Business Loan Kaise Le In Hindi 2021


Business Loan Kaise Le In Hindi 2021! अगर आपने हाल ही में एक नया स्टार्टअप शुरू किया है या फिर एक नया बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं जिसके लिए आप लोन लेना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में आप जानेंगे बिजनेस लोन कैसे लें?

Business Loan Kaise Le In Hindi 2021

दोस्त, पहले तो हम आपके बिजनेस करने की सोच को हम सलाम करते हैं क्योंकि अक्सर लोग जिंदगी मैं रिस्क लेकर बिजनेस करने की जगह नौकरी ढूंढ कर सुरक्षित चलने का रास्ता चुनते हैं।


पर अब सरकार तथा बैंक युवाओं, उद्यमियों को उनके स्टार्टअप के लिए प्रोत्साहित कर रही है, जिसके लिए उन्हें लोन भी मुहैया कराया जा रहा है।

इस लेख में हम बिजनेस लोन से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां आप तक पहुंचाने की कोशिश करेंगे। तो इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें।

Contents

बिजनेस लोन क्या है?

सरल शब्दों में बिजनेस लोन को समझें तो एक ऐसा लोन जो आपके बिजनेस की जरूरतों को पूरा करने के लिए लिया जाए वह एक बिजनेस लोन कहलाता है। एक business loan लेकर आप अपने business को स्थापित करने हेतु आवश्यक उपकरणों, मशीनों को खरीद सकते हैं और अपने बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं।

पूंजी की कमी के चलते अक्सर बिजनेस लोन लिया जाता है। जिसके उद्यमी को कुछ फायदे मिलते हैं एक तरफ कैश फ्लो बढ़ता है तो साथ ही पैसे की जो कमी थी वह भी पूरी हो जाती है। और इसके साथ-साथ आपको short और long-term के लिए पैसे जुटाने में आसानी होती है।

साथ ही बिजनेस लोन को चुकाने की भी प्रक्रिया आसान होती है तो अगर आप भी एक बिजनेस लोन लेना चाहते हैं।

Business Loan लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • Passport साइज़ फोटो
  • ID प्रूफ – आधार कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट, वोटर आई-डी, ड्राइविंग लाइसेंस
  • ऐड्रेस प्रूफ- मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, यूटिलिटी बिल, पानी बिल, बिजली बिल
  • बिज़नेस एड्रेस प्रूफ
  • पिछले 3 वर्षों से Business का प्रमाण
  • Trade लाइसेंस की कॉपी
  • सेल्स टैक्स सर्टिफिकेट
  • पार्टनरशिप डीड की सर्टि
  • 6 महीने bank स्टेटमेंट
  • 3 साल का ITR
  • बैलेंस शीट और P&L statement
  • CA से प्रमाणित व्यवसायिक दस्तावेज़

जब भी आप बिजनेस लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो उपरोक्त डाक्यूमेंट्स आपकी मदद करते हैं उस लोन को पाने में लेकिन बैंक से लोन लेना इतना भी आसान नहीं है लोन लेते समय बैंक आपकी भुगतान क्षमता, business record इत्यादि चेक करता है।

बिजनेस लोन आसानी से कैसे मंजूर कराएं?

अगर आपको बिजनेस लोन के लिए मंजूरी चाहिए तो आपको कुछ निम्न विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए बिजनेस लोन लेते समय

  • यदि आपने पहले से ही लोन लिया हुआ है तो बिजनेस लोन लेने से पूर्व लोन को चुका दें।
  • आप जिस बैंक या संस्था से लोन लेना चाहते हैं लोन लेने की एक लिखित योजना आपके पास चाहिए।
  • बैंक से लोन लेने से पूर्व बैंक की योग्यता शर्तों को चेक करना! अगर आप सभी शर्तों पर खरे उतरते हैं और आपके पास दस्तावेज हैं तभी आप अप्लाई करें।
  • आपका credit और सिबिल स्कोर 650 से 900 के बीच होना चाहिए।
  • लोन लेते समय आपको एडवांस में कुछ पैसा देने की जरूरत पड़ सकती है, तो वह रकम तैयार रखें।
  • नए व्यवसाय के लिए लोन लेना चाहते हैं तो आपको विचारों तथा प्रस्तुति पर ध्यान देना चाहिए।

तो इन कुछ बातों का ध्यान रखकर अगर आप लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो आपको लोन लेने में आसानी होगी।

बिजनेस लोन किस किस व्यक्ति को दिया जा सकता है?

यह व्यक्ति जो निम्नलिखित क्राइटेरिया के अंतर्गत आते हैं वह बिजनेस लोन ले सकते हैं।

  • कोई भी रिटेल व्यापारी
  • Self employed या businessman
  • ट्रेडर्स
  • उत्पादन करने वाले व्यापारी
  • प्रोफेशल (CA, डॉक्टर इत्यादि)

बैंक से बिज़नेस लोन लेने के फायदे?

अपनी कारोबारी जरूरतों की पूर्ति करने के अलावा बैंक लोन लेने के कई सारे फायदे होते हैं। इसलिए किसी भी व्यक्ति से उधार लेने की तुलना में बैंक का लोन आपको निम्न फायदे देता है।

ब्याज की दर फिक्स होती है

ब्याज की दर फिक्स होने का यह मतलब है कि लोन चुकाने की अवधि तक ब्याज की दरों में कोई परिवर्तन या इजाफा नहीं होगा।

लोन देने से पूर्व ही आपको यह ब्याज दर बता दी जाती है और लोन चुकाने तक यह same होती है। बता दें business loan की ब्याज दर 13 परसेंट के साथ शुरू होती है और जरूरत पड़ने पर 48 परसेंट तक बढ़ाई जा सकती हैं।

लोन राशि

लेकिन लोन की राशि अपने बिजनेस की आवश्यकता के मुताबिक कम या अधिक हो सकती है। ₹5,000 से शुरू होकर आप बैंक से ₹2 करोड़ तक का लोन ले सकते हैं।

बता दें वैसे तो लोन की राशि आवेदक की क्रेडिट प्रोफाइल पर निर्भर करती है। इसके अलावा लोन उपलब्ध कराने वाली संस्थाएं जैसे NBFC जैसी वित्तीय संस्थाएं income statement इत्यादि की भी जानकारी लेती हैं।

Security Free Loan

सामान्यतः लोन को security free माना जाता है क्योंकि बिजनेस लोन को लेते समय आप से किसी भी तरह की सिक्योरिटी नहीं मांगी जाती।

आपके पास कार, जमीन इत्यादि कोई संपत्ति है तो उसे गिरवी नहीं रखा जाता जिस वजह से निश्चिंत होकर लोग बिजनेस लोन लेते हैं

भुगतान प्रक्रिया आसान

जिसकी वजह से यह लोन बेहतर होता है, क्योंकि इसमें लोन चुकाने की प्रक्रिया आसान हो जाती है।

बैंक आपको बिजनेस लोन चुकाने के लिए 5 साल तक का समय देता है, चाहे तो एक बारी में ही भुगतान अवधि से पूर्व सारा लोन चुका सकते है। ऐसा करने पर Bank या फाइनेंसियल संस्थाएं थोड़ा अतिरिक्त शुल्क लेती हैं।

अब हम चर्चा करेंगे उन प्रश्नों की जो लोन लेते समय अक्सर लोगों के दिमाग में होते हैं.

बिजनेस लोन कैसे लें?

आप किसी भी बिजनेस लोन को ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन ले सकते हैं। बस लोन लेने से पूर्व आपको लोन का टाइम निर्धारित करना होता है। लोन के भी अलग अलग टाइप होते हैं जिनके बारे में हमने नीचे विस्तारपूर्वक जानकारी दी है।

मान लीजिए आप मुद्रा लोन लेना चाहते हैं तो देश में जो बैंक मुद्रा लोन की सुविधा देते हैं।

उनमें से आप जिस भी बैंक से यह लोन लेना चाहते हैं यह डिसाइड करने के बाद आपको ऑनलाइन मुद्रा लोन लेने के लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

Online Business Loan Kaise Le?

  • सबसे पहले आपको बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। और यहां से लोन के लिए फॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड करें।
  • डाउनलोड करने के बाद उस फार्म में सभी जानकारियों को सही सही भरें।
  • उसके बाद उस बैंक की नजदीकी शाखा पर विजिट करें।
  • फार्म को देखने के बाद बैंक द्वारा बताई गई फोन की सभी प्रक्रियाओं को पूरा करें।
  • सब कुछ सही होने के बाद बैंक द्वारा आपका लोन पास कर दिया जाएगा।

दोस्तों इतना आसान होता है ऑनलाइन लोन लेना, इसके अलावा अगर आप ऑफलाइन नजदीकी शाखा से लोन लेना अधिक सुविधाजनक समझते हैं तो आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

Bank Se Offline Business Loan Kaise Le?

  • अपने नजदीकी प्राइवेट या पब्लिक सेक्टर के बैंक में जाएं जहां से आप बिजनेस हेतु लोन लेना चाहते हैं।
  • अब बैंक को अपना बिजनेस प्लान बताएं
  • उसके बाद दी गई लोन एप्लीकेशन फॉर्म को भरें।
  • अब इस एप्लीकेशन फॉर्म को भरने के साथ-साथ सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट पहचान पत्र, कंपनी का पता, प्रमाण पत्र इत्यादि सभी डॉक्यूमेंट को अटैच करें।
  • फ़िर बैंक द्वारा बताई गई सभी औपचारिकताओं को पूरा करें।
  • आपके द्वारा बताए इन सभी डाक्यूमेंट्स को वेरीफाई करने के बाद यह लोन पास हो जाएगा।

कंपनी द्वारा लोन की रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली जाती है तो उसके बाद में निश्चित समयावधि में आपके बैंक खाते में लोन की राशि भेज दी जाएगी।

बिजनेस लोन के प्रकार?

बिजनेस में पूंजी की आवश्यकता के आधार पर अलग-अलग बिजनेस लोन हैं जिनमें से कुछ प्रमुख बिजनेस लोन टाइप निम्नलिखित हैं।


Invoice Discounting

Business की होने वाली बिक्री के आधार पर दिया जाने वाला लोन इनवॉइस डिस्काउंटिंग कहलाता है। इसमें एक बैंक किसी बिजनेस की बिक्री कि 1 साल या पिछले 6 महीने के अंदर हुई बिक्री को इनवॉइस के चेक करके उसी आधार पर लोन देता है।

स्वरोजगार के लिए लोन

वे लोग जो अपना खुद का बिजनेस शुरू कर रहे हैं या वे उद्यमी जो अपना नया बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं वह इस लोन के लिए सबसे अधिक आवेदन करते हैं।

इस लोन को पाने हेतु आवेदक की credit profile check की जाती है, इस लोन के तहत आवेदक को 50,000 से लेकर 2 करोड तक का मुद्रा लोन में दी जा सकती है।

मुद्रा लोन

लोन का यह प्रकार बाकी अन्य से अलग है क्योंकि मुद्रा एक सरकारी एजेंसी है जिसके माध्यम से सरकार छोटे व्यापारियों को लोन की सुविधा देती है।

जिसके तहत छोटे व्यापारियों को ₹50,000 से लेकर 10 लाख तक की लोन राशि मुद्रा एजेंसी द्वारा दी जाती है। इस लोन को उपलब्ध कराने के पीछे सरकार का अहम उद्देश्य उद्यमियों तथा मौजूदा मालिक व्यवसाय को उचित फंड देना है।

ओवरड्राफ्ट

ओवरड्राफ्ट भी बैंक के लोन का एक प्रकार है जिसमें आप बैंक से तब पैसा निकाल सकते हैं जब आपके बैंक खाते में बैलेंस ना हो!

इस लोन को एक व्यापारी तब आवेदन जब कर सकता है जब अचानक पैसे की जरूरत होती है। लेकिन आप असीमित मात्रा में ओवरड्राफ्ट के जरिए पैसे नहीं निकाल सकते इसकी एक फिक्स सीमा होती है जरूरत पड़ने पर काम आने वाली यह राशि ओवरड्राफ्ट कहलाती है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना

लोन की योजना को PMMY भी कहा जाता है जिसे भारत सरकार द्वारा छोटे उद्यमी बिजनेस करने हेतु प्रोत्साहित किया जाता है इस लोन के तहत सरकार गैर कॉर्पोरेट कंपनियों को ₹1000000 तक का लोन देती है।

यह लोन देश के प्राइवेट सेक्टर, सार्वजनिक क्षेत्र तथा ग्रामीण बैंकों द्वारा उपलब्ध कराया जाता है।


Term लोन

एक निश्चित अवधि के लिए दिया जाने वाला लोन टर्म लोन कहा लाता है। short term, mid term और long term लोन के यह सभी प्रकार term loan के तहत आते है। Short term का कार्यकाल जहां 12 महीने तक होता है। वही Long Term 5 साल तक के लिए होता है।

इसके अलावा इस लोन से जुड़ी एक महत्वपूर्ण बात यह है कि इसमें लोन को 2 कैटेगरी में विभाजित किया जाता है। सिक्योर लोन और एक अनसिक्योर्ड लोन जो सिक्योर लोन होता है उसमें आपकी कार इत्यादि कोई कीमती वस्तु आपके लोन के आधार पर आपसे गिरवी ले ली जाती है।

इसमें ब्याज की दरें अनसिक्योर्ड लोन की तुलना में कम होती हैं वहीं दूसरी तरफ Unsecure लोन होता है इसमें ब्याज की दर अधिक होती है लेकिन कोई भी सिक्योरिटी जमा करने की आवश्यकता नहीं होती।

Stand UP India

Loan का यह टाइप उन लोगों के लिए है जो SC/ एसटी वर्ग से आते हैं या फिर जो महिलाएं हैं। भारत सरकार द्वारा शुरू की गई इस बिजनेस लोन योजना के तहत कोई भी महिला या sc-st आवेदक बैंक की किसी भी शाखा से 10 लाख से लेकर 1 करोड रुपए तक का लोन ले सकता है।

लोन के इन मुख्य प्रकारों के अलावा वर्किंग कैपिटल लोन भी बिजनेस लोन का एक प्रकार है जो उद्यमियों को उनके बिजनेस के दैनिक खर्च जुटाने में उनकी मदद करना शामिल है। इसके अलावा बैंक महिलाओं को भी बिजनेस हेतु प्रोत्साहित करने के लिए लोन की सुविधाएं देते हैं।

  • महिला उघम निधि योजना
  • महिला समृद्धि योजना
  • सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया कल्याणी योजना

यह सभी योजनाएं महिलाओं को बिजनेस हेतु प्रोत्साहित करती है।

बिजनेस लोन से जुड़े कुछ FAQs

बिजनेस लोन लेने के लिए कम से कम कितनी उम्र होनी चाहिए?

अगर आपकी उम्र कम से कम 18 वर्ष या इससे अधिक है तो आप बिजनेस लोन लेने के लिए योग्य हैं।

बिजनेस लोन लेने की न्यूनतम और अधिकतम राशि कितनी होती है?

आप कम से काम 5000 रुपए अपने बिजनेस के लिए लोन में ले सकते हैं। जबकि अधिकतम राशि 2 करोड़ तक होती है लेकिन अधिकतम राशि पाने के लिए बैंक, फाइनेंसियल संस्थान के नियम शर्तों पर खरा उतरना जरूरी है

बिजनेस लोन लेने के लिए अधिकतम आयु कितनी होनी चाहिए?

Business loan लेने हेतु व्यक्ति की आयु 65 वर्ष होती है।

क्या बैंक लोन लेने के लिए कोई सिक्योरिटी जमा करनी जरूरी होती है?

जब आप किसी भी बैंक या संस्थान से लोन हेतु आवेदन करते हैं तो आपको किसी तरह की सिक्योरिटी जमा करने की जरूरत नहीं होती

लोन चुकाने की न्यूनतम अवधि कितनी होती है?

यह अवधि कम से कम 12 महीने होती है तथा अधिकतम 5 साल तक बढ़ाई जा सकती है।

तो दोस्तों उम्मीद है की अब आपको बिजनेस लोन से जुड़ी पूरी जानकारी मिल चुकी होगी, और आप जान गये होगे की Business Loan Kaise Le In Hindi?

यह भी पढ़े:

Hope की आपको Business Loan Kaise Le In Hindi 2021? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।

अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.


 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here