GPS क्या है और कैसे काम करता है – What Is GPS In Hindi

15

GPS का नाम तो आप सब ने सुना ही होगा, अगर अप GPS के बारे में डिटेल से जानना चाहते हो तो आज इस पोस्ट में हम जानिंगे की GPS क्या है और कैसे काम करता है? कब बना और किसने बनाया? फ़ायदे और उपयोग? कैसे काम करता है? gps full form in hindi, gps history and all about gps in hindi?

आज हम लोग बात करेंगे जीपीएस सिस्टम के बारे में तो आखिरकार यह जीपीएस क्या है। तो चलिए बिना समय गवाएं इस आर्टिकल को हम लोग आगे ले चलते हैं। जाब आप कभी गारी पर किसी अनजान जगा पर जाते हैं तब आप कभी ना कभी तो GPS प्रयोग तो क्या ही होगा। तो क्या आप जानते है GPS क्या है? GPS का पूरा नाम क्या है? और इसके किसने बनाया है। और GPS कैसे काम करता है? (What Is GPS In Hindi)


दोस्तों अगर आप लोग GPS के बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अब तक पर। इस आर्टिकल पर हम लोग DETAIL में बात करेंगे GPS को लेकर। अभी के टाइम पर आप लोग कभी ना कभी तो जीपीएस का प्रयोग किए होंगे आखिरकार के कैसे यह जीपीएस काम करता है और इसका पूरा नाम क्या है वही आज हम लोग जानेंगे।

GPS क्या है – What Is GPS In Hindi

GPS (Global Positioning System) एक satellite-based global navigation system है। जिसका इस्तेमाल mostly location पता करने के लिए क्या जाता है। GPS system owned by the United States government और जिसको US Air Force operate करता है।

GPS Ka Pura Naam Kya Hai?

दोस्तों आप लोग कभी ना कभी तो GPS का उपयोग किए ही होंगे। क्या आप GPS का पूरा नाम जानते हैं। अगर आप GPS  का पूरा नाम नहीं जानते तो कोई बात नहीं। मैं आपको बताऊंगा कि GPS का पूरा नाम क्या है । GPS का पूरा नाम “global positioning system” है।

अभी के समय पर हम सभी जागो पर gps देखने को मिलता है like: mobile, smart watches, car, bike, cycle sabhi चिसो पर हमें अभी time gps लागा हुआ रहेता है जो कि बोहोत ही काम का है। gps मतलब कि global positioning system का और एक नामी है जो कि आपलोग नहीं जानते उसका और एक नाम है लव स्तर जो की बोहोत सारा लोग नहीं जानते ।

GPS Full Form In Hindi

Global Positioning System

Some Unknown Facts About GPS In Hindi

दोस्तों बहुत कुछ ऐसा है जो कि आप लोग gps के बारे में नहीं जानते है  मैं  आज आप लोगों को उसी के बारे में ही बताऊंगा।

GPS का जो नाम है GLOBAL POSITIONING SYSTEM पर उसका और एक नाम है लव स्तर में जनता हूं आप में से कोई ना कोई तो जानते ही थे इसका पूरा नाम।

जीपीएस डिवाइस पहले UNITED STATES OF AMERICA में ही बनाया गाया था इसको us army इस्तेमाल करता था डस्मन का location track करने के लिए। अमेरिका के मिलिट्री ने इस gps का इस्तेमाल करके बहुत दुश्मनों के जान लिए हैं ।

अमेरिका के आर्मी बहुत ही आसानी से जीपीएस का उपयोग करके उनके दुश्मनों को मार देते थे। पहले टाइम पर सिर्फ यूएस के आर्मी ही जीपीएस का उपयोग करते थे और कोई जीपीएस इस्तेमाल भी नहीं कर सकता था।

अभी के टाइम पर जैसे सभी लोग GPS को इस्तेमाल करते हैं पर जब जीपीएस नया-नया आया था तब सिर्फ यूएस का मिलिट्री लोग ही जीपीएस का इस्तेमाल कर सकते थे । 1 दिन कुछ ऐसा घटना घटा जो कि पूरे जीपीएस को ही ग्लोबली इस्तेमाल करने लायक बाना दिया ।

1 दिन यूएसए मिलिट्री जीपीएस पर देखा कि ऊपर से कुछ जा रहा है उन लोगों को लगा कि वह दुश्मन का प्लेन है तब वह लोग उस प्लेन को blast कर दिया । तब जाना गया कि वह प्लेन किसी दुश्मन का नहीं वह usa का ही प्लान है ।

उस प्लेन पर 200 72 लोग बैठे हुए थे वह सभी लोगों के मरने के कारण यूएसए के प्रेसिडेंट ने काहा कि GPS के सिस्टम को साभि जगे पर लागा ना चाहिए तो usa ने 28 स्टतालाइट launch क्या और सभी देश में हमें उस घटना के वाजे से gps  के देखने के मिले।

GPS मोबाइल में कैसे काम करता है?

2000 साल के बाद से ही जीपीएस नेटवर्क का परफॉर्मेंस बहुत अच्छा हुआ है । 78 सेटेलाइट अभी तक महाकाश में उपलब्ध है पर सिर्फ उनमें से 33 सैटेलाइट ही अवेलेबल है और एक्टिवेट भी है। 1978 में जब सेटेलाइट यूएसए के तरफ से लांच हुआ था तब उसका नेटवर्क परफॉर्मेंस अच्छा नहीं था पर 2000 साल के बाद इंप्रूवमेंट के बाद बहुत ही अच्छा हो गया हमारा यह जीपीएस network सिस्टम ।

अभी हम बात करेंगे कि कैसे GPS हमारे मोबाइल पर काम करता है। हम लोग जो भी Device या फिर जंत्र इस्तेमाल करते हैं उनमें जीपीएस रिसीवर लगा हुआ रहता है जब भी सेटेलाइट कुछ भेजता है वह वह हमारे डिवाइस पर लगा हुआ जीपीएस रिसीवर से उसको रिसीव करता है और हम accurate location दिखा पाते हैं ।

अभी के समय पर हम लोग जीपीएस का उपयोग करके कोई भी अनजान जगह पर जा सकते हैं और अगर हम लोग कोई भी अनजान जगह पर फस जाते हैं तब हम लोग जीपीएस के उपयोग से वहां से निकल सकते हैं। पृथ्वी से 22180 किलोमीटर ऊपर जीपीएस सैटेलाइट लगा हुआ रहता है अपने ऑर्बिट पर। हमारे पूरे पृथ्वी को कवर करने के लिए टोटल 24 सैटेलाइट यानी कि जीपीएस का इस्तेमाल होता है ।

जीपीएस सैटेलाइट जब रिसीवर को सिग्नल को रिसीव करता है तब वह उसका एग्जैक्ट लोकेशन तो पता करता ही है साथ में यह भी बताता है कि वहां पर पहुंचने में कितना टाइम लगेगा।

Some Interesting Facts About GPS In Hindi

दोस्तों जीपीएस के बारे में बहुत ऐसा कुछ बात है जो कि आप लोग नहीं जानते तो आज मैं उनमें से सभी बातों को तो नहीं पर कुछ बातों के बारे में बात करूंगा । जीपीएस का सेटेलाइट समय में और गणना में कोई भी भूल नहीं करता । जीपीएस सैटेलाइट हर वक्त सही गणना और सही समय बताता है । जीपीएस सेटेलाइट में जो घरी इस्तेमाल क्या जाता है वह होता है एक खास तरीके का घरी जोकि है atomic clock

एटॉमिक क्लॉक एक ऐसा घड़ी है जो कि करोड़ों साल तक सही रहता है और यह कभी भी गलत समय नहीं बताता और इसका खराब हो जाने का chances भी बहुत ही कम रहता है । यह क्लॉक एक ऐसा घर ही है जो कि कभी भी खराब नहीं होता है इसीलिए जीपीएस के सेटेलाइट में इस घड़ी का उपयोग क्या गया है । जब भी कोई जीपीएस सैटेलाइट रिसीवर को कोई फाइल प्रदान करता है या फिर लेता है उस समय को ट्राई लिटरेशन कहा जाता है । अगर आप लोगों के मन में जीपीएस को लेकर कोई प्रश्न है वह आप लोग हमें कमेंट में कर सकते हैं ।

एक चीज है जो कि आप लोग जीपीएस के बारे में सुनकर चमत्कारिक हो जाएंगे । जीपीएस सिस्टम एनालॉग सिस्टम पर बहुत ही धीरे काम करता है पर अभी के टाइम पर जो हम लोग स्मार्ट फोन यूज़ करते हैं उस पर जीपीएस बहुत ही जल्दी काम करता है यह कैसे काम करता है वह भी मैं आपको बताऊंगा ।


हमारा मोबाइल पर जो जीपीएस काम करता है वह बेसिकली A-GPS  होता है । ए जीपीएस क्या करता है ए जीपीएस उसका सरवर से पता लगा लेता है कि अभी वह किस लोकेशन पर है इसीलिए A-GPS यानी कि हमारा मोबाइल पर लगा हुआ जीपीएस बहुत ही अच्छा काम करता है किसी अननोन डिवाइस के मुकाबले।

GPS का इतिहास – History Of GPS In Hindi

1978 में पहला जीपीएस सिस्टम लॉन्च हुआ था। तभी के टाइम पर जो जीपीएस सिस्टम लांच क्या गया था वह अभी के मुकाबले उतना अच्छा तो काम नहीं करता था पर काम ठीक ठाक करता था।

1978 में जीपीएस सिस्टम को पब्लिकली  इस्तेमाल नहीं कर सकता था । टोपी के टाइम पर जीपीएस को सिर्फ अमेरिका मिलिट्री ही इस्तेमाल करते थे । earth से 20,180 किलोमीटर की दूरी पर अवस्थित है। 

GPS के फ़ायदे – Advantages Of GPS In Hindi

दोस्तों अभी हम लोग जीपीएस के कुछ सुविधा के बारे में बात करेंगे ।

1. Cheap

GPS का जो मूल्य है बहुत ही कम है अन्य डिवाइसों के मुकाबले अभी के टाइम पर हम लोगों को सस्ते फोन से लेकर बहुत महंगे फोन में भी जीपीएस देखने को मिलता है यह एक बहुत ही अच्छा बात है कि साधारण ग्राहक भी इस जीपीएस को इस्तेमाल कर पाएंगे ।

2. Easy to Use

जीपीएस को इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है कोई भी जीपीएस को बिना कोई प्रॉब्लम के इस्तेमाल कर सकता है जीपीएस को इस्तेमाल करने का प्रोसेस भी बहुत ही आसान है । जीपीएस को इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है इसको कोई बच्चा भी बहुत ही आसानी से इस्तेमाल कर पाएगा ।

3. Safety

आप लोग जब जीपीएस को इस्तेमाल करते हैं यह आपको बहुत सारे सुरक्षा भी प्रदान करता है अगर आप लोग किसी जगह पर फस गए हो और आपके पास आपका मोबाइल है आप आपको कोई भी जीपीएस के माध्यम से आपको ढूंढ पाएगा । सिर्फ यही नहीं अगर आपका फोन कहीं भूल गया है या फिर आपका फोन चोरी हो गया है तब जीपीएस के माध्यम से आपका फोन को बहुत जल्द ही ढूंढा जा सकता है ।

4. Military Usage

ज्यादा तौर पर जीपीएस को इस्तेमाल करता है आर्मी लोग मिलिट्री में जीपीएस का बहुत उपयोग है इसको इस्तेमाल करके ही । आर्मी लोग  उनका दुश्मन को लोकेशन को ट्रैक करता है। जो पहले जीपीएस लांच हुआ था तब सिर्फ मिलिट्री लोग ही इसको इस्तेमाल करते थे पर उसके बाद धीरे-धीरे यह बहुत ही प्रचलित होने लगा और सभी मोबाइल और सभी यूजर्स के लिए यह मिलना चालू हुआ ।

5. Earthquake

देश पर किसी भी जगह अगर अर्थक्वेक होता है तो जीपीएस के माध्यम से बहुत जल्द ही यह पता चल जाता है ।

यही था कुछ सुविधा जीपीएस का आशा करता हूं कि यह सुविधा आप लोगों को बहुत ही सुविधा प्रदान करेगा और अगर आप लोगों क जीपीएस से जुड़ा हुआ कोई प्रश्न है तब आप लोग बेहिचक हमें कर सकते हैं ।

GPS के नुक़सान – Disadvantages Of GPS In Hindi

जैसे जीपीएस हम लोगों को बहुत सारा सुविधा देता है वैसे ही जीपीएस हम लोगों को बहुत सारा परेशानी भी देता है बहुत सारे मामलों में जैसे कि हो गया ।

1. जीपीएस हम लोगों को लोकेशन दिखाने में हेल्प तो करता है पर कभी-कभी यह हम लोगों को गलत लोकेशन भी दिखा देता है जो कि सही में एक परेशानी भी है ।


2. दूसरा जो प्रॉब्लम है वह है कि यह लोकल एरिया पर मतलब आप लोग अगर कोई छोटे से शहर में रहते हैं या फिर गांव में रहते हैं सब जीपीएस आप लोगों को सही से इंफॉर्मेशन नहीं दे पाता कि आप लोग कहां पर हैं कहां जाना जाता है यह गलत इंफॉर्मेशन देता है ।

3. जब आप लोग गाड़ी चलाते हैं तब कभी ना कभी जीपीएस आप लोगों को गलत रास्ता तो बताता ही है इस यह एक बहुत ही बड़ा इशू है ।

4. आपका प्राइवेसी को लेकर भी एक बहुत बड़ा इशू आता है बाहर जो की है बहुत सारा लोग आपका लोकेशन को भी ट्रैक कर सकता है इस जीपीएस को इस्तेमाल करके यह भी एक बहुत ही गंभीर प्रॉब्लम है ।

तो दोस्तों आशा करता हूं कि जीपीएस के बारे में जो information में आप लोगों को प्रदान क्या वह आप लोगों को अच्छा लगा है अगर आप लोगों को हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इस आर्टिकल को जितना हो सके उतना share करिए आपके दोस्तों के साथ।

GPS किसने बनाया?

मैंने आप लोगों को जीपीएस के बारे में बहुत कुछ बताया पर यह नहीं बताया कि जीपीएस को किसने बनाया है तो अभी मैं आपको बताऊंगा कि किसने जीपीएस को बनाया है तो जीपीएस को बनाया है –

  1. Ivan A. Getting
  2. Roger L. Easton
  3. Bradford Parkinson

इन तीनों ने ही बनाया है जीपीएस को । अगर यह लोग जीपीएस को नहीं बनाते तब हम लोगों को इतना सुविधा देखने को नहीं मिलता ।

अभी के टाइम पर सबसे बेहतरीन अभिस्कर है GPS । जीपीएस ऐसा आविष्कार है जो कि पूरा दुनिया को ही बदल दिया है मैं यह नहीं कहता कि सब जीपीएस ही बदल दिया हमारा दुनिया को बहुत कुछ है पर यह जीपीएस भी उस में से एक है जो कि दुनिया को बदलने में हेल्प क्या है ।

GPS FAQ

1. जीपीएस को किसने बनाया है?

  1. A. Getting
  2. Roger L. Easton
  3. Bradford Parkinson

2. पृथ्वी से जीपीएस कितनी दूरी पर है?

20,180 km दूर पर अवस्थित है ।

3. ब्रह्मांड में कितना जीपीएस सेटेलाइट है?

ब्रह्मांड में 72 सैटेलाइट है।

4. क्या जीपीएस मोबाइल पर काम करता है?

दोस्तों हां जीपीएस सभी डिवाइसों पर काम करता है जैसे कि हो गया हमारा मोबाइल फोन हमारा घर हमारा गारी यहां तक कि घर पर भी काम करता है जीपीएस।

आशा रखता हूं आप लोगों के पास कि आप लोगों को जीपीएस के बारे में पूरा नॉलेज तो मिल ही गया होगा इस आर्टिकल से अगर आप लोगों को यह आर्टिकल पसंद आता है तब आप लोग इस आर्टिकल को आपके दोस्तों के साथ SHARE करिए। अगर आप लोगों को जीपीएस को लेकर कोई भी प्रश्न है तब आप लोग हमें नीचे कमेंट में कर सकते हैं हम आपका प्रश्न का उत्तर बहुत जल्द ही दे देंगे ।

यह भी पढ़े:

Hope की आपको GPS क्या है और कैसे काम करता है – What Is GPS In Hindi? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।


अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

15 COMMENTS

  1. बोहोत ही अच्छा आर्टिकल है । gps के बड़े में अच्छा जानकारी मिला इस आर्टिकल से । आप kon सा hosting इस्तेमाल करते हैं sir ।

  2. sir aap ne kaha ki mobil nomber ka exact location nahi niklta per mera to ik ladke nikal kar di hai aur mere id per sim bhi nahi hai lekin us per mera naam bhi aaya hai suka scrrn short hai mere pa mai aap ke fesbook per bhej dunga mere fb kajal ke naam se hai kajal raw
    jab maine usse link manga to usne
    http://truecaller.com/r/mPsP60ashk/ha
    diya hai lekin kuchh ho nahi raha hai esse plz hell me

  3. gps ke badhe mein padh kar maja hi agaya ek aur ek baat aapka article ka style mujhe accha laga ekdum simple hindi aesehi article padhna pasand ata hain mujhko. aap ka website ka nam accha hain mein bhi website banana chata hun kaise banau pls bataye mujhe janna hain.

  4. Article बोहोत अच्छा है दोस्त में एक पत्रिका से हूं मुझे आपका लिखने का style पसंद आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here