Computer Basic Knowledge In Hindi (कंप्यूटर की बेसिक जानकारी)


Computer Basic Knowledge In Hindi (कंप्यूटर की बेसिक जानकारी) चाहे आपको यूट्यूब पर कोई वीडियो देखना हो या फिर किसी वायरल वीडियो के बारे में जानकारी हासिल करनी हो अथवा आपको ऑनलाइन समाचार पढ़ना हो, अगर आप कंप्यूटर अपने घर में रखते हैं तो आप आसानी से कंप्यूटर पर यह सभी काम कर सकते हैं। कंप्यूटर की उपयोगिता को देखते हुए अब इंडिया के अधिकतर घरों में कंप्यूटर आसानी से प्राप्त हो जा रहा है।


Computer Basic Knowledge In Hindi (कंप्यूटर की बेसिक जानकारी)

Computer की जितनी तारीफ की जाए उतनी ही कम है। इसके द्वारा हमारे काम काफी आसान हो गए हैं। कंप्यूटर की वजह से ही विद्यार्थी अपने एग्जाम के रिजल्ट ऑनलाइन देख सकते हैं, एग्जाम के फॉर्म को भर सकते हैं, नौकरी के फॉर्म भर सकते हैं। इसके अलावा अन्य कई कामों के लिए कंप्यूटर इस्तेमाल किया जाता है।


तो चलिए अब देखते हैं कंप्यूटर की कुछ बेसिक जानकारियाँ। (Computer Basic Knowledge In Hindi)

Computer Basic Knowledge In Hindi

कंप्यूटर एक ऐसी मशीन है जिसके बारे में हर कोई थोड़ी बहुत जानकारी अवश्य रखता है परंतु कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें सिर्फ यही पता होता है कि computer पर हम गेम खेल सकते हैं, वीडियो देख सकते हैं परंतु उन्हें कंप्यूटर की बेसिक जानकारी पता नहीं होती है। इसलिए इस आर्टिकल में हमने कंप्यूटर की बेसिक जानकारी देने का प्रयास किया है।

कंप्यूटर क्या है?

विभिन्न प्रकारों के कामों के लिए इस्तेमाल की जाने वाली कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है। कंप्यूटर अलग-अलग प्रकार के उपकरणों से मिलकर बना हुआ होता है अर्थात कई उपकरणों को असेंबल करके कंप्यूटर तैयार किया जाता है। 

कंप्यूटर में डाटा इनपुट करने के लिए जिन डिवाइस का इस्तेमाल होता है उन्हें इनपुट डिवाइस कहते हैं और आउटपुट के जरिए जो डाटा प्रदर्शित होता है उसे आउटपुट डिवाइस कहते हैं। कंप्यूटर का डिस्प्ले, माउस, कीबोर्ड, मदरबोर्ड, सीपीयू सभी कंप्यूटर के महत्वपूर्ण भाग है।

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर भी कंप्यूटर के महत्वपूर्ण अंग है। कंप्यूटर का सॉफ्टवेयर एक ऐसी चीज होती है जिसे ना तो हम टच कर सकते हैं ना ही हम सॉफ्टवेयर को देख सकते हैं और कंप्यूटर के हार्डवेयर ऐसे भाग होते हैं जिसे हम देख भी सकते हैं और टच भी कर सकते हैं।

ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है?

यह एक प्रकार का ऐसा इंस्ट्रक्शन या फिर प्रोग्राम होता है जिसकी सहायता से हम स्पेसिफिक वर्क कंप्यूटर के द्वारा करवा सकते हैं। जैसे की माइक्रोसॉफ्ट वर्ड, माइक्रोसॉफ्ट एक्सल, क्रोम इत्यादि।

इनपुट डिवाइस क्या है?

इनपुट का अर्थ ऐसा डाटा या फिर इंस्ट्रक्शन जो कंप्यूटर को दिया जाता है। कंप्यूटर को जब हमें कोई इनपुट देना होता है तो उसके लिए इनपुट डिवाइस का इस्तेमाल किया जाता है। इनपुट डिवाइस की लिस्ट में माइक्रोफोन, कीबोर्ड, माउस, स्केनर, जॉय स्टिक, लाइट पेन, बारकोड रीडर इत्यादि आते हैं।

आउटपुट डिवाइस क्या है?

यह भी कंप्यूटर हार्डवेयर का एक भाग होते हैं, जो कंप्यूटर से डाटा हासिल करते हैं और फिर हासिल हुए डाटा को दूसरे रूप में कन्वर्ट कर देते हैं। जो डाटा कन्वर्ट किया जाता है वह ऑडियो, टेक्स्टुअल, विजुअल या फिर हार्ड कॉपी जैसे प्रिंटेड डॉक्यूमेंट में हो सकता हैं।

इनपुट डिवाइस और आउटपुट डिवाइस में मुख्य डिफरेंस यह होता है कि जो इनपुट डिवाइस होता है वह कंप्यूटर को डाटा सेंड करता है, वहीं दूसरी तरफ आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर से डाटा हासिल करता है।

कंप्यूटर का उपयोग क्या है?

कंप्यूटर का उपयोग ऑफिस में भी किया जा रहा है साथ ही घर में भी किया जा रहा है। इसके अलावा स्कूल, बैंक और मल्टीनेशनल कंपनी में भी इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। 

कंप्यूटर के जरिए ईमेल भेज सकते हैं, इंटरनेट चला सकते हैं, वीडियो देख सकते हैं, किसी भी प्रकार की जानकारी निकाल सकते हैं, ऑनलाइन बिजनेस कर सकते हैं, गवर्नमेंट नौकरी के लिए अप्लाई भी कर सकते हैं। एक प्रकार से देखा जाए तो आज के समय में कंप्यूटर की उपयोगिता इंसानों की जिंदगी में काफी अधिक हो गई है।

कंप्यूटर के प्रकार क्या है?

कार्य के अनुसार देखा जाए तो कंप्यूटर के तीन प्रकार है। डिजिटल कंप्यूटर, एनालॉग कंप्यूटर और हाइब्रिड कंप्यूटर और डिजिटल कंप्यूटर के टोटल पांच प्रकार है। जैसे कि ग्रिड कंप्यूटर, सुपरकंप्यूटर, मेनफ्रेम कंप्यूटर, मिनी कंप्यूटर, माइक्रो कंप्यूटर। 

जिस कंप्यूटर का इस्तेमाल हम करते हैं वह माइक्रो कंप्यूटर होता है, जिसके टोटल 6 प्रकार हैं। डेस्कटॉप कंप्यूटर,लैपटॉप कंप्यूटर, पालमटोप कंप्यूटर, नोटबुक कंप्यूटर, होम कंप्यूटर।


सॉफ्टवेयर क्या है?

सॉफ्टवेयर एक ऐसा प्रोग्राम है जो कंप्यूटर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। अगर किसी कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर नहीं डाला जाता है तो वह कंप्यूटर सिर्फ एक डब्बा ही होता है। वह कंप्यूटर किसी काम का नहीं होता है क्योंकि कंप्यूटर को काम करने के लिए सॉफ्टवेयर की सबसे ज्यादा डिमांड होती है। 

सॉफ्टवेयर एक प्रकार का इंस्ट्रक्शन होता है जिसमें कंप्यूटर को काम करने से संबंधित सभी बातों को शामिल किया जाता है।

सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या है?

सिस्टम सॉफ्टवेयर ऐसा सॉफ्टवेयर होता है जो यूज़र को कंप्यूटर में ऐसा माहौल देता है ताकि यूजर आसानी के साथ कंप्यूटर को ऑपरेट कर सके। सिस्टम सॉफ्टवेयर का कार्य कंप्यूटर के हार्डवेयर को मैनेज करना, साथ ही साथ एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को भी मैनेज करना और उनसे काम करवाना होता है। 

सिस्टम सॉफ्टवेयर में कई प्रोग्राम और सॉफ्टवेयर के ग्रुप होते हैं। सिस्टम सॉफ्टवेयर के टोटल 4 तरीके होते हैं। ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर, यूटिलिटी सॉफ्टवेयर, ट्रांसलेटर सॉफ्टवेयर और ग्राफिकल यूजर इंटरफेस सॉफ्टवेयर।

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर क्या है?

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का निर्माण मुख्य तौर पर यूजर की परेशानियों को दूर करने के लिए किया जाता है। एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर एंड यूजर होते हैं जो डायरेक्ट यूजर को ही इंटरफेस देते हैं। एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को आवश्यकता के हिसाब से डाला और निकाला जा सकता है। 

यानी की जब चाहे तब कंप्यूटर में इंस्टॉल कर सकते हैं और काम हो जाने के बाद जब चाहे तब कंप्यूटर से बाहर भी निकाल सकते हैं। एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, म्यूजिक प्लेयर होते हैं। इसके भी टोटल 2 प्रकार होते हैं जिसमें पहला होता है पैकेजेस सॉफ्टवेयर और दूसरा होता है कस्टमाइज सॉफ्टवेयर।

कंप्यूटर लैंग्वेज क्या है?

जब कंप्यूटर एप्लीकेशन को बनाया जाता है तब एप्लीकेशन का निर्माण करने के लिए अलग-अलग प्रकार की लैंग्वेज का इस्तेमाल किया जाता है। उन्ही लैंग्वेज को कंप्यूटर लैंग्वेज कहते हैं। कंप्यूटर लैंग्वेज को सिर्फ कंप्यूटर ही समझ सकता है। 

कंप्यूटर लैंग्वेज में machine language, Assembly Language, High level language, COBOL, Basic, Pascal, FORTRAN, C, C++, Java, Algol, Mathematica, Python शामिल है।

सीपीयू क्या है?

इसका पूरा नाम सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट होता है और संक्षेप में इसे सीपीयू कहते हैं जो कि कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है। कंप्यूटर को हम जो भी दिशा निर्देश देते हैं उसे पूर्ण करने का काम सीपीयू ही करता है और यह कंप्यूटर के काफी मुश्किल काम को आसान बना देता है। यही वजह है कि कंप्यूटर का दिमाग सीपीयू को कहा जाता है।

HDD क्या है?

इसका पूरा नाम हार्ड डिस्क ड्राइव होता है और इसमें कंप्यूटर का डाटा स्टोर होता है अर्थात कहने का मतलब है कि कंप्यूटर के अंदर जो वीडियो, ऑडियो, फोटो, दस्तावेज सेव होते हैं वह हार्ड डिस्क ड्राइव में ही सेव होते हैं। 

इसके अलावा कंप्यूटर में जो विंडोज इंस्टॉल होती है, वह भी हार्ड डिस्क ड्राइव में ही इंस्टॉल होती है। सबसे पहली बार हार्ड डिस्क ड्राइव का निर्माण आईबीएम कंपनी के द्वारा साल 1957 में किया गया था।

रैम क्या है?

इसका पूरा नाम रैंडम एक्सेस मेमोरी होता है, जो कि एक प्रकार का स्टोरेज ही होता है। हालांकि आपके जो भी डाटा होते हैं वह इसमें सिर्फ कुछ समय के लिए ही सेव होते हैं और जैसे ही आप अपने स्मार्टफोन को पावर ऑफ करते हैं या फिर अपने कंप्यूटर को बंद कर देते हैं वैसे ही इसके अंदर जो डाटा होता है वह चला जाता है।

रोम क्या है?

इसका पूरा नाम रीड ओनली मेमोरी होता है और रोम की तरह इसमें जो डाटा होता है वह ऑटोमेटिक नहीं चला जाता। यानी की अगर आप अपने स्मार्टफोन को बंद करते हैं या फिर अपने कंप्यूटर को भी बंद कर देते हैं तो भी रोम के अंदर जो डाटा होता है वह डिलीट नहीं होता है।

डीवीडी क्या है?

डीवीडी का पूरा नाम डिजिटल वीडियो डिस्क होता है और यह एक प्रकार की मेमोरी होती है जिसके अंदर वीडियो, फोटो या फिर दस्तावेज सेव होते हैं। डीवीडी को आप कंप्यूटर में चला सकते हैं।

मदर बोर्ड क्या है?

इसे मेनबोर्ड भी कहा जाता है और यह कंप्यूटर में तो होता ही है साथ ही दूसरे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में भी पाया जाता है।

कीबोर्ड क्या है?

यह कंप्यूटर के लिए बहुत ही जरूरी चीज मानी जाती है। कंप्यूटर में किसी भी प्रकार के डाटा को इंटर करने के लिए कीबोर्ड का इस्तेमाल किया जाता है। यहां तक कि टाइपिंग करने के लिए भी कीबोर्ड का इस्तेमाल किया जाता है। कीबोर्ड के अंदर अलग-अलग प्रकार की बटन होती है जिसका इस्तेमाल अलग अलग होता है।

कीबोर्ड क्या है?

माउस क्या है?

दिखाई देने में यह चूहे जैसा दिखाई देता है। इसलिए इसे माउस का नाम दिया गया है। यह कंप्यूटर का इनपुट डिवाइस होता है। इसमें 1 से 2 बटन होती है जिसके जरिए कंप्यूटर पर क्लिकिंग का काम किया जाता है।

हमने इस आर्टिकल के द्वारा आपको Computer Basic Knowledge In Hindi (कंप्यूटर की बेसिक जानकारी) के बारे में जानकारी दी है।

FAQ

कंप्यूटर बेसिक नॉलेज क्या है?

कंप्यूटर की बेसिक जानकारी आर्टिकल में दी गई है।

कंप्यूटर के 4 प्रकार क्या हैं?

सुपरकंप्यूटर, मेनफ्रेम कंप्यूटर, मिनी कंप्यूटर, माइक्रो कंप्यूटर।

उम्मीद है कि आपको Computer Basic Knowledge In Hindi (कंप्यूटर की बेसिक जानकारी) का यह पोस्ट पसंद आया होगा और हेल्पफुल लगा होगा अगर आपका कंप्यूटर की बेसिक जानकारी से related कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट मे पूछ सकते है।


अगर आपके पास कोई सवाल है, तो आप नीचे कमेंट में पूछ सकते हो. और अगर आपको यह पोस्ट हेल्पफुल लगा हो तो इसको सोशल मीडिया पर अपने अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here