार भी करवा सकते हैं। आधार कार्ड सुधार (Correction) की ऑफलाइन प्रक्रिया आपको नीचे बताई जा रही है।

1: आधार कार्ड में ऑफलाइन सुधार करवाने के लिए आपको अपने आवश्यक दस्तावेज को लेकर के नजदीकी आधार कार्ड सेंटर अर्थात आधार कार्ड ऑफिस में जाना है।

2: आधार कार्ड सेंटर पर पहुंचने के पश्चात आपको संबंधित कर्मचारी से बातचीत करनी है और कर्मचारी से आपको आधार कार्ड सुधार फॉर्म हासिल कर लेना है।

3: अब जब आपको आधार कार्ड सुधार (Correction) फॉर्म हासिल हो जाए तो आप आधार कार्ड में जो भी सुधार करवाना चाहते हैं अथवा जो भी सुधार करवाना चाहते हैं उसकी जानकारियों को आपको आधार कार्ड सुधार फॉर्म के अंदर दर्ज करना है।

4: सुधार वाली जानकारियों को दर्ज करने के पश्चात आपको अपनी पहचान के सत्यापन के लिए साथ में आवश्यक दस्तावेज की फोटोकॉपी को भी अटैच कर देना है। आवश्यक दस्तावेज के तौर पर आप वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस अथवा राशन कार्ड की फोटो कॉपी जमा कर सकते हैं।

5: इस प्रकार आपको आधार कार्ड सुधार फॉर्म को संबंधित डिपार्टमेंट के पास जाकर जमा कर देना है।

6: अब आधार कार्ड सेंटर के कर्मचारियों के द्वारा आपके आधार कार्ड में सुधार की प्रक्रिया स्टार्ट कर दी जाएगी और 7 से 8 दिनों में ही आप के आधार कार्ड में सुधार कर दिया जाएगा।

इसके पश्चात आप चाहे तो अपने अपडेट हुए आधार कार्ड को यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट से घर बैठे डाउनलोड कर सकते हैं।

आधार कार्ड में सुधार करवाने के लिए ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट कैसे बुक करे?

आधार कार्ड में किसी भी प्रकार का सुधार करवाने के लिए अक्सर लोगों को आधार कार्ड सेंटर के बाहर लंबी लाइनों में खड़ा होना पड़ता है और जब आपका नंबर आता है तभी आपको अंदर बुलाया जाता है, परंतु सरकार के द्वारा इस लंबी लाइन से छुटकारा देने के लिए भी सुविधा जारी कर दी गई है। 

आधार कार्ड में सुधार (Correction) करवाने के लिए आप ऑनलाइन अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं। ऑनलाइन अपॉइंटमेंट प्राप्त करने के बाद आपको निश्चित दिन निश्चित समय पर आधार कार्ड सेंटर में जाना होता है। इस प्रकार आपको लंबी लाइन में नहीं लगना पड़ता है और आपका काम जल्दी से हो जाता है।

1: आधार कार्ड में सुधार करवाने के लिए अपॉइंटमेंट बुक करने के लिए सर्वप्रथम आपको यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।

2: यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर पहुंचने के पश्चात आपको माय आधार वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।

3: अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन होगा। आपको ओपन हुए नए पेज में बुक एन अपॉइंटमेंट वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होता है।

4: अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज फिर से ओपन होगा। इस पेज में आपको नजदीकी सिटी लोकेशन का सिलेक्शन करना होता है।

5: अब आपको आधार अपडेट और नया आधार इस प्रकार के दो ऑप्शन दिखाई देते हैं जिनमें से आपको किसी एक ऑप्शन पर क्लिक करना होता है।

6: अब आपको इंटर फोन नंबर वाले बॉक्स में अपना फोन नंबर दर्ज करना होता है। उसके पश्चात आपको दिखाई दे रहे कैप्चा कोड को भी उसकी निश्चित जगह में दर्ज करना होता है और फिर आपको get otp बटन पर क्लिक करना होता है।

7: अब यूआईडीएआई के द्वारा आपके फोन नंबर पर एक ओटीपी सेंड किया जाता है।

8: आपको प्राप्त हुए ओटीपी को स्क्रीन पर दिखाई दे रहे इंटर ओटीपी बॉक्स में डालना है और verify otp बटन पर क्लिक करना है।

9: अब आपको आधार कार्ड ऑफिस में जाने का समय सिलेक्ट करना है।

इस प्रकार सारी कार्यवाही को पूरा करने के पश्चात आपको जो तारीख मिली हुई है आपको उसी तारीख पर निश्चित समय में आधार कार्ड सेंटर में जाना है और अपना काम करवाना है।

आधार कार्ड में सुधार हुआ या नहीं कैसे चेक करे?

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि आपके आधार कार्ड में सुधार हुआ है या नहीं तो इसके लिए भी आप यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं।आधिकारिक वेबसाइट के द्वारा आधार कार्ड सुधार (Correction) चेक करने की प्रक्रिया नीचे दर्शाई गई है।

1: आधार कार्ड सुधार चेक करने के लिए सबसे पहले आपको यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।

2: आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचने के पश्चात आपको माई आधार वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।

3: अब आपकी स्क्रीन पर एक लिस्ट ओपन होगी। आपको उस लिस्ट में Check enrolment & update Status वाला जो ऑप्शन दिखाई दे रहा है, उसी के ऊपर क्लिक करना है।

4: अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन हो करके आएगा। आपको ओपन हुए नए पेज में निश्चित जगह में आधार नंबर और उसके पश्चात रिक्वेस्ट नंबर दर्ज करना है।

5: इसके बाद आपको कैप्चा कोड को भी दर्ज करना है और जो submit वाला ऑप्शन दिखाई दे रहा है, उसी ऑप्शन पर आपको क्लिक कर देना है।

इतनी प्रक्रिया पूरी करने के पश्चात आधार कार्ड सुधार (Correction) की जानकारी आपको अपने डिवाइस की स्क्रीन पर दिखाई देगी।

आधार कार्ड में सुधार करवाने की फ़ीस क्या है?

आधार कार्ड में सुधार (Correction) करवाने के लिए आपको ₹50 भरने होते हैं। अगर आप ऑनलाइन सुधार करवाते हैं तो ही आपको ₹50 देने होते हैं और अगर आप नजदीकी इलाके में मौजूद आधार कार्ड सेंटर में जाकर के आधार कार्ड में सुधार करवाते हैं।

 तो इसके लिए आपको ₹150 देने की आवश्यकता होती है। हालांकि पहले यह फीस कम थी। पहले आधार कार्ड सुधार करवाने के लिए सिर्फ ₹25 ही देने पड़ते थे।

क्या आधार कार्ड जरूरी है?

अगर आप पासपोर्ट बनवाने के लिए आवेदन कर रहे हैं अथवा आप दूसरे किसी भी प्रकार के दस्तावेज जैसे कि वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, जाति प्रमाण पत्र और निवास प्रमाण पत्र इत्यादि के लिए आवेदन कर रहे हैं।

अथवा आप किसी कॉलेज में या फिर स्कूल में एडमिशन का फॉर्म भर रहे हैं या फिर आप किसी गवर्नमेंट नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हैं तो ऐसी अवस्था में आपके नाम, उम्र, ऐड्रेस, बायोमेट्रिक, फोन नंबर, फोटो इत्यादि चीजों की पुष्टि करने के लिए एक दस्तावेज का होना बहुत ही आवश्यक है।

इसी बात को देखते हुए सरकार के द्वारा भारत के सभी लोगों के लिए आधार कार्ड जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेज को लांच किया गया। आधार कार्ड का इस्तेमाल करके आपकी पहचान कंफर्म की जाती है और आप जिस चीज के लिए आवेदन कर रहे हैं उसमें आप की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाता है।

इसलिए आधार कार्ड हर भारतीय निवासी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। यहां तक कि सरकार के द्वारा अब 5 साल से छोटे बच्चों का भी आधार कार्ड बनवाने की सुविधा चालू कर दी गई है।

आप 5 साल से छोटे बच्चे का आधार कार्ड बनवाने के लिए बाल आधार कार्ड के तहत आवेदन कर सकते हैं।

बाल आधार कार्ड के अंतर्गत आपके बच्चे का बायोमेट्रिक नहीं लिया जाता है बल्कि आपके ही दस्तावेज का इस्तेमाल करके उसका आधार कार्ड बना दिया जाता है। हालांकि बाल आधार कार्ड बच्चे की उम्र 5 साल पूरी होने के बाद ऑटोमेटिक एक्सपायर हो जाता है। इसके बाद बच्चे को अपना खुद का बायोमेट्रिक देकर नया आधार कार्ड बनवाना होता है।

आधार कार्ड कहाँ बनता हैं?

पहले के समय में आधार कार्ड बनवाने के लिए आपको अपने घर से दूर जाना पड़ता था, क्योंकि जब आधार कार्ड की शुरुआत की गई थी।

तब इसे बनवाने के लिए गिने-चुने सेंटर ही सरकार के द्वारा अधिकृत किए गए थे, परंतु बाद में लोगों की बढ़ती हुई भीड़ को देखते हुए सरकार ने आधार कार्ड सेंटर में तेजी के साथ इजाफा किया।

इस प्रकार से वर्तमान के समय में आप नजदीकी आधार कार्ड सेंटर जाकर के आधार कार्ड बनवा सकते हैं। इसके अलावा आप जन सेवा केंद्र में जाकर के भी नया आधार कार्ड बनवा सकते हैं। और आधार कार्ड में सुधार (Correction) करवा सकते हैं, साथ ही साथ आप यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट को विजिट करके भी आधार कार्ड हेतु आवेदन कर सकते हैं।

आधार कार्ड का निर्माण करवाने के लिए आपके पास महत्वपूर्ण दस्तावेज उपलब्ध होने चाहिए तभी आपका आधार कार्ड बनाया जाएगा।

मुख्य तौर पर आधार कार्ड में आपका बायोमेट्रिक लिया जाता है जिसके अंतर्गत आपकी दोनों आंखों का रेटिना का स्कैन किया जाता है और आपके दसों हाथों की उंगली का फिंगर प्रिंट भी स्कैन किया जाता है।

क्या आधार कार्ड दोबारा बन सकता है?

काफी लोगों के मन में यह सवाल आता है कि क्या दोबारा से आधार कार्ड बनाया जा सकता है। ऐसे लोगों को हम बता दें कि दोबारा से आधार कार्ड बिल्कुल भी नहीं बनाया जा सकता है। यह कुछ ही कंडीशन में पॉसिबल है। जब आधार कार्ड बनाया जाता है तब उसमें आपके हाथों की दस उंगली का स्केन लिया जाता है।

इसके अलावा आपकी आंखों के रेटिना का भी स्कैन लिया जाता है और बायोमेट्रिक के आधार पर ही आधार कार्ड का निर्माण किया जाता है। इसलिए अगर आप के आधार कार्ड में कुछ गड़बड़ी है।

तो आप आधार कार्ड में सुधार (Correction) करवा सकते हैं अथवा आधार कार्ड अपडेट करवा सकते हैं परंतु आप दोबारा से आधार कार्ड बनवाने के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं। अगर किसी दुर्घटना में या फिर किसी भी अन्य वजह से आपके हाथों की उंगलियां कट गई है या फिर आपके हाथों की उंगलियां सही नहीं है अथवा जल गई है।

 तो ऐसी अवस्था में आप नजदीकी आधार कार्ड सेंटर से संपर्क स्थापित करके इसका कोई अन्य तरीका जानने का प्रयास कर सकते हैं परंतु किसी भी कंडीशन में दोबारा से आधार कार्ड नहीं बनाया जा सकता है। एक व्यक्ति का एक ही बार आधार कार्ड बनता है।

आधार कार्ड सुधार (Correction) की अवधि

जब आप आधार कार्ड में सुधार करवाने के लिए आवेदन कर देते हैं तो उसके पश्चात यूआईडीएआई के द्वारा आपके आधार कार्ड में सुधार (Correction) की प्रक्रिया शुरू कर दी जाती है। इस सुधार की प्रक्रिया को पूर्ण होने में तकरीबन 8 से 10 दिन का समय लग जाता है।

अगर बीच में बैंक हॉलिडे आ गया है तो ऐसी अवस्था में थोड़ा सा लेट और हो सकता है। इस प्रकार से मान के चलिए की आधार कार्ड में सुधार (Correction) होने में तकरीबन 10 दिन से लेकर के 15 दिन का समय लग सकता है।

आप आधार कार्ड सुधार की जानकारी प्राप्त करने के लिए यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं और आधार कार्ड सुधार स्टेटस जान सकते हैं।

आधार कार्ड में अपनी फोटो कैसे कैसे बदले?

अगर आधार कार्ड में आपकी फोटो सही नहीं है तो आप सरलता से आधार कार्ड में अपनी फोटो को चेंज करवा सकते हैं। आधार कार्ड में अपनी फोटो अपडेट करने के लिए आपको नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करना है।

1: आधार कार्ड में अपनी फोटो अपडेट करवाने के लिए सबसे पहले आपको अपने आवश्यक दस्तावेज को लेकर के नजदीकी आधार कार्ड सेंटर में अथवा जन सेवा केंद्र में जाना है।

2: आधार कार्ड सेंटर अथवा जन सेवा केंद्र में जाने के पश्चात आपको आधार कार्ड सुधार (Correction) फॉर्म हासिल करना है।

3: आधार कार्ड सुधार फॉर्म हासिल करने के पश्चात आपको इस फार्म के अंदर कुछ निश्चित जानकारियों को उनकी निश्चित जगह में दर्ज करना है।

4: सबसे पहले आपको अपने आधार कार्ड का 12 अंकों का नंबर इंटर करना है। उसके पश्चात आपको अपना खुद का नाम, इसके बाद अपने पिता का नाम, इसके बाद अपनी जन्मतिथि और तत्कालीन तारीख को भी दर्ज करना है।

5: अब अगर आपको अपनी फोटो आधार कार्ड में चेंज करनी है तो आपको फोटो वाले ऑप्शन पर टिक मार्क करना है।

6: अब आपको आधार कार्ड फोटो सुधार (Correction) फॉर्म के साथ अपने आधार कार्ड की फोटो कॉपी अटैच करना है।

7: फोटो कॉपी अटैच करने के पश्चात आपको आधार कार्ड फोटो सुधार (Correction) फॉर्म को जन सेवा केंद्र के कर्मचारी के पास अथवा आधार सेंटर के कर्मचारी के पास ही जमा कर देना है।

8: आधार फोटो सुधार फॉर्म जमा करने के पश्चात तुरंत ही जन सेवा केंद्र के कर्मचारी के द्वारा अथवा आधार सेंटर के कर्मचारी के द्वारा आपकी नई फोटो को क्लिक किया जाएगा।

9: अब आपको एक पर्ची दे दी जाएगी जिसे आपको आधार कार्ड हासिल होने तक संभाल कर रखना है।

इस प्रकार ऊपर दी गई कार्यवाही को पूरा करने के पश्चात 10 से 15 दिनों के अंदर आप के आधार कार्ड में फोटो को अपडेट कर दिया जाएगा। आप चाहे तो इसकी जानकारी आधार कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड करके भी प्राप्त कर सकते हैं।

आधार कार्ड सुधार (Correction) हेतु समर्थित भाषाएं

आप भारत की कुछ लोकल भाषाओं में भी आधार कार्ड को अपडेट करवा सकते हैं अर्थात आधार कार्ड में सुधार यानी कि सुधार (Correction) करवा सकते हैं। आप नीचे दी गई लोकल लैंग्वेज में आधार कार्ड सुधार करवा सकते हैं।

  • Assamese
  • Bengali
  • English
  • Gujarati
  • Hindi
  • Kannada
  • Malayalam
  • Marathi
  • Odia
  • Punjabi
  • Tamil
  • Telugu
  • Urdu

तो दोस्तों उम्मीद है की अब आपको आधार कार्ड सुधार (Correction) से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी अब मिल गई होगी, और आप जान गये होगे की आधार कार्ड में सुधार कैसे करे? या आधार कार्ड में ऑनलाइन करेक्शन कैसे करे?

FAQ;

आधार कार्ड में पता कितनी बार बदल सकते हैं?

आधार कार्ड में पता बदलने की कोई भी लिमिट नहीं है। हालांकि यूआईडीएआई वेबसाइट के अनुसार कोई व्यक्ति अपनी पूरी जिंदगी में सिर्फ दो बार अपने आधार कार्ड में नाम को चेंज करवा सकता है। और सिर्फ एक ही बार अपने जेंडर को चेंज करवा सकता है। इसके साथ ही साथ व्यक्ति अपनी पूरी जिंदगी में सिर्फ एक ही बार अपनी जन्मतिथि को बदल सकता है।

क्या आधार कार्ड में ऑनलाइन करेक्शन करवाया जा सकता है?

जी हां आप आधार कार्ड में ऑनलाइन करेक्शन करवा सकते हैं। ऑनलाइन करेक्शन करवाने के लिए आपके पास करेक्शन से संबंधित महत्वपूर्ण दस्तावेज उपलब्ध होने चाहिए। आपको संबंधित दस्तावेज को डिजिटल फॉर्मेट में स्कैन करके अपलोड करने की आवश्यकता होती है।

आधार कार्ड में करेक्शन करवाने के लिए क्या आवश्यक है?

यूआईडीएआई वेबसाइट के अनुसार आधार कार्ड में करेक्शन करवाने के लिए आपका फोन नंबर आप के आधार कार्ड के साथ लिंक होना चाहिए। खासतौर पर यह तब और भी आवश्यक होता है जब आप ऑनलाइन करेक्शन करवाने की प्रक्रिया करते हैं।

क्या आधार कार्ड के 12 अंकों के नंबर को भी बदला जा सकता है?

नहीं आप आधार कार्ड के 12 अंकों के नंबर को बिल्कुल भी नहीं बदल सकते हैं, क्योंकि भारत देश में जितने भी आधार कार्ड है, सब में 12 अंकों के जो नंबर है वह अलग अलग है। हर व्यक्ति के आधार कार्ड का 12 नंबर अलग-अलग होता है।

आज के इस आर्टिकल में आपने जाना है कि आधार कार्ड क्या है? आधार कार्ड में करेक्शन कैसे करें? आधार कार्ड में करेक्शन की जाने वाली जानकारी आशा है कि आप को जानकारी पसंद आई होगी।

उम्मीद है आपको आधार कार्ड में सुधार कैसे करे? इस बारे में पूरी जानकारी मिल चुकी होगी।

अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

5 COMMENTS

  1. Bhut he acchi post hai sir aapne mere bhut badi provlm solve kar de thanks.

  2. thank you sir, mere adhar card me sucessfully phone number change ho gya.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here