पीपीटी क्या है? PPT Full Form in Hindi


आपने देखा होगा कि अकसर प्रसेंटेशन के दौरान किसी प्रोजेक्ट को समझाने के लिए एक एलसीडी टीवी जैसी स्क्रीन पर दिखाई जाती है जिससे वहां मौजूद लोगों को यह मालूम होता है कि आखिर प्रोजेक्ट में क्याक्या है अथवा प्रोजेक्ट के अंतर्गत क्या होना है, उसे पीपीटी कहा जाता है। पीपीटी तैयार करने के लिए अधिकतर पावर पॉइंट का इस्तेमाल किया जाता है। दोस्तों आजके इस पोस्ट में हम जानिंगे की आख़िर पीपीटी क्या है? PPT Full Form in Hindi!

पीपीटी क्या है? PPT Full Form in Hindi

इसका अर्थ यह होता है कि अगर आपको किसी प्रोजेक्ट को आसान भाषा में समझाना है तो आप पीपीटी का इस्तेमाल कर सकते हैं और पीपीटी का इस्तेमाल करके जो प्रोजेक्ट तैयार किया जाता है, उसे पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन कहा जाता है। 


इस आर्टिकल में हम “पीपीटी क्या है?औरपीपीटी का मतलब क्या होता हैइसके बारे में तथा अन्य जानकारियों के बारे में समझने का प्रयास करेंगे।

पीपीटी क्या है?

यह माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस का ही एक भाग है जो कि एक प्रकार का सॉफ्टवेयर भी है। इसका इस्तेमाल करके किसी भी ऑब्जेक्ट या फिर सब्जेक्ट को बेहतर ढंग से प्रस्तुत करने के लिए फोटो, टेक्स्ट या फिर वीडियो का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके द्वारा जिस फाइल को तैयार किया जाता है उसे पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन कहा जाता है और किसी प्रकार के प्रोजेक्ट को समझाने के लिए खास तौर पर इसका इस्तेमाल किया जाता है। बड़ी बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी में जब कोई प्रोजेक्ट लाया जाता है तो उसे कंपनी के अधिकारियों को बताने के लिए पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन का ही इस्तेमाल होता है। 

पावर पॉइंट में पीपीटी फाइल को तैयार करने के लिए हमें विभिन्न प्रकार के काफी इफेक्टिव टुल प्राप्त होते हैं और उन टूल का इस्तेमाल करके हम एक अट्रैक्टिव पीपीटी बना पाते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आप पीपीटी फाइल को एडिट करने के लिए पावर पॉइंट का तो इस्तेमाल कर ही सकते हैं। इसके अलावा कुछ अन्य ऐसे सॉफ्टवेयर भी आते हैं जिसका इस्तेमाल आप पीपीटी फाइल को एडिट करने के लिए कर सकते हैं।

पीपीटी का फुल फॉर्म क्या है?

PPT: “PowerPoint Presentation”

पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन को हिंदी भाषा में पावर पॉइंट प्रदर्शन के तहत उच्चरित किया जाता है। अगर इसकी सामान्य शब्दों में व्याख्या की जाए तो इसे प्रस्तुत करना भी कह सकते हैं अथवा प्रेजेंट करना भी कह सकते हैं। इसका इस्तेमाल कंप्यूटर में किया जाता है। यह एक एक्सटेंशन फाइल है और यह एक्सटेंशन फाइल माइक्रोसॉफ्ट पावरप्वाइंट के साथ मिलकर के स्लाइड शो तैयार करती है।

पीपीटी का अन्य फुल फॉर्म क्या है?

नीचे जानिए पीपीटी के अन्य फुल फॉर्म क्या होते है।

  • PPT – Program Performance Test
  • PPT – People Process Technology
  • PPT – Parts Per Thousand
  • PPT – Post Production Test
  • PPT – Pre Placement Talk
  • PPT – Power Point Presentation
  • PPT – Pulsed Plasma Thruster
  • PPT – Project Progress Tracking
  • PPT – Planning And Placement Team
  • PPT – Processing Program Table
  • PPT – Probabilistic Polynomial Time
  • PPT – Production Prove-Out Test
  • PPT – Program Planning Team
  • PPT -Parts Per Trillion

फ़ाइल एक्सटेंशन क्या है?

आपकी फाइल किस टाइप की है, इसके बारे में आपके कंप्यूटर को इंफॉर्मेशन देने का काम एक्सटेंशन करता है और पीपीटी फाइल एक्सटेंशन कंप्यूटर को यह बताता है कि कोई फाइल कैसी है।

 बता दें कि जो नाम सेव किए जाते हैं, उनमें आखिरी के 3 या फिर 4 अक्षर फाइल एक्सटेंशन होते हैं और हर फाइल एक्सटेंशन के लिए विंडोज सामान्य तौर पर डिफॉल्ट प्रोग्राम ऐड करता है। उदाहरण के तौर

.doc, .xlsx, (.pptx) आदि।

पीपीटी डिजाइन क्या है?

यह स्लाइड के ग्रुप का ब्लूप्रिंट होता है जिसे हम और आप एक फॉर्मेट के तौर पर सेव करते हैं। इसमें कलर, टेक्स्ट, इफेक्ट, बैकग्राउंड स्टाइल, लेआउट और दूसरी सामग्री शामिल हो सकती है। आप अपना खुद का कस्टम टेंपलेट भी तैयार कर सकते हैं और उन्हें स्टोर कर सकते हैं, साथ ही उसका फिर से आप इस्तेमाल कर सकते हैं और उसे अन्य लोगों के साथ शेयर कर सकते हैं।

पीपीटी का उपयोग क्या है?

यह एक बहुत ही पावरफुल और सरलता के साथ इस्तेमाल किया जाना वाला प्रेजेंटेशन ग्रैफिक्स सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है। इसके जरिए आफ प्रोफेशनल दिखाई देने वाले इलेक्ट्रॉनिक स्लाइड शो बना सकते हैं और अपने प्रेजेंटेशन को बेहतर ढंग से प्रस्तुत कर सकते हैं।

PPT कौन इस्तेमाल करता है?

पीपीटी एक ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर है और इसीलिए कोई भी व्यक्ति इसका इस्तेमाल कभी भी कर सकता है, साथ ही इसे इस्तेमाल करने के लिए उसे 1 देने की आवश्यकता नहीं है। देखा जाए तो मुख्य तौर पर एजुकेशन की फील्ड में तथा बिजनेस और कंपनी की फील्ड में इसका इस्तेमाल भारी पैमाने पर किया जाता है, साथ ही साथ कॉरपोरेट सेक्टर में भी पीपीटी का इस्तेमाल ज्यादा होता है।

इसके अलावा ऐसे हर क्षेत्र में  जहां पर प्रोजेक्ट को समझाने की आवश्यकता होती है, वहां पर पीपीटी का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें स्लाइड होती है जो एक के बाद एक ऑटोमेटिक निश्चित टाइमिंग पर आती रहती है। इसलिए पीपीटी के द्वारा प्रोजेक्ट को बेहतर ढंग से प्रदर्शित किया जा सकता है।

पीपीटी की विशेषताएँ क्या है?

आपने ऊपर जाना की पीपीटी का फुल फॉर्म क्या होता है, साथ ही पीपीटी क्या होती है और पीपीटी का इस्तेमाल कौन करता है। आइए नीचे आपको पीपीटी के फीचर के बारे में जानकारी देते हैं।

1: स्लाइड

इसमें स्लाइड प्लेन पन्ना होता है। यह बिल्कुल उसी प्रकार होता है, जिस प्रकार हमारे नोटबुक में होता है। नोटबुक में जब हम किसी एक पन्ने पर काम कर लेते हैं, तो फिर हम आगे वाले पन्ने पर काम करना चालू करते हैं। उसी प्रकार इसमें भी स्लाइड होती है, जिसमें एक स्लाइड पूरी हो जाने के पश्चात दूसरी वाली स्लाइड आ जाती है।


2: डिजाईन टेम्पलेट

यहां पर आपको अलगअलग प्रकार के शानदार टेंपलेट और डिजाइन प्राप्त हो जाती है, जिसका इस्तेमाल करके आप अपने प्रेजेंटेशन को काफी अट्रैक्टिव बना सकते हैं।

3: चित्र

आप कोई प्रेजेंटेशन तैयार कर रहे हैं और उसमें अगर आपको फोटो डालनी है तो आप इस फीचर की सहायता से उसमें फोटो डाल सकते हैं और इसके लिए आप अपने स्मार्टफोन या फिर अपने कंप्यूटर में सेव की गई फोटो का इस्तेमाल कर सकते हैं।

4: आकृति

यहां पर अलगअलग प्रकार की आकृति आपको प्राप्त होती है जैसे कि रेक्टेंगल, ट्रायंगल, सर्कल इत्यादि।

5: एनीमेशन

अपने स्लाइड को अट्रैक्टिव बनाने के लिए आप एनिमेशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अंतर्गत आप फोटो भी ऐड कर सकते हैं, टेक्स्ट भी ऐड कर सकते हैं और दूसरे इफेक्ट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

6: वीडियो

अगर आप अपने प्रोजेक्ट में कोई वीडियो लगाना चाहते हैं तो आप वीडियो भी लगा सकते हैं और अपने प्रोजेक्ट को और भी अट्रैक्टिव बना सकते हैं।

7: ट्रांजीशन

एक स्लाइड से दूसरे स्लाइड में जाते समय जो इफेक्ट होता है उसे ही ट्रांजिशन कहा जाता है। इसलिए आप इसका इस्तेमाल करके अलगअलग स्लाइड को डिफरेंट टाइप के इफेक्ट दे सकते हैं।

पीपीटी कैसे बनाते है?

पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन बनाना कोई मुश्किल काम नहीं है। हालांकि जो लोग इसके बारे में पहली बार सुनते हैं या फिर जो इसे पहली बार इस्तेमाल करते हैं, उन्हें इसे बनाने में काफी कठिनाई होती है। इसलिए नीचे हमने आसान शब्दों में साथ ही साथ आसान स्टेप्स में यह समझाने का प्रयास किया है कि पीपीटी ऑनलाइन कैसे बनाया जाता है। आइए जानते हैं पीपीटी बनाने का तरीका क्या है।

1: आपको सबसे पहले अपना पर्सनल कंप्यूटर ओपन कर लेना है और उसमें पावरप्वाइंट सॉफ्टवेयर को स्टार्ट कर लेना है यानी कि ओपन कर लेना है।

2: सॉफ्टवेयर स्टार्ट हो जाने के पश्चात आपको अपने कंप्यूटर की स्क्रीन पर ऊपर की साइड में फाइल बटन पर क्लिक कर देना है और आपको न्यू फाइल का सिलेक्शन करना है।

3: अब आपको न्यू प्रेजेंटेशन डायलॉग बॉक्स में चले जाना है और वहां पर आपको जाने के पश्चात जो फ्रॉम डिजाइन टेंप्लेट का ऑप्शन दिखाई दे रहा है, उसके ऊपर क्लिक करना है और ऐसा करने के बाद में आपको अपनी फेवरेट डिजाइन का सिलेक्शन कर लेना है।

4: अपनी फेवरेट डिजाइन का सिलेक्शन कर लेने के बाद आपको एक टेंपलेट का सिलेक्शन करना है। इसके लिए आपको न्यू प्रेजेंटेशन डायलॉग बॉक्स में कलर स्कीम्स पर क्लिक करना है और अपने टेंपलेट के लिए एक पसंदीदा कलर का सिलेक्शन कर लेना है।

5: अब आपको अपनी स्क्रीन की दाईं तरफ स्लाइड लेआउट का एक बॉक्स दिखाई देगा, वहां से आप चाहे तो स्लाइड लेआउट के लिए डिजाइन का सिलेक्शन कर सकते हैं।

6: अब आपको अपनी स्क्रीन पर जहां पर click to add title लिखा हुआ है, वहां पर क्लिक कर देना है और जो भी टेक्स्ट आप ऐड करना चाहते हैं उसे आपको ऐड कर देना है।

7: अगर आपको प्रेजेंटेशन में क्लिप आर्ट शामिल करनी है या फिर पिक्चर शामिल करनी है तो आप क्लिप आर्ट या फिर पिक्चर वाले ऑप्शन पर क्लिक करके पिक्चर को ऐड कर सकते हैं। आप चाहें तो अपने कंप्यूटर में सेव पिक्चर का भी सिलेक्शन कर सकते हैं या फिर आप ऑनलाइन पिक्चर का भी सिलेक्शन कर सकते हैं। इसके अलावा आप फोटो का आकार भी चेंज कर सकते हैं।

8: जब आपको यह लगे कि आपका पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन बन करके तैयार हो गया है तो उसके बाद आप फाइल में चले जाएं और सेव एस का जो ऑप्शन दिखाई दे रहा है, उस पर क्लिक कर दें। ऐसा करने पर आपकी पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन सेव हो जाएगी।

PPT फाइल को कैसे खोलें?

अगर आपने अपनी पीपीटी फाइल बना ली है और आप उसे खोलना चाहते हैं यानी कि ओपन करना चाहते हैं अथवा आप किसी भी पीपीटी फाइल को ओपन करना चाहते हैं, तो इसके लिए बस आपको उस पीपीटी फाइल को अपने पीसी में ओपन करना है और उसके बाद डबल क्लिक कर देना है। अगर फाइल में कोई भी एरर नहीं होगा तो पीपीटी फाइल ओपन हो जाएगी।

इस प्रकार आसानी के साथ आप पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन फाइल को सिर्फ डबल क्लिक करके ही ओपन कर सकते हैं। हालांकि बता दे कि कुछ जगह पर यह ऑटोमेटिक ओपन नहीं होती है, क्योंकि इसे सपोर्ट करने वाला सॉफ्टवेयर या फिर एप्लीकेशन नहीं होता है। 


ऐसी सिचुएशन में आपको इसे सपोर्ट करने वाले सॉफ्टवेयर या फिर एप्लीकेशन को इंस्टॉल कर लेना है और उसके बाद फिर से इसके ऊपर डबल क्लिक करना है। ऐसा करने पर यह ओपन हो जाएगा।

PPT को PDF में कैसे बदलें?

पीपीटी फाइल को आप आसानी के साथ पीडीएफ फाइल में कन्वर्ट कर सकते हैं और इसके लिए आपके पास विभिन्न प्रकार के ऑप्शन भी उपलब्ध होते हैं। आप पीपीटी फाइल को ऑनलाइन भी पीडीएफ में कन्वर्ट कर सकते हैं या फिर आप इसे ऑफलाइन पीडीएफ में कन्वर्ट कर सकते हैं।

अगर आप पीपीटी फाइल को online pdf में कन्वर्ट करना चाहते हैं तो इसके लिए आप आईलवपीडीएफ, small pdf जैसी वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं और अगर ऑफलाइन इसे आप कन्वर्ट करना चाहते हैं तो आप माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस 2010,2013,2016 में इसे कन्वर्ट कर सकते हैं।

इस आर्टिकल में आपने जाना है किपीपीटी का फुल फॉर्म क्या होता हैसाथ ही आपनेपीपीटी क्या होता हैइसके बारे में भी आर्टिकल में जानकारी प्राप्त की। इसके अलावापीपीटी को पीडीएफ में बदलने का तरीकाभी आपने आर्टिकल में जाना, साथ हीपीपीटी फाइल को ओपन कैसे करते हैंइसके बारे में भी आपने आर्टिकल में जानकारी प्राप्त की।

यह भी पढ़े:

Hope की आपको पीपीटी क्या है? PPT Full Form in Hindi? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।


अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here