JPEG क्या है? (What is JPEG in Hindi)


फोटो तो हर कोई लेता है, मगर क्या आपको पता है फोटो अलग अलग फॉर्मैट मे आता है। इस वजह से आपको JPEG क्या है? (What is JPEG in Hindi) jpeg का इस्तेमाल कहाँ करते है? jpeg की जरूरत कब पड़ती है? जैसे कुछ सवालों के बारे मे मालूम होन चाहिए।

JPEG क्या है? (What is JPEG in Hindi)


वर्तमान में सेल्फी लेने का ट्रेंड काफी अधिक चल रहा है। लोग किसी भी अच्छी जगह पर जब घूमने के लिए जाते हैं तब वह अपनी यादों को कैप्चर करने के लिए सेल्फी लेते हैं, जो सिंगल या फिर ग्रुप में ली जाती है। सेल्फी लेने के पश्चात उसे अक्सर लोग अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करते हैं और दूसरे लोगों के साथ शेयर भी करते हैं।


जब एक तस्वीर क्लिक की जाती है तो वह एक निश्चित फॉर्मेट में सेव होती है जो कि कई अलग-अलग प्रकार के होते हैं, जिसमें से सबसे अधिक JPEG फॉरमैट का इस्तेमाल किया जाता है। गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट में नौकरी के लिए भी जब ऑनलाइन अप्लाई किया जाता है तो आपकी फोटो की डिमांड जेपीईजी फॉरमैट में ही होती है। इसलिए इस आर्टिकल में हम आपको JPEG क्या है? (What is JPEG in Hindi) इससे संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध करवा रहे हैं।

JPEG क्या है? (What is JPEG in Hindi)

JPEG का पूरा नाम Joint Photographic Experts Group होता है। यह फोटो को सेव करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला एक प्रकार का फॉर्मेट है। इस फॉर्मेट के द्वारा फोटो को एडिटिंग का सपोर्ट दिया जाता है, साथ ही फोटो को कलर का भी सपोर्ट दिया जाता है। 

जो फोटो जॉइंट फोटोग्राफिक एक्सपर्ट ग्रुप में होती है, वह काफी साफ दिखाई देती है, क्योंकि इस प्रकार के फोटो की clearity काफी अधिक होती है। इसीलिए अधिक से अधिक लोग इसी फॉर्मेट में फोटो को सेव करना या फिर क्लिक करना पसंद करते हैं। बता दें कि जॉइंट फोटोग्राफिक एक्सपर्ट ग्रुप का एक्सटेंशन .jpeg होता है।

JPEG की विशेषताएं?

नीचे जानिए जेपीईजी की विशेषताएं क्या होती है।

  • इसके द्वारा 24bit पर  पिक्सेल को सपोर्ट किया जाता है जिसमें 8bit ब्राइटनेस, ब्लू और रेड के लिए निश्चित होती हैं।
  • इसके द्वारा अधिक से अधिक 1700000 कलर को सपोर्ट किया जाता है।
  • यह सबसे बढ़िया नेचुरल आर्ट वर्क, रियललास्टिक फोटो और फोटोग्राफीक के लिए होता है।
  • जिस फोटो का फॉर्मेट जेपीईजी होता है, उसकी क्वालिटी बहुत ही शानदार होती है और वह फोटो साफ साफ दिखाई देती हैल
  • इस फॉर्मेट के अंतर्गत अगर इमेज का कम्प्रेशन किया जाता है तो इसकी क्वालिटी में कमी आ जाती है और फिर शार्पनेस या फिर क्लेरिटी नहीं रहती है।
  • इस फॉर्मेट में सिंपल कार्टून  लाइन ड्रॉइंग या फिर सिंपल ग्राफिक सही प्रकार से काम नहीं कर पाता है।
  • इसके द्वारा फाइल ट्रांसपेरेंसी को सपोर्ट नहीं किया जाता है, जिसकी वजह से आप इस फोटो के पीछे वॉलपेपर को नहीं लगा सकते हैं।
  • हालांकि जो दूसरे फॉर्मेट होते हैं उसमें ट्रांसपेरेंसी की सर्विस होती है परंतु आपको यह सुविधा इस फॉर्मेट में नहीं हासिल होती है।

पहली बार JPEG का इस्तेमाल कब हुआ?

जिस ग्रुप के द्वारा इस फॉर्मेट का निर्माण किया गया था उसे वर्ष 1986 में क्रिएट किया गया था और उसी ग्रुप मे इस फॉर्मेट को प्रस्तुत किया गया था। उसके पश्चात इस फॉर्मेट को अप्रूवल मिला और वर्ष 1992 से इस फॉर्मेट की शुरुवात हुई। गजब की बात यह है कि साल 1992 में ही इंटरनेट की भी स्टार्टिंग हुई थी। अधिकतर जो डिजिटल कैमरा होते हैं वह ऑटोमेटिक फोटो को सेव करते हैं। 

इसलिए आपको अपने कैमरे में फोटो को सेव करने के लिए जो फॉर्मेट होता है उसे अपने हिसाब से सेट करना होता है। अगर आप चाहते हैं कि आपके द्वारा कैप्चर की गई फोटो की क्वालिटी बहुत ही हाई क्वालिटी की हो, तो इसके लिए आपको फोटो को जेपीईजी फॉरमैट में ही सेव करना चाहिए।

JPEG का इस्तेमाल सबसे अधिक कहां होता है?


वर्तमान समय में अधिकतर जगह इसी फॉर्मेट का इस्तेमाल किया जा रहा है परंतु माइक्रोसॉफ्ट विंडोज फोटो इसका सबसे अधिक इस्तेमाल करता है, क्योंकि यह सिस्टम डिफॉल्ट प्रोग्राम के अंतर्गत डाला जाता है।

 इसके साथ ही साथ एडोब फोटोशॉप जैसे ग्राफिक प्रोग्राम में या वेब ब्राउज़र में भी इसे ओपन किया जा सकता है। अगर आप इस फाइल फॉर्मेट की पहचान करना चाहते हैं तो इसके लिए बस आपको फाइल के आगे .jpeg लिखना होता है।

कब हमें JPEG Format का इस्तमाल नहीं करना चाहिए?

आपके फोटो को अधिकतर डिजिटल कैमरा के द्वारा जेपीईजी फॉरमैट में सेव किया जाता है। इसी प्रकार से कई ग्राफिक प्रोग्राम भी इसी फॉर्मेट में फोटो को सेव करते हैं, परंतु अगर आपके द्वारा लाइन ड्राइंग की जाती है तो आपको इसे दूसरे फॉर्मेट में सेव करना चाहिए जैसे कि पीएनजी, जीआईएफ इत्यादि।

.jpeg और .jpg में अंतर?

इन दोनों में कोई अंतर नहीं है। यह दोनों एक ही है। इन दोनों का ही इस्तेमाल डिजिटल इमेज को स्टोर करने के लिए किया जाता है। इन दोनों के बीच बस करैक्टर का डिफरेंस होता है। 

 जिसके द्वारा सभी प्रकार के प्लेटफार्म को सपोर्ट किया जाता है और फोटो को भी कंप्रेस किया जाता है, ताकि कम मेमोरी का इस्तेमाल हो और जेपीईजी कलर मोड को सपोर्ट करता है। परंतु जब इसे प्रिंटिंग के लिए भेजा जाता है तो इसे RGB से CMYK Color Mode में Convert किया जाता है।

JPEG RAW File Format से कैसे बेहतर है?

जो r.a.w. फाइल होती है, इसमें इमेज की क्वालिटी बहुत ही शानदार होती है परंतु इस प्रकार की इमेज की साइज भी काफी अधिक होती है, जिसे Compress करना सरल नहीं होता है।

और इसीलिए इस प्रकार की फाइल को इस्तेमाल करने के लिए इसे कंप्रेस करना पड़ता है। इसलिए r.a.w. फाइल की जगह पर जेपीईजी फाइल फॉर्मेट का इस्तेमाल किया जाता है ताकि आसानी से फोटो का आदान-प्रदान हो सके।

इस लेख मे हमने आपको बताया की JPEG क्या है? (What is JPEG in Hindi) और इस फोटो फॉर्मैट की जरूरत क्यूँ पड़ती है। उम्मीद करते है आप jpeg फोटो का इस्तेमाल कब करना चाहिए और कब इस तरह के फोटो का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए अच्छे से समझ पाए होंगे।

Hope अब आपको JPEG क्या है? (What is JPEG in Hindi) समझ आ गया होगा, और आप जान गये होगे की JPEG का इस्तेमाल कैसे किया जाता है, और jpeg फॉर्मैट की विशेषता क्या है।


अगर आपके पास कोई सवाल है, तो आप नीचे कमेंट में पूछ सकते हो. और अगर आपको यह पोस्ट हेल्पफुल लगा हो तो इसको सोशल मीडिया पर अपने अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here