Podcast क्या है? (Podcast Meaning In Hindi)


वर्तमान समय में सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या अधिक है, क्योंकि लोगों को अपने विचार शेयर करना बहुत ही अच्छा लगता है। सोशल मीडिया पर अधिकतर लोग अपने विचारों को शेयर करने के लिए शब्दों का सहारा ही लेते हैं परंतु आजकल सोशल मीडिया में एक नया शब्द काफी प्रचलन में है जिसे पॉडकास्ट कहा जाता है। क्या आप जानते है कि Podcast क्या है? (Podcast Meaning In Hindi)

Podcast क्या है? (Podcast Meaning In Hindi)

पॉडकास्ट का मतलब होता है ऑडियो फॉर्मेट में अपनी जानकारी लोगों के साथ शेयर करना। अगर आप भी पॉडकास्ट बनाना चाहते हैं तो आपको पहले यह जानना पड़ेगा कि Podcast क्या है? (Podcast Meaning In Hindi) और “पॉडकास्ट कैसे बनाया जाता है” इस आर्टिकल में आपको “पॉडकास्ट के बारे में पूरी जानकारी” हम दे रहे हैं।


Podcast क्या है?

इंटरनेट पर आपको हजारों कंटेंट लिखित तौर पर मिल जाते हैं, साथ ही हजारों कंटेंट आपको ऑडियो फॉर्मेट में मिलते हैं। इस प्रकार जो कंटेंट ऑडियो फॉर्म में होता है उसे पॉडकास्ट कहा जाता है। एग्जांपल के तौर पर अभी आप यह जो आर्टिकल पढ़ रहे हैं यह टेक्स्ट फॉरमैट में है परंतु अगर हम इस आर्टिकल को ऑडियो फॉर्मेट में तब्दील कर प्रस्तुत करते हैं तो वह पॉडकास्ट बन जाएगा।

पॉडकास्ट शब्द कुल दो शब्दों से मिल करके तैयार हुआ है जिसमें पहला शब्द है प्लेयेबल ऑन डिमांड और दूसरा शब्द है ब्रॉडकास्ट। सामान्य शब्दों में कहा जाए तो पॉडकास्टिंग एक प्रकार का इंटरनेट का रेडियो है, क्योंकि पॉडकास्टिंग के अंदर जिस प्रकार में रेडियो में आवाज आती है, उसी प्रकार की ही आवाज आती है।

हालांकि रेडियो में और पॉडकास्ट में एक अंतर भी है वह अंतर यह है कि जब रेडियो में कोई प्रोग्राम आता है, तभी आप रेडियो की आवाज को सुन सकते हैं परंतु पॉडकास्ट को आप इंटरनेट की सहायता से किसी भी जगह पर प्ले करके सुन सकते हैं, साथ ही आप अपने पास मौजूद किसी भी प्रकार की इंफॉर्मेशन को भी रिकॉर्ड करके उसे पॉडकास्ट में कन्वर्ट करके दूसरे लोगों के साथ शेयर कर सकते हैं।

इंटरनेट की वजह से हमें जब कुछ भी जानकारी को सर्च करना होता है तो तुरंत ही उस जानकारी के बारे में हम गूगल पर सर्च करते हैं और सर्चिंग की प्रोसेस पूरी होने के बाद रिजल्ट के तौर पर हमें हमारी स्क्रीन पर शब्दों के तौर पर कई सारी वेबसाइट दिखाई देती हैं, परंतु पॉडकास्ट को देखते हुए ऐसा पॉसिबल है कि भविष्य में आपको रिजल्ट में शब्दों के अलावा पॉडकास्ट भी दिखाई दे, ताकि आप जानकारियों को ऑडियो के तौर पर सुन सके।

Podcast का मतलब क्या है?

जब आप ब्लॉगिंग करते हैं, तो उसमें आप पोस्ट लिखते हैं और उस पोस्ट को आप लोगों के साथ शेयर करते हैं, उसी प्रकार से पॉडकास्ट भी एक प्रकार की ब्लॉगिंग है, जिसमें आप अपनी किसी भी प्रकार की इंफॉर्मेशन को ऑडियो के फॉर्म में स्टोर करते हैं और ऑडियो के फॉर्म में ही लोगों तक जानकारियों को पहुंचाते हैं।

इसमें आपको अपनी बातों को या फिर अपनी इंफॉर्मेशन को ऑडियो के तौर पर रिकॉर्ड करना होता है और उसे पोस्ट करना होता है। जैसे आप किसी वीडियो को अपने स्मार्टफोन के कैमरे के जरिए रिकॉर्ड करते हैं उसी प्रकार आपको पॉडकास्ट के अंदर सिर्फ आपकी आवाज को ही रिकॉर्ड करना होता है और उसे लोगों के साथ शेयर करना होता है। जब हम किसी जानकारी को ऑडियो के तौर पर स्टोर करते हैं तो उसे पॉडकास्ट कहा जाता है और उस जानकारी को जिस जगह पर लोग सुनते हैं, उसे पॉडकास्टिंग कहा जाता है।

जिस प्रकार यूट्यूब पर कोई वीडियो पसंद आने पर आप उस वीडियो को जिस चैनल पर अपलोड किया गया है उस चैनल को सब्सक्राइब करते हैं, उसी प्रकार आप कोई पॉडकास्ट पसंद आने पर उस पॉडकास्ट को जिस चैनल पर अपलोड किया गया है, उस चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं। ऐसा करने पर जब नया पॉडकास्ट उस चैनल के द्वारा जारी किया जाएगा, तो आपको उसकी नोटिफिकेशन प्राप्त हो जाएगी, जिससे आप उस पॉडकास्ट को जल्दी से सुन सकते हैं।

Podcast का इतिहास क्या है?

वीडियो जोकी एडम करी और सॉफ्टवेयर डेवलपर दवे विनर के द्वारा साल 2004 में पॉडकास्ट को पहली बार डेवलप किया गया था। दरअसल एडम करी ने iPodder नाम का एक प्रोग्राम तैयार किया था। इसी प्रोग्राम के आईडिया पर कई डेवलपर ने काम किया और इस प्रकार पॉडकास्टिंग शुरू हुई।

वर्तमान के समय में पॉडकास्टिंग करना फायदेमंद भी हो गया है, क्योंकि पॉडकास्टिंग करने से कई लोगों की कमाई भी हो रही है। साल 2019 में प्यू रिसर्च सेंटर ने एक रिपोर्ट जारी की थी जिसमें बताया गया था कि अमेरिका के लगभग 50 परसेंट लोगों ने पॉडकास्ट सुना था और उनमें से ऐसे लोगों की संख्या काफी अधिक थी जिन्होंने सप्ताह में कई बार पॉडकास्ट को सुना था।

Podcasting कैसे करें?

पॉडकास्टिंग कैसे करे अब हम आपको इसके बारे मे जानकारी देंगे। पॉडकास्टिंग करने के लिए आपको सबसे पहले तो पॉडकास्ट बनाना होता है और उसके बाद आपको उसे पॉडकास्टिंग वाले प्लेटफार्म पर अपलोड करने की आवश्यकता पड़ती है। नीचे हम आपको टॉप 3 पॉडकास्टिंग प्लेटफार्म की जानकारी दे रहे हैं।


1: www.Podbean.com
2: www.Spreaker.com
3: www.anchor.com

ऊपर हमने आपको 3 ऐसी वेबसाइट के नाम दिए हुए हैं, जहां पर आप अपना पॉडकास्ट बना करके अपलोड कर सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप वर्डप्रेस ब्लॉग ऑपरेट करते हैं तो आप उसके अंदर सीरियसली सिंपल पॉडकास्टिंग नाम का प्लग इन इंस्टॉल कर सकते हैं।

जब आप अपने वर्डप्रेस ब्लॉग में सीरियसली सिंपल पॉडकास्टिंग प्लगइन को इंस्टॉल करते हैं, तो आपका जो पॉडकास्ट होता है, वह वेब होस्टिंग के अंदर ही स्टोर हो जाता है और जिस प्रकार आप नॉर्मल तौर पर अपने ब्लॉग में पोस्ट करते हैं उसी प्रकार आप पॉडकास्ट भी अपने ब्लॉग में पोस्ट कर सकते हैं।

आपको हम यह भी बता दें कि पॉडकास्ट को रिकॉर्ड करने के लिए एक माइक्रोफोन की आवश्यकता आपको होती है, साथ ही आपके पास स्मार्टफोन भी होना चाहिए।

इस प्रकार आप पॉडकास्टिंग करना चालू कर सकते हैं। जब कभी भी आप पॉडकास्टिंग करना चालू करें तो इस बात का ध्यान रखें कि आप जो रिकॉर्ड कर रहे हैं, वह बिल्कुल साफ तौर पर रिकॉर्ड होना चाहिए, तभी पॉडकास्टिंग सुनने में मजा आता है।

Podcasting करने के फायदे क्या हैं?

पॉडकास्टिंग करने से आपको मुख्य तौर पर 3 प्रकार के फायदे प्राप्त होते हैं, जिसकी डिटेल्स आपको आगे उपलब्ध की जा रही है।

1: ब्रांड निर्माण

अगर आप ऐसा पॉडकास्ट बनाते हैं जो काफी इंटरेस्टिंग है तो आपके द्वारा बनाए गए पॉडकास्ट को सुनने के लिए लोग बार-बार आपकी वेबसाइट को विजिट करेंगे और इस प्रकार से जब बार-बार आपकी वेबसाइट पर विजिटर आएंगे, तो आप का ब्रांड भी बनेगा।

2: पैसे कमाना

पॉडकास्ट के द्वारा ना सिर्फ आप अपनी जानकारी लोगों तक पहुंचा सकते हैं बल्कि आप इसके जरिए पैसे कमा सकते हैं। पॉडकास्टिंग के जरिए पैसे कमाने के लिए स्पॉन्सरशिप और मंथली सब्सक्रिप्शन मॉडल का सिस्टम आप लागू कर सकते हैं और इस प्रकार से आप पॉडकास्टिंग के जरिए पैसे कमा सकते हैं।

3: यूजर इंगेजमेंट

अगर आप अपने खुद के ब्लॉग पर आर्टिकल लिखते हैं या फिर आपके पास ऐसी वेबसाइट है, जिस पर आप आर्टिकल लिखते हैं तो आप उस पर पॉडकास्ट को अपलोड करके विजिटर की संख्या को डबल कर सकते हैं।

दरअसल जब आप पॉडकास्टिंग अपनी वेबसाइट के जरिए करते हैं, तो आपकी वेबसाइट या फिर ब्लॉग के विजिटर आपकी वेबसाइट पर अधिक समय बिताने लगते हैं, जिसकी वजह से आपकी वेबसाइट की सर्च इंजन रैंकिंग भी बढ़ती है और आपकी वेबसाइट का बाउंस रेट भी कम होता है। इसके अलावा अगर आप अपनी वेबसाइट पर एडवर्टाइजमेंट दिखाते हैं तो उस पर क्लिक आने की संभावना भी अधिक होती है, जिससे आप की कमाई भी अधिक होती है।

Podcasting से पैसे कैसे कमाए?

पॉडकास्टिंग के जरिए आप दो प्रकार से पैसे कमा सकते हैं, जिसमें पहला तरीका है स्पॉन्सरशिप और दूसरा तरीका है मंथली सब्सक्रिप्शन मॉडल। नीचे हम आपको इन दोनों ही तरीके के बारे में इंफॉर्मेशन प्रोवाइड करवा रहे हैं।

1: स्पॉन्सरशिप

स्पॉन्सरशिप के जरिए पैसा कमाने के लिए आपको किसी विशेष प्रोडक्ट के बारे में अपने ऑडियंस को पॉडकास्ट के जरिए जानकारी देनी है और जैसे-जैसे आपके पॉडकास्ट को सुनने वाले लोगों की संख्या बढ़ती जाएगी, वैसे वैसे आप स्पॉन्सरशिप के जरिए काफी बढ़िया पैसे कमा सकते हैं।

उदाहरण के तौर पर अगर आपने कोई पॉडकास्ट अपलोड किया और उसे 1000 लोग सुनते हैं, तो आसानी से आप इसके बदले में ₹700 से लेकर के ₹1000 तक स्पोंसर चार्ज कर सकते हैं। हालांकि जब आपके पॉडकास्ट को सुनने वाले लोगों की संख्या अधिक हो जाए, तब आप अपना स्पॉन्सर का रेट भी बढ़ा सकते हैं, जिससे आपको अधिक फायदा प्राप्त होगा।

2: मंथली सब्सक्रिप्शन मॉडल

जब आप पॉडकास्टिंग की फील्ड में आगे बढ़ते जाएंगे तो अधिक पैसा कमाने के लिए आप मंथली सब्सक्रिप्शन मॉडल का भी यूज कर सकते हैं, जिसका मतलब यह होता है कि आप अपने पॉडकास्ट को सुनने के लिए पैसे देने का सिस्टम लागू कर सकते हैं।

एग्जांपल के तौर पर आप कुछ पॉडकास्ट को फ्री में रख सकते हैं और आप अपने विजिटर को यह कह सकते हैं कि अगर उन्हें आगे का पॉडकास्ट सुनना है तो उन्हें आपके द्वारा जारी किए गए मंथली सब्सक्रिप्शन प्लान को लेना पड़ेगा।

एग्जांपल के तौर पर अगर आप अपने पॉडकास्ट के लिए ₹100 महीने में चार्ज करते हैं और 300 लोग भी आपके पॉडकास्ट को सुनने के लिए मंथली सब्सक्रिप्शन लेते हैं तो आपकी महीने की कमाई 30,000 के आसपास में हो जाएगी और अगर इससे भी अधिक लोग आपके सब्सक्रिप्शन को लेते हैं, तो आप की कमाई डबल हो जाएगी। हालांकि आप अपने पॉडकास्ट को सुनने के लिए कितने पैसे मंथली सब्सक्रिप्शन के तौर पर लेंगे, यह आप खुद से ही तय कर सकते हैं।

Podcast सुनने के फायदे क्या है?

पॉडकास्ट सुनने का सबसे बड़ा बेनिफिट यह है कि आपको शब्दों को पढ़ने से आजादी मिल जाती है। मान लीजिए आप कहीं पर जा रहे हैं और आपको किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त करनी है, तो आप बस अपने स्मार्टफोन में पॉडकास्ट चालू करें और उसके बाद एयर फोन लगा ले और आराम से अपनी आंखें बंद कर ले।

अब आपको आवाज के जरिए अपने कानों में आप जो भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, वह प्राप्त होंगी। इससे आपकी आंखों को भी आराम मिलेगा और आपको जानकारी भी प्राप्त होगी।

इसके अलावा अगर आपका कोई आवश्यक काम है, तो आप अपने उस काम को करते हुए भी पॉडकास्ट सुन सकते हैं। पॉडकास्ट सुनने का एक फायदा यह भी है कि आपको लंबे समय तक डिवाइस की स्क्रीन पर नहीं देखना है, क्योंकि पॉडकास्ट ऑडियो फॉर्मेट में होता है।

आपको बस आवाज सुनने पर ही अपना फोकस लगाना पड़ता है और लंबे समय तक डिवाइस की स्क्रीन पर ना देखने की वजह से आपकी आंखों पर भी डिवाइस की ब्राइटनेस का कोई भी खराब असर नहीं होता है।

Podcast के नुकसान क्या है?

जब आप रेडियो सुनते हैं तब आपको सिर्फ पावर की आवश्यकता होती है परंतु जब आप पॉडकास्ट सुनने के लिए जाते हैं तब आपको पावर के साथ ही साथ इंटरनेट की भी जरूरत पड़ती है।

इसलिए पॉडकास्ट सुनने के लिए हमारे स्मार्टफोन में या फिर हमारे कंप्यूटर में इंटरनेट प्लान अवश्य होना चाहिए। अगर हमारे स्मार्टफोन या फिर डिवाइस में इंटरनेट प्लान नहीं है तो हम पॉडकास्ट नहीं सुन सकते हैं।

इसके अलावा पॉडकास्ट का दूसरा सबसे बड़ा नुकसान यह है कि हमारे आईपी एड्रेस और कंटेंट को दूसरे ऐसे लोगों के द्वारा कॉपी किया जा सकता है, जो पॉडकास्टिंग करते हैं क्योंकि आपने जो पॉडकास्टिंग तैयार की है, उसे किसी भी दूसरे व्यक्ति के द्वारा आसानी से चेंज किया जा सकता है या फिर उसे मॉडिफाई किया जा सकता है।


Podcast कब सुने?

पॉडकास्ट सुनने का कोई भी निश्चित समय नहीं है। आपका जब मन करे तब आप पॉडकास्ट सुन सकते हैं परंतु हमारी सलाह के अनुसार अगर आपको जानकारी प्राप्त करनी है तो जब कभी भी आप का गाना सुनने का मन करे तब आपको पॉडकास्ट सुनना चाहिए।

इससे आपके पास अधिक से अधिक जानकारी होगी जिसकी वजह से आपकी नॉलेज भी बढ़ेगी। इसके अलावा जब आपको किसी भी प्रकार की जानकारी को प्राप्त करने की इच्छा हो तब आप पॉडकास्ट सुन सकते हैं क्योंकि पॉडकास्ट 24 घंटे चलता ही रहता है।

Podcast कहां से सुने?

इंटरनेट पर आपको हजारों ऐसे प्लेटफार्म मिल जाएंगे जहां पर आप आसानी से पॉडकास्ट को सुन सकते हैं परंतु नीचे हम आपको कुछ ऐसे बेस्ट प्लेटफार्म की जानकारी दे रहे हैं, जो पॉडकास्ट सुनने के लिए बहुत ही बेहतरीन माने जाते हैं। इन प्लेटफार्म पर तो आप पॉडकास्ट सुन हीं सकते हैं, साथ ही आप दूसरे प्लेटफार्म का इस्तेमाल भी पॉडकास्ट सुनने के लिए कर सकते हैं।

1: Google Podcast
2: Apple Podcast
3: Spotify
4: Anchor Fm

Podcast किस टॉपिक पर बनाये?

पॉडकास्ट को आप अपने पसंदीदा टॉपिक पर क्रिएट कर सकते हैं परंतु हमने इस बात का भी एनालिसिस किया है कि जो पॉडकास्ट ट्रेंडिंग टॉपिक पर बनाए जाते हैं, उन्हें लोगों के द्वारा भारी मात्रा में सुना जाता है।

हालांकि सबकी अपनी अपनी मर्जी है कि वह पॉडकास्ट किस सब्जेक्ट पर बनाते हैं। नीचे हमने पॉडकास्ट तैयार करने के लिए कुछ बेहतरीन टॉपिक आपके सामने प्रस्तुत किए हैं। इन टॉपिक पर बने हुए पॉडकास्ट को सुनना लोग अक्सर पसंद करते हैं। इसलिए आप भी इन टॉपिक पर पॉडकास्ट क्रिएट कर सकते हैं।

1: मोटिवेशनल
2: लव स्टोरी
3: एंटरटेनमेंट
4: न्यूज़
5: टेक्नोलॉजी
6: प्राइवेट
7: लाइफ़ हैक्स

Google Podcast क्या है?

गूगल पॉडकास्ट पॉडकास्ट ही होता है यानी कि हमारा कहने का मतलब है कि जो कंटेंट ऑडियो के फॉर्मेट में होता है उसे ही गूगल पॉडकास्ट कहा जाता है, जिसका डायरेक्ट संबंध ऑडियो कम्युनिकेशन से होता है।

जब आप इंटरनेट पर कोई जानकारी सर्च करते हैं और उस जानकारी को आप ऑडियो के फॉर्मेट में सुनते हैं तो उसे ही गूगल पॉडकास्टिंग कहा जाता है। पॉडकास्ट आप मल्टीमीडिया मोबाइल, कंप्यूटर, स्मार्टफोन के जरिए सुन सकते हैं या फिर बना सकते हैं।

स्टूडेंट के लिए 25 मोटिवेशनल पॉडकास्ट

आपको आसानी से ऑडियो फाइल में पॉडकास्ट इंटरनेट पर मिल जाएगी, जिसे आप सुन भी सकते हैं, साथ ही आप इंटरनेट से पॉडकास्ट को डाउनलोड भी कर सकते हैं। सामान्य तौर पर पॉडकास्ट किसी पार्टिकुलर सब्जेक्ट पर होते हैं और व्यक्ति को उस पार्टिकुलर सब्जेक्ट के बारे में जानकारी देते हैं। नीचे आपके सामने स्टूडेंट के लिए बेस्ट पॉडकास्ट की लिस्ट हमने दी है, जिन्हें विद्यार्थी सुन सकते हैं।

1: महानता का स्कूल
2: आकर्षण की कला
3: टिम फेरिस शो
4: जान – बूझकर
5: ग्रेटेन रूबिन के साथ हुआ
6: टोनी रॉबिंस पॉडकास्ट
7: हिडन ब्रेन
8: प्रेरणा रिपोर्ट
9: ओपरा की सुपर सोल वार्तालाप
10: आदत कोच
11: एक जो आप खिलाते हैं
12: द मिनिमलिस्ट
13: द गुड लाइफ प्रोजेक्ट
14: सफलता का विज्ञान
15: राष्ट्र को प्रेरित करें
16: गैरीवी ऑडियो अनुभव
17: आखिरकार करोड़पति
18: टेड वार्ता स्वास्थ्य
19: प्रधान आधार
20: द हैप्पीनेस लैब

बेस्ट पॉडकास्टिंग प्लेटफॉर्म

आप जब पॉडकास्ट सुनने के लिए इंटरनेट पर सर्च करते हैं तो आपको हजारों प्लेटफार्म मिल जाते हैं जिनमें से कुछ प्लेटफार्म ऐसे होते हैं जहां पर काफी कम संख्या में पॉडकास्ट होते हैं। वहीं कुछ पॉडकास्टिंग प्लेटफार्म पर पॉडकास्ट अधिक मात्रा में होते हैं। नीचे हमने आपके सामने कुछ ऐसे प्लेटफार्म के नाम प्रस्तुत किए हैं, जहां पर आपको अलग-अलग टॉपिक पर हजारों पॉडकास्ट मिल जाएंगे, जो सुनने में भी इंटरेस्टिंग है।

1: Anchor.FM
2: Podbean Podcast platform
3: BuzzSprout
4: Google Podcast
5: Khabri Studio App
6: Pocket FM
7: Spreker Podcast Studio

बेस्ट हिंदी पॉडकास्ट एप्लीकेशन

नीचे आपके सामने हमने उन एप्लीकेशन के नाम प्रस्तुत किए हैं, जहां पर आपको हिंदी लैंग्वेज में हजारों पॉडकास्ट अलग-अलग सब्जेक्ट के ऊपर मिल जाएंगे। इनमें से अधिकतर एप्लीकेशन आपको गूगल प्ले स्टोर पर प्राप्त हो जाएंगी और जो एप्लीकेशन आपको गूगल प्ले स्टोर पर प्राप्त नहीं होती है, उसकी एपीके फाइल को आप इंटरनेट से डाउनलोड कर सकते हैं।

1: Aawaz
2: Headfone
3: Google Podcasts
4: Kuku FM
5: Pocket FM
6: Khabri
7: Vaarta
8: Spotify

वर्ल्ड के टॉप पॉडकास्टर्स

हमने आपको बेस्ट पॉडकास्टिंग प्लेटफार्म के बारे में भी बताया, साथ ही बेस्ट पॉडकास्टिंग एप्लीकेशन के बारे में भी बताया। नीचे हमने आपको ऐसे लोगों के नाम दिए हैं जो दुनिया भर के बेस्ट पॉडकास्टर्स माने जाते हैं। इन लोगों में आप भी अच्छा पॉडकास्ट बना करके अपने नाम को शामिल कर सकते हैं।

1: जो रोगान
2: एंजेला किन्से और जेना फिशर
3: जॉन फेवर्यू, जॉन लवेट और थॉमस विएटो
4: एशले फूल और ब्रिट प्रवाती
5: चार्ल्स ब्रायंट और जोश क्लार्क
6: एलेक्जेंड्रा कूपर
7: करेन किलगरिफ और जॉर्जिया हार्डस्टार्क
8: बेंजामिन शैपिरो
9: माइकल बारबरो
10: एशले केली और अलीना उर्कहार्ट

हमने इस आर्टिकल के द्वारा आपको “पॉडकास्ट क्या है (Podcast Meaning In Hindi)” और “पॉडकास्ट कैसे बनाया जाता है” बारे में जानकारी दी है

Hope आपको Podcast क्या है? (Podcast Meaning In Hindi) का यह पोस्ट पसंद आया होगा, ओर हेल्पफ़ुल लगा होगा।


दोस्तो! हमें उम्मीद है आज का यह लेख आपके लिए महत्वपूर्ण साबित हुआ होगा। आप इस लेख से जुड़े अपने विचारों को कमेंट की मदद से हमें बता सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here