इंटरनेट बैंकिंग क्या है – Net Banking Information In Hindi

2

what is internet banking or mobile banking in hindi? Net Banking Information In Hindi. अगर आपको नहीं पता की इंटरनेट बैंकिंग क्या है? और Internet Banking का Use क्या है? तो आज इस पोस्ट में हम जानिंगे की Internet Banking कैसे काम करता है? इसके फायदे और नुकसान क्या है, और इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कैसे करें?

क्या आप जानना चाहते हैं, की net बैंकिंग क्या होता है? नेट बैंकिंग कैसे कार्य करता है। तो आप सही लेख में है, आज के इस लेख को अंत तक पढ़िए क्योंकि यहाँ मैं net बेकिंग से संबंधित जानकारी बताने जा रहा हूँ। उम्मीद है आज के इस लेख को पढ़कर आप समझ जाओगे की इंटरनेट बैंकिंग क्या है – Net Banking Information In Hindi


आज इंटरनेट की इस दौर में हम उन अनेक कार्यों को घर बैठे असानी-से कर सकते हैं, जिन्हें पहले करना असंभव-सा प्रतीत होता था। Net बैंकिंग इसका सबसे बेहतरीन उदाहरण कह सकते हैं। चलिये जानते हैं नेट बैंकिंग (Internet Banking) क्या होता है? (what is internet banking in hindi)

इंटरनेट बैंकिंग क्या है – Net Banking Information In Hindi

Net Banking को वेब बैंकिंग (web banking), इंटरनेट बैंकिंग, ऑनलाइन बैंकिंग आदि नामों से भी जाना जाता है। अतः सरल शब्दों में कहें तो “net banking सुविधा का इस्तेमाल ग्राहक इंटरनेट के जरिये घर बैठे अपने मोबाइल, कंप्यूटर आदि डिवाइस पर बैंकिंग की सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं.

नेट बैंकिंग विशेषकर उन लोगो के लिए फायदेमंद है, जो किसी कारणवश बैंक नहीं जा पाते अथवा बैंक में लगी कतारों से बचना चाहते हैं, वे लोग कहीं भी अपने मोबाइल में इंटरनेट कनेक्शन ऑन कर मोबाइल में बैंकिंग सेवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अब आप जान चुके होंगे की इंटरनेट बैंकिंग क्या है – Net Banking Information In Hindi? चलिए अब देखते है की इसके फायदे और नुकसान क्या है, और इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कैसे करें?

यह भी पढ़े: VPN क्या है – What Is VPN In Hindi

इंटरनेट बैंकिंग के फ़ायदे

इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर ऑनलाइन बिजली बिल, मोबाइल रिचार्ज आदि कर घर बैठे कर सकते हैं। इसके अलावा हम ऑनलाइन शॉपिंग के समय पेमेंट के लिए नेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग की मदद से हम ऑनलाइन अपना बैंक एकाउंट बैलेंस चेक कर सकते हैं। इसके अलावा हम नेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर बैंक से की गई ट्रांसेक्शन history की रिपोर्ट देख सकते हैं। इसके अलावा हम बैंक स्टेटमेंट को मोबाइल में डाउनलोड भी कर सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर हम कहीं से भी अपने दोस्तों रिश्तेदारों या किसी भी व्यक्ति को पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर हम बैंक जाए बगैर पासबुक, क्रेडिट कार्ड आदि के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। और चेक-बुक भी आर्डर कर सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर हम बस, रेल टिकट बुक करने के साथ ही ऑनलाइन टैक्स का भुगतान कर सकते हैं।


यह भी पढ़े: IFSC कोड क्या है किसी भी Bank का IFSC Code कैसे निकाले?

इंटरनेट बैंकिंग के फायदों को जानने के बाद अब सवाल आता है कि हम नेट बैंकिंग का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं?

इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कैसे करें?

  • इंटरनेट बैंकिंग सेवा का उपयोग करने के लिए सबसे पहले आपको बैंक में जाकर एक फॉर्म भरना होगा।
  • अब इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करने के लिए अपने मोबाइल के किसी ब्राउज़र में बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन करेंगे जिसे बैंक ने ओपन करने के लिए एक लिंक भेजा होगा।
  • उसके बाद अपना वेबसाइट के पेज पर यूजर आईडी तथा पासवर्ड एंटर करना होगा।
  • तथा सही username तथा पासवर्ड एंटर करने के बाद आप इंटरनेट बैंकिंग की सेवाओं का फायदा उठा सकते हैं.

यह भी पढ़े: बैंक अकाउंट हैक कैसे होता है और कैसे बचाये?

इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते हुए ध्यान देने योग्य बातें:-

इंटरनेट बैंकिंग के लिए उपयोग किए जाने वाले आईडी तथा पासवर्ड को कभी भी किसी भी व्यक्ति के साथ शेयर ना करें। तथा net banking के लिए हमेशा एक कठिन पासवर्ड सेट करें, तथा जिसे हमेशा आप याद रख सकें।

बैंक द्वारा जारी किए गए login id तथा पासवर्ड को केवल बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर ही लॉगिन करें, किसी ईमेल या sms पर भेजे गए लिंक में बैंक के लॉगइन पासवर्ड को एंटर नहीं करना चाहिए।।

फोन पर किसी व्यक्ति द्वारा आपके बैंक खाते का पासवर्ड तथा तथा अन्य जानकारियां माँगने पर बताना नहीं चाहिए।।

इंटरनेट बैंकिंग के खाते को इस्तेमाल करने के बाद सुरक्षा की दृष्टि से लॉग आउट कर देना चाहिए।।

इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करते समय अपना ईमेल एड्रेस तथा मोबाइल नंबर बैंक में जरूर रजिस्टर करें जिससे आपके खाते में हुए लेन-देन की पूरी सूचना प्राप्त कर सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करते समय हमेशा ब्राउज़र पर बैंक की वेबसाइट का सही यूआरएल टाइप करना चाहिए अन्यथा आप यूआरएल में थोड़े से बदलाव के कारण आप किसी अन्य वेबसाइट में अपना अकाउंट ओपन कर सकते हैं, तथा आप ठगी का शिकार हो सकते हैं।

इसके अलावा किसी नेट बैंकिंग का उपयोग करते समय एकाउंट से जुड़ा कोई संदेह तथा जानकारी की सूचना प्राप्त करने के लिए बैंक के फ़ोन नम्बर पर कॉल कर सकते हैं।

उम्मीद है अब आपको Internet Banking से Related पूरी जानकारी मिल चुकी होगी, और अब आपको पता चल गया होगा की इंटरनेट बैंकिंग क्या है – Net Banking Information In Hindi? & इसके फायदे और नुकसान क्या है, और इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कैसे करें?

अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.


Rate this post

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here