काली लिनक्स क्या है? और कंप्यूटर में इनस्टॉल कैसे करें

20

what is kali linux in hindi? & how to install kali linux operating system in hindi? (kali linux installation process in hindi) अगर आपको नहीं पता की काली लिनक्स क्या होता है? तो आज इस पोस्ट में हम जानिंगे की काली लिनक्स (Kali Linux) क्या है? और कंप्यूटर में काली लिनक्स इनस्टॉल (Kali Linux Install) कैसे करें?

अगर आप अपने android मोबाइल फ़ोन में kali linux install करना चाहते हो तो Android मोबाइल में Kali Linux कैसे Install करें? उसके बारे में मैंने पहले से ही बताया हुआ है, लेकिन आज इस पोस्ट में हम जानिंगे की Kali Linux क्या है? और काली लिनक्स को कंप्यूटर में Install कैसे करें?


Kali Linux से किसी के भी कंप्यूटर को हैक कैसे करें? और Kali Linux से Android मोबाइल हैक कैसे करें? उसकी पूरी जानकारी यहां है…

काली लिनक्स क्या है? – What Is Kali Linux In Hindi

अगर आप Tech Geek हो या फिर आपका Ethical Hacking में थोड़ा सा भी interest है, तो आपने kali linux का नाम तो जरूर सुना होगा, जैसे आप अपने कंप्यूटर में window7, 8, 8.1 or 10 को use करते है, ठीक उसकी तरह आप kali linux को भी अपने कंप्यूटर और लैपटॉप में install करके उसको use कर सकते हो.

Guys Window की तरह kali linux भी एक operating system ही है. अगर आपका Interest Ethical Hacking, Cyber Security में है तो kali linux आपके लिए एक best operting system हो सकता है. क्युकी इसको mostly Penetration Testing, Security research, Computer Forensics and Reverse Engineering में ही use किया जाता है.

दोस्तों Kali Linux का उपयोग अच्छे कार्यों तथा बुरे कार्यों के लिए किया जाता है! जी हां कई लोग जो हैकिंग में रुचि रखते हैं वह इसका White हैकिंग के लिए उपयोग करते हैं, तो दूसरी तरफ कई लोग अपने डिवाइस में Kali Linux Window को इंस्टॉल कर black Hat Hacking  करते हैं.

दोस्तों अब आप यह सोच सकते हैं कि काली Linux का उपयोग आखिर हैकिंग के लिए ही क्यों अधिक किया जाता है? तो आपको बता दें इसमें हैकिंग से रिलेटेड अधिकतर prebuilt टूल्स यूजर को मिल जाते हैं? जिससे समय की बचत के साथ साथ यूजर के लिए एडवांस लेवल पर हैकिंग करना संभव हो पाता है।

Kali Linux मैं मिलने वाले सैकड़ों टूल्स विभिन्न सूचना सुरक्षा कार्यों के लिए तैयार हैं जैसे कि Penetration Testing, Security research, Computer Forensics and Reverse Engineering.

दोस्तों हैकिंग के लिए Kali Linux अधिक इसलिए भी लोकप्रिय हो चुकी है क्योंकि यह Free है! और इसका इस्तेमाल आसानी से कंप्यूटर में install कर कोई भी user कर सकता है! अब Kali Linux को समझने के बाद अब हम जानते है.

यह भी पढ़े: ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है? – What Is Operating System In Hindi

काली लिनक्स के फायदे – Advantages Of Kali Linux In Hindi

It’s Free

किसी भी user के लिए Kali लिनक्स हैकिंग सीखने तथा हैकिंग करने मैं लाभदायक होती है। साथ ही यह Free है इसलिए कोई भी इसका इस्तेमाल कर सकता है.

Thousands Of Tools

जी हां! सैकड़ों ऐसे टूल्स Kali Linux में मिल जाते हैं जो हैकिंग मैं सहायक होते हैं! 600 से भी अधिक penetration testing and security analytics related tool इत्यादि विभिन्न प्रकार के टूल्स इजमें मौजूद हैं।

Open Source

क्योंकि यह लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का भाग है अतः यह ओपन सोर्स मॉडल पर आधारित है। जिस वजह से कोई भी यूजर अपनी आवश्यकता के मुताबिक इसे Customize कर सकता है।

Multi Languages Available

विभिन्न देशों से बड़ी संख्या में users Kali लिनक्स का उपयोग करते हैं क्योंकि यह अनेक भाषाओं को सपोर्ट करती है। जिससे यूजर्स अपनी भाषा में इसे ऑपरेट कर सके हालांकि penetration tools अंग्रेजी भाषा में ही उपलब्ध है।

Full Customization

डेवलपर यह भलीभांति जानते हैं की सभी यूजर्स उनके डिजाइन किए गए इस मॉडल को पसंद करेंगे। इसलिए उन्होंने Kali Linux को इस तरीके से बनाया ताकि users अपनी इच्छा के मुताबिक इसे कस्टमाइज कर सके।

तो दोस्तों अब आप भली-भांति समझ चुके होंगे Kali लिनक्स को आखिर विश्व भर में इतना क्यों पसंद किया जाता है। अब यदि आप भी सोच रहे हैं काली लिनक्स को अपने सिस्टम में इंस्टॉल करने के बारे में तो आपके लिए यह जानना जरूरी हो जाता है कि आपके सिस्टम में Kali Linux को इंस्टॉल करने के लिए किन-किन चीजों की जरूरत होगी।

System Requirements for Kali Linux

दोस्तों Kali Linux को अपने डिवाइस में इंस्टॉल करने के लिए अधिक Specifications की जरूरत नहीं पड़ती! बस आपके सिस्टम में कुछ सामान्य compatible hardware मौजूद होने चाहिए हालांकि System में मौजूद बैटर हार्डवेयर अच्छी परफॉर्मेंस प्रदान करते हैं।

  • A minimum of 20 GB disk space for the Kali Linux install.
  • CD-DVD Drive / USB boot support/ VirtualBox
  • RAM for i386 and amd64 , min: 1GB, recommended: 2GB

Kali Linux को एक बार अपने डिवाइस में इंस्टॉल करने के बाद कुछ मुख्य टूल्स आपको देखने को मिलेंगे आईए इनके बारे में जान लेते हैं।

List Of Kali Linux Tools In Hindi

Aircrack-ng

aircrack NG वाईफाई नेटवर्क सिक्योरिटी का आकलन करने के लिए उपयोग किए जाने वाले सभी टूल्स का एक Suite है। यह वाईफाई सिक्योरिटी के मुख्य क्षेत्रों में फोकस करता है। इसके मुख्य कार्य निम्नलिखित हैं।

Attacking

यह टूल Replay attacks, de-authentication, fake access points के लिए होता है।

Monitoring

पैकेट को कैप्चर करने तथा डाटा को Text फाइल्स के रूप में Export करता है! ताकि थर्ड पार्टी टूल्स की मदद से आगे की प्रोसेसिंग की जा सके.

Testing

वाईफाई कार्ड्स को चेक करना तथा ड्राइवर की क्षमता को जांचना।


Nmap

दूसरे मुख्य Tool का नाम है नेटवर्क Mapper जिसे Nmap भी कहा जाता है। यह एक ओपन सोर्स यूटिलिटी है, नेटवर्क सिक्योरिटी तथा सिक्योरिटी Auditing के लिए। किसी नेटवर्क पर कौन सा Host उपलब्ध है इसे निर्धारित करने के NMap गुप्त रूप से Raw ip का इस्तेमाल करता है इसके अलावा इस टूल का उपयोग निम्नलिखित कार्यों के लिए भी किया जाता है।

•monitoring host or service uptime
•managing service upgrade schedules

•network inventory


Wireshark

इस Tool को दुनिया में लिनक्स के लिए सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला नेटवर्क प्रोटोकॉल Anaylyzer माना जाता है। यह एक ओपन सोर्स पैकेट Anaylyzer है जिससे आप नेटवर्क एक्टिविटीज को बारीकी से चेक कर सकते हैं।

लेकिन इस टूल की एक विशेष खासियत यह है कि इसे इस्तेमाल करना सभी उपयोगकर्ताओं के लिए फ्री है।

काली लिनक्स का इतिहास – History Of Kali Linux In Hindi

Kali Linux की शुरुआत वर्ष 2013 में इसके पहले वर्जन 1.0 के लॉन्च होने के साथ हुई और इसके 5 दिन बाद ही डेवलपर्स द्वारा वर्जन 1.0.1 को मार्केट में रिलीज किया तथा इस वर्जन की खासियत यह थी कि यह कीबोर्ड में मौजूद खामियों को दूर करता था।

लेकिन यदि आप काली लिनक्स के इतिहास को पढ़ रहे हैं तो यहां पर आपके लिए चौंकने वाली बात होगी। market में लॉन्च होते ही सिर्फ 5 दिनों के भीतर काली लिनक्स को 90 हजार से अधिक बार डाउनलोड किया गया। इसका मतलब आप समझ सकते हैं कि काली लिनक्स के लॉन्च होने के साथ ही कितने सारे यूजर इसे As A Hacking Tool के लिए इस्तेमाल करने के लिए तैयार थे।

उसके बाद वर्ष 2015 में काली लिनक्स 2.0 वर्जन अपडेट किया गया और इस वर्जन का मुख्य उद्देश्य था Kali Linux उपयोगकर्ताओं को बेहतर End user एक्सपीरियंस देना! और इस वर्जन को भी लोगों द्वारा खूब पसंद किया गया।

दोस्तों अब आपको पता चल ही गया होगा की Kali Linux क्या है? अब अगर आप काली लिनक्स को अपने कंप्यूटर में इनस्टॉल करना चाहते हो तो नीचे बताये गए steps को carefully follow करे.

Computer Me Kali Linux Install Kaise Kare?

वैसे तो kali linux को PC में install करने के और भी बहुत से तरीके है लेकिन अगर आप बिना किसी tension के आसानी से windows के अंदर ही इसको चलना चाहते हो तो VMWare Player की help से आप आसानी से यह कर सकते हो. नीचे बताये गए steps को carefully follow करे.

सबसे पहले अपने कंप्यूटर में Kali linux की ISO file or VWware player को डाउनलोड कर ले.

1. अब VMware को install करने के बाद open करे और create a new virtual machine पर क्लिक करे.

2. अब Installer disc image file (iso) को select करे और Browse button पर क्लिक करके Kali linux की ISO file को choose करे. (जो आपने ऊपर डाउनलोड की है.) अब Next पर क्लिक करे.

3. अब Guest OS में Linux को select करे और version में अपने linux iso file के version को select करे.

4. अब virtual machine नाम में Kali Linux लिखकर next पर क्लिक करे और Maximum disk size में 20gb (अपनी Harddisk में C drive के free space के according select करे. minimum 8gb) or store virtual disk as a single file को select करके next पर करे.

5. अब आपको Customize Hardware पर क्लिक करके कुछ और Setting करनी है.

6. अब memory में 1024MB (अगर आपके कंप्यूटर की RAM ज्यादा है तो आप 2048MB भी choose कर सकते हो.) choose करे और Processor में 2 cores select करे.

7. अब Network Adapter में network connection Bridge select करके close पर क्लिक करे उसके बाद Finish button पर क्लिक करे..

8. अब आपका 50% work complete हो चूका है अब automatically आपकी virtual machine start हो जाएगी फिर Boot Menu में Graphical Install पर क्लिक करे.

9. अब आपका kali linux install होना start हो जायेगा, नीचे बताये गए points को follow करे.
  1. अपनी Language में English select करे.
  2. अपनी Location में India select करे.
  3. अब configure locales में United States – en US.UTF8 को select करे.
  4. अब Keyboard में American english select कर सकते हो.
  5. अब Hostname में अपने computer का Name enter करे.
  6. Domain में अपना website URL enter करे.
  7. अब एक Root Password create करे.

10. अब यह सब करने के बाद Disk Partition में Guided – use entire disk select करे, और उसके बाद दो बार Continue Press करे.

11. Partition disks में All files in one partition select करे और Finish partition and write changes to disk पर क्लिक करके Continue पर क्लिक करे.

12. अब write changes to disk में Yes पर क्लिक करके Continue पर क्लिक करे, अब कुछ time की process होगी। (time थोड़ा ज्यादा भी लग सकता है.)

13. अब network mirror में Yes select करे और HTTP Proxy info को Blank रहने दे. फिर Continue पर क्लिक करे.

14. अब Grub Boot Loader को install करले, फिर Yes पर क्लिक करे.

15. अब आपका Kali Linux successfully installed हो जायेगा. automatically restart होने के बाद Kali GNU/Linux पर क्लिक करके open कर ले.

16. अब अपना username or password type करे. (आपका username or password वही है, जो आपने ऊपर set किया है, step9 में point 5 or 7 को पढ़े.)

17. अब Sign in करने के बाद आपका Kali Linux ready है. now you can use.

तो दोस्तों इस तरह आप अपने computer में Kali Linux install कर सकते हो. और आसानी से अपने किसी भी कंप्यूटर और लैपटॉप में windows के साथ ही काली लिनक्स को use कर सकते हो.

उम्मीद है अब आप जान चुके होंगे की काली लिनक्स क्या है? what is kali linux in hindi? & how to install kali linux operating system in hindi? Kali Linux क्या है? कंप्यूटर में Install कैसे करें?

यह भी पढ़े:

Hope की आपको काली लिनक्स क्या है? और कंप्यूटर में इनस्टॉल कैसे करें? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।


अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

20 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here