पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है और उसमें क्या अंतर है?


फोन खरीदने के बाद उसमें सबसे पहले जो मुख्य चीज डाली जाती है, वह होता है सिम कार्ड, क्योंकि अगर आपके फोन में सिम कार्ड नहीं होगा तो ना तो आप किसी अन्य व्यक्ति को कॉल लगा सकेंगे, ना ही उसे मैसेज कर सकेंगे ना ही इंटरनेट सर्विस का आनंद उठा सकेंगे। इसलिए इन सभी चीजों का आनंद उठाने के लिए फोन में सिम कार्ड लगाना पड़ता है, जो की बहुत ही छोटे साइज में आता है। दोस्तों आजके इस पोस्ट में हम जानिंगे की पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है और उसमें क्या अंतर है?

पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है और उसमें क्या अंतर है?

हमारे इंडिया में कुल 2 प्रकार के सिम कार्ड मिलते हैं, जिसमें पहला होता है प्रीपेड सिम कार्ड और दूसरा होता है पोस्टपेड सिम कार्ड। इंडिया में देखा जाए तो अधिकतर प्रीपेड सिम कार्ड का ही इस्तेमाल किया जाता है।


हालांकि पोस्टपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या भी कम नहीं है। अब इन दोनों के बीच आखिर क्या अंतर है और PREPAID और POSTPAID क्या होता है। इनके बारे में भी जानना आवश्यक है जो आप इस आर्टिकल में जानेंगे।

पोस्टपेड क्या होता है?

पोस्टपेड भी सिम कार्ड का ही एक प्रकार होता है, जिस प्रकार आप प्रीपेड सिम कार्ड में CALLING, SMS और NET का फायदा उठाते हैं, उसी प्रकार आप आसानी से पोस्टपेड सिम कार्ड का भी इस्तेमाल करके इन सभी सर्विस का आनंद उठा सकते हैं। 


हालांकि इसके लिए आपको BILL की पेमेंट महीने में करनी पड़ती है या फिर साल में एक साथ करनी पड़ती है।‌ कहने का मतलब यह है कि पोस्टपेड सिम कार्ड के अंतर्गत आपको प्लान के हिसाब से साल भर या फिर महीने में फोन सर्विस का आनंद उठाना पड़ता है और उसकी बिल की पेमेंट आपको एक साथ महीने में या फिर साल में करनी पड़ती है।

अगर आपको अभी भी समझ में नहीं आया तो बता दे कि मान लीजिए कि आपने पोस्टपेड सिम कार्ड ले कर के रखा है, तो आप महीने भर पोस्टपेड सिम कार्ड की सर्विस का आनंद उठाएंगे और महीना पूरा होने के पश्चात आपको जितना भी बिल बना हुआ होगा, उसकी पेमेंट एक साथ करनी पड़ेगी। 

इसलिए जो लोग कालिंग का इस्तेमाल अधिक करते हैं या फिर इंटरनेट भारी मात्रा में चलाते हैं वह पोस्टपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं, साथ ही जो बिजनेस करने वाले लोग हैं वह भी इस सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं। इसमें रिचार्ज खत्म होने का डर बिल्कुल भी नहीं रहता है क्योंकि आपको इसके बिल की पेमेंट महीने में करनी पड़ती है। इसलिए जो लोग बार-बार रिचार्ज करवाना पसंद नहीं करते हैं वह लोग पोस्टपेड सिम कार्ड लेते हैं।

प्रीपेड क्या होता है?

यह भी सिम कार्ड का ही एक प्रकार है और आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अधिकतर स्मार्टफोन में PREPAID SIM CARD का ही इस्तेमाल होता है। प्रीपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल जो भी लोग करते हैं उन्हें हर महीने निश्चित प्लान का रिचार्ज कराना पड़ता है।

हालांकि कभी-कभी प्लान की कीमत बदलती भी रहती है। इस प्रकार व्यक्ति अपने अपने बजट के हिसाब से रिचार्ज करवाता है। इसमें रिचार्ज खत्म होने के पश्चात आप ना तो कॉल कर सकते हैं ना ही एसएमएस या फिर इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगर आपको इन सभी चीजों का इस्तेमाल करना है तो आपको रिचार्ज करवाना ही पड़ेगा। सामान्य तौर पर हमारे इंडिया में अधिक मात्रा में प्रीपेड सिम कार्ड का ही इस्तेमाल किया जाता है।

इंडिया में कुछ ऐसे भी प्रीपेड सिम कार्ड है जिसमें इमरजेंसी के तौर पर आपको ₹10 या फिर ₹20 का लोन प्राप्त हो जाता है और फिर जब आप रिचार्ज करवाते हैं तो उसमें से इतने रुपए कट जाते हैं।

आपने RELIANCE JIO का नाम तो सुना ही होगा, जिसने जिओ नाम की सिम को लॉन्च किया है, जो प्रीपेड सिम कार्ड ही है और इंडिया में करोड़ों लोगों रिलायंस जिओ सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं और इसके लॉन्च होने के बाद प्रीपेड सिम कार्ड में अनलिमिटेड प्लान उपलब्ध हो गए हैं।

और हर PLAN का RECHARGE अलग-अलग वैलिडिटी के हिसाब से आता है साथ ही उसके पैसे भी अलग-अलग होते हैं। रिलायंस जिओ के आने के बाद ही इंडिया में दूसरी टेलीकॉम कंपनियों ने भी अपने प्लान को सस्ता किया और इस प्रकार आज इंडिया में इंटरनेट का रिचार्ज करवाना काफी सस्ता हो गया है।

पोस्टपेड और प्रीपेड में क्या अंतर है?

आपने ऊपर जाना की पोस्टपेड क्या होता है और प्रीपेड क्या होता है। आइए अब पोस्टपेड और प्रीपेड के बीच डिफरेंस के बारे में भी जानकारी हासिल कर ली जाए।

  • अगर आपके पास पोस्टपेड सिम कार्ड है तो आप जितना चाहे उतना कॉलिंग, मैसेज और इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते हैं परंतु जितना आप इनका इस्तेमाल करेंगे आपका बिल भी उतना ही ज्यादा आएगा और आपको उस बिल की पेमेंट करने के पश्चात ही फिर से सर्विस प्राप्त होगी। प्रीपेड सिम कार्ड के अंतर्गत आपको रिचार्ज करवाना पड़ता है और उसके बाद ही आप इंटरनेट, कॉलिंग और मैसेज का इस्तेमाल कर सकते हैं। रिचार्ज खत्म होने के बाद आपको फिर से रिचार्ज करवाना पड़ता है।
  • पोस्टपेड सिम कार्ड के अंतर्गत आप 1 दिन में चाहे जितना इंटरनेट इस्तेमाल कर सकते हैं वही प्रीपेड सिम कार्ड के अंतर्गत इंटरनेट इस्तेमाल करने की एक लिमिट होती है, जो आपके रिचार्ज प्लान के ऊपर आधारित होती है।
  • पोस्टपेड सिम कार्ड में जो प्लान आते हैं वह काफी महंगे होते हैं। हालांकि इसके बावजूद जिन लोगों को इंटरनेट और कॉलिंग करने की सुविधा चाहिए होती है वह पोस्टपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा प्रीपेड सिम कार्ड में इंटरनेट प्लान और कॉलिंग प्लान, रिचार्ज प्लान बहुत ही सस्ते होते हैं।
  • पोस्टपेड सिम कार्ड में जो प्लान आता है, वह वैलिडिटी के साथ आता है और पोस्टपेड सिम कार्ड के अंतर्गत आपको महीने में रिचार्ज करवाना पड़ता है या फिर साल में रिचार्ज करवाना पड़ता है। वहीं प्रीपेड सिम कार्ड के अंतर्गत जो प्लान आता है वह अनलिमिटेड वैलिडिटी के साथ आता है। इसलिए जितना अधिक डाटा या फिर कॉलिंग का इस्तेमाल आप करेंगे आपका बैलेंस उतना ही तेजी के साथ खत्म होता जाता है।
  • जो बिजनेस करने वाले लोग हैं, ऐसे ही लोग अधिकतर पोस्टपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं और प्रीपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल सामान्य लोग भी करते हैं।

पोस्टपेड सिम कार्ड के फायदे क्या है?

अगर आप यह चाहते हैं कि आप बिना रिचार्ज प्लान की चिंता किए हुए आसानी के साथ बेधड़क इंटरनेट चलाएं साथ ही अनलिमिटेड कॉलिंग करें और अनलिमिटेड मैसेज भेजे तो इसके लिए पोस्टपेड सिम कार्ड काफी फायदेमंद माना जाता है, क्योंकि अगर आपके पास पोस्टपेड सिम कार्ड होगा तो आपको किसी भी प्रकार की चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। आप जब चाहे तब किसी भी व्यक्ति को कॉलिंग कर सकते हैं जितना चाहे उतना एक दिन में इंटरनेट चला सकते हैं अथवा एसएमएस भेज सकते हैं।


प्रीपेड सिम कार्ड के फायदे क्या है?

अगर आप ज्यादा बिल नहीं भर सकते हैं या फिर आपको सामान्य कॉलिंग अथवा इंटरनेट की ही आवश्यकता है, तो आपको प्रीपेड सिम कार्ड लेना चाहिए। प्रीपेड सिम कार्ड के प्लान पोस्टपेड सिम कार्ड की तुलना में काफी सस्ते आते हैं और यही वजह है कि इंडिया में प्रीपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है। 

इसमें आपको हर महीने रिचार्ज करवाना पड़ता है जो कि प्लान के हिसाब से अलग-अलग होता है। रिचार्ज करवाने के पश्चात आप प्लान के हिसाब से इंटरनेट चला सकते हैं, कॉलिंग कर सकते हैं और एसएमएस भेज सकते हैं। प्रीपेड सिम कार्ड के अंतर्गत आप जब चाहे तब अपना प्लान चेंज कर सकते हैं और दूसरे किसी बढ़िया प्लान का सिलेक्शन कर सकते हैं।

इस आर्टिकल में आपने जाना कि “पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है” साथ ही आपने आर्टिकल में इस बात की भी जानकारी हासिल की है कि “पोस्टपेड सिम कार्ड के फायदे क्या हैं” और “प्रीपेड सिम कार्ड के फायदे क्या है” इसके अलावा आपने “पोस्टपेड और प्रीपेड के बीच अंतर” के बारे में भी जाना। अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो आप अपना सवाल कमेंट बॉक्स में छोड़ दें। हम समय मिलने पर आपके सवालों का जवाब अवश्य देंगे।

यह भी पढ़े:

Hope की आपको पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है और उसमें क्या अंतर है? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।


अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here