एटीएम क्या है? – What is ATM in Hindi


दोस्तों आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम एटीएम क्या है? – What is ATM in Hindi? एटीएम कितने प्रकार का होता है? एटीएम से पैसे कैसे निकाला जाता है? और साथ ही साथ एटीएम के लाभ क्या है? एटीएम के हानि क्या है? आदि जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे।

एटीएम क्या है? - What is ATM in Hindi

जिसके फलस्वरूप आपको एटीएम से जुड़ी हर वह जानकारी प्राप्त हो जाएगी, जो एक बैंक धारक को होनी चाहिए। अतः आपसे निवेदन है लेख में दी गई सभी जानकारियों को ध्यान से पढ़ें ताकि आपके मन में मौजूद सभी प्रश्नों का जवाब आपको मिल सके।



तो चलिए सबसे पहेले जानते हैं की आख़िर एटीएम क्या है? – What is ATM in Hindi?

Contents

एटीएम क्या है? – What is ATM in Hindi

ATM का पूरा नाम ऑटोमेटेड टेलर मशीन है। यह एक electro-mechanical स्वचालित टेलर मशीन है। जिसका उपयोग बैंक से पैसा निकालने, बैंक में पैसा जमा करने के लिए अधिकांशतः किया जाता है। 

इसके साथ ही एटीएम की मदद से आप पिन कोड चेंज करने, एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसा ट्रांसफर करने इत्यादि कार्यों को सरलतापूर्वक कर सकते हैं। आज देश भर में गांव एवम शहरों में ATM की सुविधा देखने की मिलती है, एक ATM कार्ड न सिर्फ आपको भौतिक रूप से लेनदेन के लिए सक्षम बनाता है बल्कि ATM आपको ऑनलाइन किसी के खाते में पैसा भेजने और प्राप्त करने की भी सुविधा देता है।

एटीएम कैसे कार्य करता है?

एटीएम इंटर बैंकिंग लिंकिंग के सिद्धांत पर काम करता है।, जिसके अनुसार आप सरलतापूर्वक किसी भी एटीएम से पैसे की उगाही कर सकते हैं और जमा भी कर सकते हैं वह भी बड़ी आसानी से। अब आइए जानते हैं कि 

ATM से पैसे कैसे निकाले?

  • सबसे पहले आप नजदीकी ATM मशीन पर जाएं, और एटीएम मशीन में दिए गए कार्ड स्लॉट में अपने डेबिट कार्ड को स्वाइप करिए।
  • जैसे ही आप डेबिट कार्ड को एटीएम मशीन के अंदर डालते हैं तब आपसे भाषा का चयन करने के लिए कहा जाता है।
  • आप हिंदी या इंग्लिश किसी भी भाषा का चुनाव कर सकते है, चुनने के बाद ओके का बटन दबाते हैं।
  • उसके बाद आप से 4 अंकों का पिन मांगा जाता है।

Note:- ध्यान देने योग्य बात यह है कि कोटक महिंद्रा बैंक और एक्सिस बैंक का एटीएम पिन कोड 6 अंकों का होता है।

  • जब आप चार अंको का पिन डालते हैं। तब आपके सामने कुछ विकल्प ओपन होते हैं जैसे कि Withdraw (निकासी);ऑप्शन और बैलेंस इंक्वायरी और साथ ही साथ एटीएम पिन नंबर चेंज।
  • जैसे ही आप विड्रॉ का ऑप्शन चुनते हैं तब आपके सामने अमाउंट का ऑप्शन आ जाता है।
  • आपको जितना भी अमाउंट निकालना है आप उस  अमाउंट को नीचे दिए गए numbers की सहायता से भरिए, और फिर फिलअप करने के बाद आप Next बटन दबाइए।
  • अब आपके सामने सेविंग अकाउंट, करंट अकाउंट ,रिकरिंग अकाउंट का ऑप्शन आ जाता है, तब आप इनमें से किसी भी विकल्प का चुनाव करके आप पैसे निकाल सकते हैं । यदि आपका अकाउंट सेविंग अकाउंट में है , तब आप सेविंग अकाउंट के बटन पर क्लिक करिए।
  •  जैसे ही आप सेविंग अकाउंट के बटन पर क्लिक करते हैं ।तब आपसे पूछा जाता है Do you want Receipt तब आप को Yes का बटन दबा देना है।
  • यश का बटन दबाते ही आपने जो अमाउंट फिल अप किया था ,एटीएम मशीन में। वह अमाउंट एटीएम मशीन से निकल जाएगा। आप उसको विड्रॉ कर सकते हैं, और फिर इसके बाद आपको Cancel का बटन दबा देना है। 
  • जिसके परिणाम स्वरूप आपका ट्रांजैक्शन कैंसिल हो जाएगा, इसके बाद आप पैसे नहीं निकाल पाएंगे।

ध्यान देने योग्य बात यह है कि मैंने जो उपर्युक्त वाक्य में प्रोसेस बताया है, वह प्रोसेस हर एक एटीएम में काम नहीं करता है। लेकिन सामान्यतया  प्रोसेस यही रहता है, बस कभी-कभी कुछ एटीएम में आपसे पिन नंबर मांग लिया जाता है, फिर आपको लैंग्वेज चुना रहता है।

और कभी कभी किसी एटीएम में आपसे रिसिप्ट का ऑप्शन नहीं पूछा जाता है, लेकिन जो उपर्युक्त प्रोसेस बताया गया है वह एक जेनुइन प्रोसेस है आप जिसका पालन बेधड़क कर सकते हैं।

ATM कितने प्रकार का होता है?

एटीएम वैसे तो मुख्यतः सात प्रकार का होता है।

White Label एटीएम क्या है?

जब एटीएम गैर बैंकिंग संस्थाओ के स्वामित्व से संचालित होती है। उसे व्हाइट लेबल एटीएम कहते हैं। गैर बैंकिंग संस्थाओं के उदाहरण हैं ,भारतीय औद्योगिक वित्त निगम लिमिटेड , भारतीय औद्योगिक साख और निवेश निगम लिमिटेड , भारतीय औद्योगिक विकास बैंक 

ब्राउन लेबल एटीएम क्या है?

ब्राउन लेबल एटीएम वह एटीएम होता है जब बैंकों ने एटीएम संचालन की जिम्मेदारी किसी थर्ड पार्टी को दे दी हो, एटीएम में उसी बैंक का लोगो रहता है जिस थर्ड पार्टी को यह जिम्मेदारी दी गई है।

ग्रीन लेबल एटीएम क्या है?

इस एटीएम का यूज़ एग्रीकल्चर के प्रोडक्ट के खरीद-फरोख्त के लिए इस्तेमाल किया जाता है ।

ऑरेंज लेबल एटीएम क्या है?

इस एटीएम का यूज़ शेयर की खरीद-फरोख्त के लिए किया जाता है, जैसे बांबे स्टाक एक्सचेंज का शेयर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का शेयर।

येलो लेबल एटीएम क्या है?

इस एटीएम का यूज़ ई-कॉमर्स के लिए किया जाता है जैसे कि फ्लिपकार्ट, मिंत्रा, स्नैपडील और साथ ही साथ अमेज़न और इसके साथ ही साथ एफिलिएट मार्केटिंग में भी इसका यूज होता है।

पिंक लेवल एटीएम क्या है?

इस एटीएम का यूज़ सिर्फ महिलाओं के लिए किया जाता है, क्योंकि इस एटीएम का उद्देश्य है महिलाओं को लंबी कतार से बचाना है। अर्थात महिलाओं को पुरुषों के साथ लाइन में नहीं लगना है उन्हें डायरेक्ट पिंक लेबल एटीएम में जाकर पैसे निकाल लेना है।

जो सिर्फ महिलाओं के लिए है, इस एटीएम की निगरानी या सर्विलांस एक गार्ड करता है। और साथ ही साथ इसमें सीसीटीवी कैमरा भी लगा रहता है।

बायोमेट्रिक एटीएम क्या है?

बायोमेट्रिक एटीएम के माध्यम से ग्राहक फिंगरप्रिंट स्केनर और साथ ही साथ आई स्कैनर जैसी सुविधाओं का उपयोग कर सकते है। इस Atm का उद्देश्य यह है की बैंक ग्राहकों के साथ कोई जालसाजी न कर सके।

एटीएम मशीन में प्रयोग होने कुछ इंस्ट्रूमेंट

वैसे तो एटीएम मशीन में बहुत सारे इंस्ट्रूमेंट यूज़ होते हैं लेकिन अब हम आपको कुछ ऐसे इंस्ट्रूमेंट के बारे में बताएंगे जिनका यूज़ आप जब पैसा निकालने जाते हैं तब होता है।


कार्ड रीडर क्या होता है?

जब हम सब एटीएम में अपना कार्ड स्वाइप करते है या कार्ड डालते हैं तब कार्ड रीडर के माध्यम से आपके डेबिट कार्ड के बैक साइड में मैग्नेटिक स्ट्राइप होता है। जिसमें डाटा होता है, जब आप कार्ड को स्वैप या कार्ड को एटीएम मशीन के अंदर डालते हैं तब कार्ड रीडर मैग्नेटिक स्ट्राइप के अंदर से डाटा को रीड करता है तब आगे कैश डिस्पेंसर को खाते की जानकारी देता है।

कीपैड क्या होता है?

जब हम सब एटीएम से पैसा निकालने जाते हैं। हमें पैसा निकालने के लिए दो ऑप्शन मिलता है, एक तो आप स्क्रीन टच के माध्यम से पैसा निकाल सकते हैं या आप कीपैड के माध्यम से। आप कीपैड की हेल्प से अपना पिन नंबर डाल सकते हैं, और इंटर का बदन दबा सकते हैं। और ट्रांजैक्शन को कैंसिल कर सकते हैं। यह सब कार्य कीपैड से होता है।

स्पीकर क्या होता है?

अधिकतर एटीएम मशीन में स्पीकर भी लगे रहते हैं जब आप वहां अपना कार्ड स्वैप करते हैं या एटीएम मशीन में कार्ड डालते हैं तब अंदर से आवाज आती है एटीएम मशीन कि, जिसमें वह बोलता है कि प्लीज एंटर द पिन कोड और साथ ही साथ इसके बाद बोलता है कि आप किस लैंग्वेज का यूज करना चाहते हैं।

डिस्प्ले स्क्रीन क्या होता है?

एटीएम मशीन में जो डिस्प्ले स्क्रीन होता है,  उसका कार्य धारक का नाम बताना होता है और साथ ही साथ आपके बैंक अकाउंट में शेष अमाउंट कितनी बची हुई है यह जानकारी भी आपको डिस्प्ले से प्राप्त होती है।

कैश डिस्पेंसर क्या होता है?

कैश डिस्पेंसर एटीएम का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है क्योंकि यही आपके पैसों को निकाल कर देता है। एटीएम में लगे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से कैश डिस्पेंसर उतनी अमाउंट निकाल कर देता है जितना अमाउंट आपने डाली थी।

रिसिप्ट प्रिंटर क्या होता है?

जब आप एटीएम से पैसा विड्रॉ कर लेते हैं, तब एक रिसिप्ट निकलता है। उस रिसिप्ट में आपने कितना पैसा निकाला है। और शेष कितना पैसा बचा हुआ है, साथ ही साथ आपने किस समय पैसा निकाला था। उसकी तारीख अंकित रहती है। और आपके अकाउंट का आईएफएससी कोड भी अंकित रहता है और इसके साथ ही साथ आपके अकाउंट के लास्ट के 4 डिजिट भी उस रिसिप्ट प्रिंटर में अंकित होते है।

एटीएम मशीन के लाभ 

(1) एटीएम मशीन की मदद से आप पैसा निकाल सकते हैं और पैसे को जमा भी कर सकते हैं।

(2) एटीएम मशीन की मदद से आप पैसे को एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर भी कर सकते हैं।

(3) एटीएम मशीन की मदद से आप यह भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं कि आपके बैंक अकाउंट में कितनी धनराशी बची हुई है।

(4) एटीएम मशीन के उपयोग से आप अपने इलेक्ट्रिसिटी बिल का भुगतान और वाटर बिल का भुगतान और साथ ही साथ मोबाइल का रिचार्ज भी कर सकते हैं।

(5) एटीएम का सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह आपको दिन के 24 घंटे और महीने की सातों दिन सुविधा देता है।

(6) एटीएम की मदद से आप बैंकों में लगी लंबी लाइनों से आप बच सकते हैं।

(7) एटीएम मशीन की मदद से आप अपना एटीएम का पिन कोड भी चेंज कर सकते हैं।

एटीएम से सम्बंधित रोचक फैक्ट

(1) एटीएम मशीन का आविष्कार जान शैफर्ड बैरन ने किया था।

(2) एटीएम का सबसे पहले उपयोग करने वाले ग्राहक का नाम एक्टर रेग वरने हैं।

(3) भारत में सर्वप्रथम एटीएम मशीन 1987 में स्थापित की गई थी, इस स्थापित करने वाले बैंक का नाम एचएसबीसी बैंक था।

(4) विश्व का सबसे ऊंचा एटीएम नाथुला दर्रे पर स्थित है, इस एटीएम का नाम यूनियन बैंक ऑफ इंडिया है।

(5) विश्व में सबसे पहले 27 जून 1967 को बार्कले बैंक में दुनिया का पहला एटीएम मशीन स्थापित किया गया।

(6) विश्व में भारतीय स्टेट बैंक द्वारा भारत का पहला फ्लोटिंग एटीएम स्थापित किया गया जो केरल में स्थित है।

एटीएम मशीन का यूज करने से पहले कुछ सावधानियां :

(1) यदि आप रात में एटीएम से पैसा निकालने जा रहे हैं। तब आपको अपने साथ किसी व्यक्ति को भी ले जाना चाहिए, अन्यथा आपके साथ कोई घटना घट सकती है जैसे कि कोई आप से निकाले हुए पैसे को छीन सकता है। ऐसी स्तिथि में आप कुछ नहीं कर सकते हैं इसीलिए आप रात को एटीएम से पैसा निकालते समय जरूर किसी व्यक्ति को साथ ले जाएं।

(2) जब आप एटीएम से पैसा निकालने जा रहे हैं, तब आपको एक बात यह ध्यान रखना है कि आपको एटीएम कार्ड को अपने हाथ में पकड़ कर नहीं ले जाना है। नहीं तो कोई व्यक्ति आपका पीछा कर सकता है, और आपसे पैसे छीन सकता है। आपको एटीएम कार्ड को अपनी जेब में रखना है और एटीएम कार्ड को सिर्फ एटीएम मशीन के अंदर ही निकालना है।

(3) जब आप एटीएम मशीन में अपना डेबिट कार्ड का पिन नंबर चेंज कर रहे हैं, कोशिश करें उस समय कोई व्यक्ति ना हो अन्यथा वह व्यक्ति आप का पिन नंबर जान जाएगा और आपके साथ जालसाजी भी कर सकता है।

(4) पैसा निकालने के बाद जो आपको रिसिप्ट मिलती है उस रिसिप्ट को आपको सावधानी से रखना है और आपको एक विशेष बात  यह याद रखनी है की रिसिप्ट को आपको रास्ते में नहीं फेंकना है। और ना ही एटीएम के अंदर ही फेंकना है, यदि आप उसे फेंकना चाहते हैं तो घर पर आकर उसे अपने आप डस्टबिन में डाल सकते हैं।

(5) जब आप एटीएम से पैसा निकालने जा रहे हो तब आपको एक बात यह ध्यान रखनी है कि आपको पैसा निकालने के बाद एटीएम के अंदर ही गिन लेना है। बाहर आकर नहीं गिनना है, अगर आप बाहर गिनते हैं गिनते वक्त आपसे कोई पैसा छीन भी सकता है।

आपसे अपेक्षा है कि एटीएम क्या है से संबंधित आर्टिकल आपको पसंद आएगा। यदि आर्टिकल आपको पसंद आता है तो आपसे विनम्र निवेदन है, इस आर्टिकल को अपने दोस्तों या रिश्तेदारों को व्हाट्सएप ग्रुप या फेसबुक पेज या इंस्टाग्राम के पेज पर जरूर से जरूर शेयर करें।

उम्मीद है की ATM Me Paise Kaise Dale? इस बारे में आपको पूरी जानकारी मिल गयी होगी।


अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here