IMPS क्या है? कैसे काम करता है? पैसे कैसे भेजे? चार्ज और लिमिट?


अगर आप किसी यूपीआई एप्लीकेशन का इस्तेमाल करते होंगे या फिर नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करने के दरमियान आपको पैसे ट्रांसफर करने के ऑप्शन में आइएमपीएस का ऑप्शन प्राप्त हुआ होगा। ऐसे में आप यह सोचते हैं कि आखिर यह IMPS क्या है? कैसे काम करता है? पैसे कैसे भेजे? चार्ज और लिमिट? और IMPS Full Form क्या होता है?

IMPS क्या है? कैसे काम करता है? पैसे कैसे भेजे? चार्ज और लिमिट?

संक्षेप में कहें तो IMPS ऑनलाइन पैसे भेजने का एक ऑप्शन होता है, जिसके द्वारा आप तेज गति से पैसे भेज सकते हैं। सिर्फ आप ही नहीं सामने वाला व्यक्ति भी आपको आईएमपीएस के द्वारा पैसे भेज सकता है।


अगर आप आईएमपीएस के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी दे रहे हैं कि IMPS क्या है? कैसे काम करता है? पैसे कैसे भेजे? चार्ज और लिमिट क्या होते हैं IMPS की पूरी जानकारी।

IMPS क्या है? (What is IMPS in Hindi)

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (IMPS) के द्वारा देश में आइएमपीएस की सेवा शुरू की गई थी। ताकि लोग जब चाहे तब किसी भी बैंक में ऑनलाइन पैसे भेज सके अथवा ऑनलाइन पैसे प्राप्त कर सकें।


आइएमपीएस की वजह से ही पैसे भेजने और पैसे प्राप्त करने का काम बहुत ही कम समय में संभव हो पाता है। इसके साथ ही साथ कस्टमर को रियल टाइम में बैंकिंग ट्रांजेक्शन भी करने की सुविधा हासिल हुई है।

IMPS का मतलब क्या है?

प्रायोगिक परियोजना के तौर पर साल 2010 के अगस्त के महीने में आइएमपीएस को स्टार्ट किया गया था परंतु साल 2010 के ही 22 नवंबर के दिन इसे पूर्ण रूप से लागू कर दिया गया था।

जब आइएमपीएस की शुरुवात हुई थी तब शुरुआत में सिर्फ भारतीय स्टेट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और बैंक ऑफ इंडिया के लिए ही इसे जारी किया गया था। परंतु आगे बढ़ते हुए और इसकी उपयोगिता को देखते हुए दूसरे बैंकों के द्वारा भी अपने कस्टमर के लिए आइएमपीएस की सुविधा दी जाने लगी।

अगर आपकी बैंक आपको आइएमपीएस की सुविधा देती है तो आप 24 घंटे में कभी भी इस सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं और ऑनलाइन पैसे का लेन देन कर सकते हैं। आइएमपीएस के द्वारा आप सुरक्षित तौर पर ऑनलाइन पैसे भेज सकते हैं और पैसे प्राप्त कर सकते हैं।

आईएमपीएस का फुल फॉर्म?

IMPS का संक्षिप्त नाम Immediate Payment Service होता है जिसे हिंदी भाषा में तात्कालिक भुगतान सेवा कहा जाता है। यह एक बेहतरीन सर्विस है जो बैंकिंग प्रणाली से जुड़ी हुई है। आप आइएमपीएस के द्वारा तेजी के साथ वास्तविक समय में पैसे भेज सकते हैं अथवा कोई व्यक्ति आपको वास्तविक समय में भी पैसे भेज सकता है।

IMPS के चार्ज और लिमिट?

आइएमपीएस के द्वारा जब पैसे भेजे जाते हैं तो इसके लिए फीस भरनी पड़ती है। यह फीस उसी बैंक के द्वारा ली जाती है जिस बैंक के द्वारा इमीडिएट पेमेंट सर्विस किया जाता है। बता दें कि आइएमपीएस की जो फीस होती है वह हर बैंक में अलग-अलग हो सकती है, क्योंकि कुछ बैंक प्राइवेट होती है तो कुछ बैंक गवर्नमेंट होती है।

आइएमपीएस के द्वारा व्यक्ति 1 रुपए भी ट्रांसफर कर सकता है और अधिकतम ₹500000 भी ऑनलाइन ट्रांसफर कर सकता है। आइएमपीएस के तहत जो फीस लगती है उसकी जानकारी निम्नानुसार है।

1 से 10,000 रूपये तक 2 रूपये + GST
10,000 से 1,00,000 रूपये तक5 रूपये +GST
1,00,000 से 5,00,000 रूपये तक15 रूपये +GST

आइएमपीएस पेमेंट क्या है?

अपने बैंक अकाउंट से जब हम किसी दूसरे व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे भेजते हैं तो जो पैसे भेजे जाते हैं उसे ही आइएमपीएस पेमेंट कहते हैं। हिंदी में आइएमपीएस पेमेंट को आइएमपीएस रकम कहते हैं, क्योंकि आप पैसे भेजने के लिए आइएमपीएस की सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं।

इसलिए जब आप अपना अकाउंट चेक करते हैं तो उसमें पैसे के ट्रांजैक्शन के पहले आइएमपीएस लिखा हुआ होता है वही जो व्यक्ति पैसे प्राप्त करता है उसके भी पैसे के पहले आइएमपीएस लिखा हुआ होता है, जो यह दर्शाता है कि पेमेंट आईएमपीएस के द्वारा भेजी गई है और पेमेंट आईएमपीएस के द्वारा प्राप्त की गई है।

IMPS कैसे काम करता है?

बैंक के द्वारा जब किसी कस्टमर को आइएमपीएस की सुविधा दी जाती है तो सबसे पहले बैंक के द्वारा कस्टमर के बैंक अकाउंट को जोड़ने के लिए कस्टमर के आधार नंबर, फोन नंबर अथवा एमएमआईडी का इस्तेमाल किया जाता है।

अगर आप एक बैंक के कस्टमर है और आप इमीडिएट पेमेंट सर्विस का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सबसे पहले बैंक के द्वारा कस्टमर के फोन नंबर, आधार नंबर अथवा एमएमआईडी के हिसाब से ही कस्टमर के बैंक अकाउंट से संपर्क स्थापित किया जाता है।

इसके बाद पैसे प्राप्त करने वाले व्यक्ति के फोन नंबर से संपर्क बनाया जाता है और फिर उसके बाद इमीडिएट पेमेंट सर्विस के द्वारा पैसे भेजने वाले व्यक्ति के बैंक अकाउंट में से पैसे प्राप्त करने वाले व्यक्ति के बैंक अकाउंट में ऑनलाइन पैसे भेज दिए जाते हैं। यही प्रक्रिया तब भी दोहराई जाती है जब सामने वाला कोई व्यक्ति आपके बैंक अकाउंट में पैसे भेजता है।

IMPS से पैसे कैसे ट्रान्सफर करे?

आप एटीएम के द्वारा भी आइएमपीएस की सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं, स्मार्टफोन के द्वारा भी आईएमपीएस की सर्विस का फायदा प्राप्त कर सकते हैं और इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा भी आप इमीडिएट पेमेंट सर्विस का इस्तेमाल कर सकते हैं। नीचे हमने इमीडिएट पेमेंट सर्विस के द्वारा पैसे ट्रांसफर कैसे किए जाते हैं की जानकारी आपके सामने प्रस्तुत की है।


IMPS से पैसे कैसे भेजे? 

एमएनआईटी के द्वारा पैसे भेजने की प्रक्रिया निम्नानुसार है।

1: सबसे पहले आपको मोबाइल बैंकिंग में लॉगिन कर लेना है मोबाइल बैंकिंग में लॉग इन करने के बाद आपको बहुत सारे विकल्प दिखाई देंगे उन में से आपको IMPS वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है.
2: आइएमपीएस वाले ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आप जिस व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे भेजना चाहते हैं उसके बैंक अकाउंट का नंबर, फोन नंबर और ईमेल आईडी के 7 अंकों के कोड को निश्चित जगह में एंटर करें।
3: अब आपके फोन नंबर पर एक ओटीपी आएगा, उस ओटीपी को आपको निश्चित जगह में डाल करके सबमिट ओटीपी वाली बटन पर क्लिक करना है।

इस प्रकार से ऊपर दी गई प्रक्रिया का पालन करते हुए आप अपने बैंक अकाउंट से दूसरे व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे भेज सकेंगे। जब आपके बैंक अकाउंट से भेजे गए पैसे काट लिए जाएंगे तो इसकी सूचना आपको फोन नंबर पर आपकी बैंक के द्वारा एसएमएस के जरिए भी दी जाएगी।

मोबाइल नेट बैंकिंग के द्वारा पैसे भेजने का तरीका

मोबाइल नेट बैंकिंग के द्वारा पैसे भेजने का तरीका नीचे बताया गया है।

1: सबसे पहले आपको किसी भी ब्राउज़र को ओपन करके उसमें अपने बैंक की नेट बैंकिंग में लॉगिन कर लेना है।
2: नेट बैंकिंग में लॉगिन करने के बाद आपको बेनिफिशियल सेक्शन के अंतर्गत जिस व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे भेजना चाहते हैं।
3: उस व्यक्ति के बैंक अकाउंट की पूरी जानकारी को दर्ज करना है। जैसे कि उस व्यक्ति के बैंक अकाउंट का नाम, बैंक अकाउंट नंबर, आईएफएससी कोड इत्यादि।
4: अब जितनी राशि आप ट्रांसफर करना चाहते हैं आपको उतनी राशि निश्चित जगह में डालनी है।
5: अमाउंट डालने के बाद आपको नेक्स्ट वाली बटन पर क्लिक करना है।
6: अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन होगा। उसमें आपने जो भी जानकारियां भरी हुई है वह आपको दिखाई देंगे।
7: अब सबसे आखरी में आपको कंफर्म के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

ऐसा करने पर थोड़ी ही देर के बाद पैसे ट्रांसफर हो जाएंगे।

एटीएम के द्वारा पैसे भेजने का तरीका

अगर आप एटीएम के जरिए आइएमपीएस करना चाहते हैं तो इसका तरीका नीचे दर्शाया गया है।

1: सबसे पहले आपको नजदीकी एटीएम सेंटर पर जाना है और एटीएम मशीन में अपने एटीएम कार्ड को डाल कर के अपने एटीएम कार्ड का 4 अंकों का पिन नंबर भी डालना है।
2: पिन नंबर डालने के पश्चात आपको फंड ट्रांसफर वाले ऑप्शन का सिलेक्शन करना है।
3: फंड ट्रांसफर वाले ऑप्शन के अंतर्गत आपको आइएमपीएस वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
4: आइएमपीएस वाले ऑप्शन का सिलेक्शन करने के बाद आपको फोन नंबर दिखाई देगा। अब आपका फोन नंबर के ऊपर क्लिक कर देना। उसके बाद आप जिस व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे भेजना चाहते हैं उस व्यक्ति का फोन नंबर और एमएमआईडी कोड भी आपको डालना है।
5: अब आपको भेजे जाने वाले पैसे को इंटर करना है और उसके बाद कंफर्म बटन पर क्लिक करना है।

इतनी प्रक्रिया पूरी करते ही पैसे ट्रांसफर हो जाएंगे

IMPS की विशेषताएं?

ऑनलाइन पैसे भेजने के मामले में अधिकतर लोगों को आइएमपीएस का ऑप्शन पसंद आता है जिसकी कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं भी है जो कि निम्नानुसार है।

  • आइएमपीएस 24 घंटे अवेलेबल रहता है। इसका मतलब यह होता है कि आप किसी भी जगह से जब चाहे तब आइएमपीएस सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसकी वजह से आपको पैसे भेजने के लिए या फिर पैसे लेने के लिए बैंक में जाकर के लंबी लाइन नहीं लगानी पड़ती है।
  • आइएमपीएस के द्वारा multi-platform को सपोर्ट किया जाता है। हालांकि मुख्य तौर पर मोबाइल बैंकिंग के लिए ही आइएमपीएस को बनाया गया है परंतु यह वेब जैसे दूसरे प्लेटफॉर्म को भी सपोर्ट करता है।
  • आइएमपीएस का इस्तेमाल सिर्फ पैसे भेजने के लिए ही नहीं किया जाता है बल्कि अन्य उद्देश्यों के लिए भी किया जाता है।
  • ऑनलाइन शॉपिंग, ऑनलाइन मर्चेंट पेमेंट, इंश्योरेंस के प्रीमियम की पेमेंट, कॉलेज और स्कूल की फीस की पेमेंट,यूटिलिटी बिल की पेमेंट और ट्रैवल तथा टिकट बुकिंग के लिए भी आइएमपीएस का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • पैसे भेजने के दूसरे तरीके की तुलना में आइएमपीएस का इस्तेमाल करना बहुत ही सरल है। आपको इसके जरिए पैसे भेजने के लिए सिर्फ बैंक अकाउंट से जुड़े हुए फोन नंबर की आवश्यकता होती है साथ ही पैसे प्राप्त करने वाले व्यक्ति के एमएमआईडी की जरूरत होती है।
  • आइएमपीएस के द्वारा जब आप पैसे भेजते हैं तो यह तुरंत ही सामने वाले व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे भेज देता है और सामने वाला व्यक्ति जब पैसे भेजता है तो तुरंत ही पैसे आपके बैंक अकाउंट में आ जाते हैं और इसकी सूचना भी आपको एसएमएस के द्वारा प्राप्त हो जाती है।
  • आइएमपीएस के द्वारा पैसे भेजना बहुत ही सुरक्षित होता है। बिना किसी चिंता के इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • आइएमपीएस के द्वारा जब आप व्यक्ति को फंड ट्रांसफर करते हैं तब पैसे भेजने वाले और पैसे प्राप्त करने वाले दोनों लोगों को उनके बैंक अकाउंट के द्वारा मैसेज भेजा जाता है जिसमें ट्रांजैक्शन की सभी जानकारी होती है।

IMPS के फ़ायदे?

इमीडिएट पेमेंट सर्विस जैसी तुरंत ही पैसे भेजने वाली सर्विस कुछ स्पेशल फायदे के साथ आती है जो कि निम्नानुसार है।

  • आजकल हर व्यक्ति के पास मोबाइल मौजूद हो गया है जिसमें वह आइएमपीएस की सेवा का फायदा प्राप्त करता है। आप भी जब चाहे तब अपने मोबाइल के द्वारा कभी भी और कहीं भी आइएमपीएस का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इमीडिएट पेमेंट सर्विस के द्वारा जब पैसे भेजे जाते हैं तो वह तुरंत ही सामने वाले व्यक्ति को प्राप्त हो जाते हैं।
  • ऐसे में लोगों को बैंक में नहीं जाना पड़ता है ना ही बैंक में जाने के बाद लंबी लाइनों में लगना पड़ता है। इसकी वजह से बैंक में पैसे भेजने के लिए जो भीड़ होती है उसमें भी कमी आई है।
  • कभी-कभी किसी व्यक्ति या फिर किसी परिवार के व्यक्ति को तुरंत ही पैसे की आवश्यकता होती है।
  • ऐसे में तुरंत ही सामने वाले व्यक्ति तक पेमेंट पहुंचाने के लिए आइएमपीएस का इस्तेमाल करना लाभदायक होता है क्योंकि यह तुरंत ही फंड ट्रांसफर कर देता है। अगर टेक्निकल प्रॉब्लम होगी तो भी 1 घंटे के अंदर आइएमपीएस पैसा भेज देता है।
  • मोबाइल बैंकिंग के द्वारा किए जाने वाले आइएमपीएस ट्रांजैक्शन में लाभार्थी के बारे में कोई भी गुप्त इंफॉर्मेशन नहीं होती है। जैसे कि आईएफएससी कोड अथवा अकाउंट नंबर। इसमें सिर्फ एमएमआईडी और फोन नंबर की जरूरत होती है।
  • इमीडिएट पेमेंट सर्विस के द्वारा पैसे भेजने पर ज्यादा फीस चार्ज नहीं की जाती है। पैसे भेजने के लिए आइएमपीएस पर कम से कम ₹2.50 पैसे और अधिक से अधिक ₹25 फीस है।

भारत में मौजूद आइएमपीएस की सुविधा देने वाली बैंक

नीचे हमने भारत में काम करने वाली उन बैंक की लिस्ट आपको दी हुई है जो अपने कस्टमर को आइएमपीएस सर्विस ऑफर करती है।

  1. Andhra Bank
  2. Allahabad Bank
  3. Adarsh Co-Operative Bank Ltd.
  4. Axis Bank
  5. Bandhan Bank Ltd.
  6. Bank of India
  7. Bank of Baroda
  8. Bassein Catholic Co-op Bank
  9. Bank of Maharashtra
  10. Canara Bank
  11. BNP Paribas
  12. Central Bank of India
  13. Catholic Syrian Bank
  14. City Union Bank
  15. Citibank
  16. Cosmos Co-operative Bank
  17. Corporation Bank
  18. Development Bank of Singapore
  19. Dena Bank
  20. Dhanalakshmi Bank
  21. Development Credit Bank
  22. Federal Bank
  23. Dombivli Nagarik Sahakari Bank
  24. HSBC
  25. HDFC Bank
  26. IDBI Bank
  27. ICICI Bank
  28. Indian Overseas Bank
  29. Indian Bank
  30. ING Vysya Bank
  31. IndusInd Bank
  32. Janata Sahakari Bank, Pune
  33. Jammu & Kashmir Bank
  34. Karur Vysya Bank
  35. Karnataka Bank
  36. Kerala Gramin Bank
  37. Lakshmi Vilas Bank
  38. Kotak Mahindra Bank
  39. Nainital Bank
  40. Mehsana Urban Co-operative Bank
  41. NKGSB Co-operative Bank
  42. Pragathi Krishna Gramin Bank
  43. Oriental Bank of Commerce
  44. Punjab and Sind Bank
  45. Punjab and Maharashtra Co-op Bank
  46. Rajkot Nagrik Sahkari Bank Ltd
  47. Punjab National Bank
  48. Saraswat Bank
  49. RBL Bank
  50. Standard Chartered Bank
  51. South Indian Bank
  52. State Bank of Hyderabad
  53. State Bank of Bikaner and Jaipur
  54. State Bank of Mysore
  55. State Bank of India
  56. State Bank of Travancore
  57. State Bank of Patiala
  58. Syndicate Bank
  59. Thane Janata Sahakari Bank
  60. Tamilnad Mercantile Bank
  61. The A.P Mahesh Urban Co-op Bank
  62. UCO Bank
  63. The Greater Bombay Co-op Bank
  64. Union Bank of India
  65. Vijaya Bank
  66. United Bank of India
  67. Yes Bank

IMPS करते समय ध्यान रखने योग्य बातें

वैसे तो इमीडिएट पेमेंट सर्विस पैसे भेजने का बहुत ही फास्ट और सरल तरीका है परंतु अगर आपके द्वारा कोई छोटी मोटी गलती हो जाती है तो इसकी वजह से आपको पैसे से संबंधित नुकसान हो सकता है। इसलिए नीचे जो बातें बताई गई है उसे आपको आइएमपीएस करते समय ध्यान में रखना है।

मोबाइल बैंकिंग की आवश्यकता पैसे भेजने के लिए इमीडिएट पेमेंट सर्विस करती है। आप चाहे तो वेब का इस्तेमाल करके भी पैसे भेजने के लिए आइएमपीएस का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसी अवस्था में पैसे भेजने वाले व्यक्ति के पास और पैसे प्राप्त करने वाले व्यक्ति के पास एमएमआईडी होनी आवश्यक है और यह मोबाइल बैंकिंग के बिना नहीं बन पाती है।

वेब के द्वारा इमीडिएट पेमेंट सर्विस करना मुश्किल है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यूजर को बैंक की इंफॉर्मेशन, आईएफएससी कोड, पैसे प्राप्त करने वाले व्यक्ति का फोन नंबर, पैसे प्राप्त करने वाले व्यक्ति का नाम और एमएमआईडी जैसी इंफॉर्मेशन को इंटर करना होता है।

और इस प्रकार से अधिक जानकारियों को दर्ज करने के दरमियान कई बार गलती हो जाती है, जिसकी वजह से पैसे गलत अकाउंट में चले जाते हैं। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यह कहती है कि पैसे भेजने से पहले व्यक्ति को दो से तीन बार भरी गई जानकारियों को चेक कर लेना चाहिए।

क्योंकि अगर आपके द्वारा एक बार किसी व्यक्ति के अकाउंट में गलती से पैसे दे दिए जाते हैं तो अगर सामने वाला व्यक्ति पैसे लौटाने के लिए राजी होगा तभी आपको पैसे मिलेंगे अन्यथा नहीं। आइएमपीएस के द्वारा पैसे भेजने के लिए आपके स्मार्टफोन में इंटरनेट कनेक्शन होना चाहिए। अगर आप कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं तो कंप्यूटर में भी इंटरनेट कनेक्शन होना आवश्यक है।

तो दोस्तों उम्मीद है की अब आपको आइएमपीएस से जुड़ी पूरी जानकारी मिल गई होगी, और आप जान गये होगा की IMPS क्या है? कैसे काम करता है? पैसे कैसे भेजे? चार्ज और लिमिट क्या है?

FAQ:

हम आइएमपीएस के द्वारा दूसरे देशों में भी पैसे भेज सकते हैं?

नहीं यह सिर्फ घरेलू इस्तेमाल के लिए है।

आईएमपीएस का फुल फॉर्म क्या है?

इमीडिएट पेमेंट सर्विस

क्या आईएमपीएस के द्वारा पैसे प्राप्त करने के लिए हमें कोई चार्ज देना पड़ता है?

नहीं

आईएमपीएस का इस्तेमाल कब कर सकते हैं?

24 घंटे में कभी भी

क्या छुट्टियों के दिन में भी आइएमपीएस का इस्तेमाल कर सकते हैं?

जी हां

इस लेख मे आप समझ गए होंगे की IMPS क्या है? और इसकी सुविधा अभी कौन सा बैंक देता है। IMPS Kya Hai? और कैसे आप इस्तेमाल कर सकते है इसकी सारी जानकारी सरल शब्दों मे बताई गई है।

Hope अब आपको IMPS Kya Hai? समझ आ गया होगा, और आप जान गये होगे की IMPS क्या है? कैसे काम करता है? पैसे कैसे भेजे? चार्ज और लिमिट? और इससे जुड़े सारे सवाल का जवाब आपको मिल गया होगा।


अगर आपके पास कोई सवाल है, तो आप नीचे कमेंट में पूछ सकते हो. और अगर आपको यह पोस्ट हेल्पफुल लगा हो तो इसको सोशल मीडिया पर अपने अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here