Trojan Horse or Rats Virus Kya Hai? Computer Hack Kaise Kare

0

What is Trojan Horse or Rats Virus in Hindi? Trojan Horse or Rats Virus Kya Hai? or Isse Computer Hack Kaise Kare? Guys आज इस पोस्ट हम ट्रोजन हॉर्स और रेट्स वायरस के बारे में जानिंगे की आख़िर यह क्या है? कैसे काम करता है? इसके फ़ायदे और नुक़सान क्या है? ओर इससे किसी का भी computer हैक कैसे करे?

इंटरनेट की इस दुनिया में आसान नहीं है अपने data को secure रखना! क्योंकि hackers 24 घंटे तैयार बैठे हैं हमारे data को चुराने के लिए! क्या आप जानते हैं Trojan Horse or Rats Virus Kya Hai? यह कैसे काम करता है! यदि नहीं तो आपको बता दें एक Trojan horse के जरिये hackers आपके कंप्यूटर तक पहुचकर आपके पर्सनल या प्रोफेशनल data को चुरा सकते हैं।


इसलिए इस आर्टिकल में आपको Trojan Horse के विषय पर आपको पूरी जानकारी दी जायेगी! साथ ही आप Trojan Horse नामक इस malware या कहें virus से कैसे बचें उसके विषय पर भी हम इसी आर्टिकल में जानेंगे! तो Trojan और rat virus को सरल शब्दों में समझने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़ें! तो चलिए सबसे पहले हम समझते हैं की Trojan Horse or Rats Virus Kya Hai?

अगर आपका interest ethical hacking में है, तो Ethical Hacking क्या है? – What Is Hacking In Hindi ओर हैकर (Hacker) कैसे बने और हैकिंग कैसे सीखें? उसकी पूरी जानकारी यहाँ है।

Alert: यह पोस्ट  सिर्फ  Educational Purpose के लिए है , इसका  कोई भी गलत उपयोग ना करे. 😉 

Trojan Horse Kya Hai?

एक ट्रोजन हॉर्स या ट्रोजन वह malicious कोड या एक प्रोग्राम होता है! जो दिखने में तो legal दिखाई देता है, परंतु एक बार कंप्यूटर में इंस्टॉल होने के बाद यह आपके पूरे कंप्यूटर को कंट्रोल कर सकता है! ट्रोजन आपको धोखा देने के लिए एक फाइल या एप्लीकेशन के रूप में कार्य करता है. Trojan को हैकर्स द्वारा कंप्यूटर के डाटा को infect करने, डाटा लीक करने या चोरी करने या फिर नेटवर्क पर कुछ अन्य हानिकारक कारवाई हेतु डिजाइन किया गया है!

इसलिए डिवाइस में आने के बाद यह malware को लोड करने एवं execute करता है और एक बार वीडियो में full setup होने के बाद यह अपना कार्य करना शुरू कर देता है जिस कार्य के लिए इसे डिजाइन किया गया है!

आपको बता दें ट्रोजन को ट्रोजन वायरस या फिर ट्रोजन हॉर्स वायरस भी कहा जाता है! लेकिन कई स्थिति में ट्रोजन को ट्रोजन वायरस एवं ट्रोजन मैलवेयर भी कहा जाता है। ट्रोजन को संक्षिप्त रूप से समझने के बाद अब हमारे लिए यह समझना जरूरी हो जाता है कि

यह भी पढ़े: 5+ Best हैकिंग कमांड की जानकारी (Hacking Commands In Hindi)

ट्रोजन काम कैसे करता है?

Trojan malware को हम एक example के रूप में समझते हैं कि यह काम कैसे करता है!

आपको किसी unknown पर्सन या कंपनी के नेम से कोई ईमेल आता है! और आप उसे एक सामान्य ईमेल समझकर उस email अटैचमेंट को ओपन कर देते हैं लेकिन आपको धोखा दे दिया गया हैजी हां वह ईमेल किसी साइबर अपराधी या हैकर का था जिसे आपने क्लिक किया था।

और उस ईमेल अटैचमेंट में इस तरह की प्रोग्रामिंग की गई थी जैसे ही आपने उस ईमेल में क्लिक किया आपके डिवाइस में मालवेयर इंस्टॉल हो जाता है! और वह malware अब विक्टिम के कंप्यूटर में पहुंचकर धीरेधीरे सभी फाइल एवं डाटा को डैमेज कर देता है!

तो दोस्तों यह सिर्फ एक Example है ट्रोजन को विभिन्न कार्यों को अंजाम देने के लिए डिज़ाइन किया जाता है! लेकिन कोई भी यूज़र नहीं चाहेगा आपके डाटा या डिवाइस को ट्रोजन किसी तरीके से प्रभावित कर सके।

Trojan horse से devices को कैसे secure रखें?

Google account पर आने वाले ढेर सारे Emails में से सिर्फ उन email links को ओपन करें जिनके बारे में आपको जानकारी हो या भरोसा हो! risk से बचने के लिए आप संदेहास्पद email attachment को scan कर सकते हैं!

किसी भी unsecure website पर visit करें! Norton Safe Web जैसे internet security software आपको असुरक्षित वेबसाइट की पहचान करने में मदद करते हैं!

यह भी पढ़े: वेबसाइट हैक कैसे करे? – How To Hack Website In Hindi

• Internet का इस्तेमाल करते हुए किसी भी पॉप up windows पर क्लिक करें! हो सकता है इससे आपके device में harmful फाइल download हो जाये!

अपने device में किसी भी third party application को इनस्टॉल करें! आपको सिर्फ trusted publisher के softwares का इस्तेमाल करना चाहिए!

• Important फाइल्स का नियमित रूप से बैकअप लेते रहे! ताकि यदि कंप्यूटर Trojan infected होने पर आपका महत्वपूर्ण data safe रह सके!

device के ऑपरेटिंग सिस्टम को भी समय समय पर update करते रहें कई बार outdated OS version आपके device के harmful softwares या फाइल्स को रोकने में असमर्थ हो जाता है, साथ ही आप अपने device में इनस्टॉल softwares को भी updated रख सके!

Rats Virus Kya Hai?

वैसे तो वायरस infected कंप्यूटर के लक्षणों से आप पता कर पाते हैं कि कंप्यूटर में वायरस चुका है और उनमें से एक वायरस का नाम है RAT अर्थात remote access Trojan जिसे सामान्यतया Rat भी कहा जाता है।

RAT वायरस एक malware प्रोग्राम का एक प्रकार है जो आपके कंप्यूटर में एक वर्चुअल backdoor का निर्माण करता है!  तथा यह backdoor आपके कंप्यूटर के रिमोट को हैकर्स को प्रोवाइड करता है तथा हैकर्स आपके कंप्यूटर सिस्टम को नियंत्रित कर अपने फायदे के लिए उसका इस्तेमाल करते हैं।

दोस्तों Rat वायरस की फंक्शनैलिटी ऐसे ही है जैसे आपके कंप्यूटर में कुछ खराबी जाती तो आप रिमोट एक्सेस प्रोग्राम जैसे team viewer, anydesk का इस्तेमाल कर किसी दूर बैठे technician से कंप्यूटर में हुई प्रॉब्लम को ठीक करवाते हैं।

How Does Rats Virus Works In Hindi?

Rat malware कंप्यूटर पर आने के बाद सभी ports तथा एक्सेस मैट्रिक्स को ओपन कर देता है! जिससे हैकर्स आपके कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस को दूर बैठकर रिमोट लोकेशन से कंट्रोल कर सकते हैं

अतः यदि हैकर के पास आपके open कंप्यूटर के रिमोट एक्सेस की इंफॉर्मेशन चली जाती है, तो काफी हद तक संभावना है कि हैकर आपकी फाइल्स, पासवर्ड, ऑनलाइन बैंकिंग इंफॉर्मेशन को चोरी कर सकते है तथा आपके कंप्यूटर को डैमेज करने का कार्य कर सकते है।

यहां तक कि हैकर हार्ड ड्राइव का सारा डाटा भी उड़ा सकते हैं और illegal एक्टिविटीज को अंजाम दे सकते हैं! इसलिए यह जरूरी हो जाता है कि आप कंप्यूटर में इस तरह के attacks को Quickly solve कर सके!ताकि अनुचित रूप से आपके कंप्यूटर एक्सेस ना हो सके।

यह भी पढ़े: एक SMS Send करके किसी का Android मोबाइल Hack कैसे करे?

रैट वायरस से कैसे बचें?

Rat वायरस के प्रभाव को कंप्यूटर में आने से रोका जा सकता है! यदि आप कुछ steps लेते हैं जिसमें सबसे पहला कार्य है एक अच्छे एंटीवायरस सॉफ्टवेयर पर इन्वेस्ट करना! यदि आपके पास बजट है तो आप अपने सिस्टम में एक बेस्ट paid एंटीवायरस को इनस्टॉल करें यह infected फाइल्स को डिवाइस में आने से रुकेगा! साथ ही rat malware के इंफेक्शन को भी कंप्यूटर से दूर रखेगा।

जब आप एक अच्छे एंटीवायरस को कंप्यूटर में इंस्टॉल कर लेते हैं! तो Rat वायरस यह डिटेक्ट कर लेगा। और आपके सिस्टम की सिक्योरिटी को कोई नुकसान ना पहुंचे इसका भी वह ख्याल रखेगा।

दूसरा इफेक्टिव तरीका यह है कि आप जब भी इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो किसी भी अविश्वसनीय सोर्स से किसी फाइल एप्लीकेशन को डाउनलोड ना करें! क्योंकि इन फाइल्स में malware हो सकता है तथा रेट वायरस के भी होने की संभावना हो सकती है।

तीसरा यह कि आपको किसी unknown कंपनी या  यूजर्स द्वारा ईमेल अटैचमेंट भेजे जाते हैं! उन्हें भी बेवजह क्लिक ना करें इससे भी आप rat वायरस को प्रवेश करने से रोक सकते हैं!

इसके अलावा अंत में यह है कि आप किसी भी अविश्वसनीय वेबसाइट से कोई भी थर्ड पार्टी app को device में इनस्टॉल करें! क्योंकि रेट वायरस से बचने का एक सबसे आसान और बेहतरीन तरीका यह है कि आप ऊपर बताये गये कुछ सिंपल टिप्स को फॉलो कर अपने सिस्टम को सिक्योर रख लें जिससे आप काफी हद तक रेट वायरस के प्रभाव से अपने कंप्यूटर को बचा सकते हैं!

यह भी पढ़े: बैंक अकाउंट हैक कैसे होता है और कैसे बचाये

Trojan Horse Se Computer Hack Kaise Kare?

ट्रोजन हॉर्स से यदि आप किसी कंप्यूटर को हैक करना चाहते हैं तो आपको दो चीजों की जरूरत होगी।

1. आपको सबसे पहले एक सॉफ्टवेयर Beast अपने कंप्यूटर में इंस्टॉल करना होगा! जो आपकी हैकिंग की गतिविधियों को हैंडल करेगा।


2. दूसरा आपको mFileBinder सॉफ्टवेयर डाउनलोड करना होगा! जिससे आप किसी सॉफ्टवेयर में इस ट्रोजन को हाइड कर सकते हैं हालांकि यह ऑप्शनल है! लेकिन पहला beast सॉफ्टवेयर आप को इंस्टॉल करना होगा।

3. इन सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के बाद इन्हें अपने पीसी में इंस्टॉल कर लीजिए।इन सॉफ्टवेयर का फॉर्मेट winrar होगा! तो इन्हें पहले अपनी कंप्यूटर में extract कर लीजिए।


ध्यान दें! यदि कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर इंस्टॉल नहीं होते हैं, तो आप एक बार अपने एंटीवायरस को stop कर लीजिए।

4. उसके बाद आप आसानी से इस हैकिंग टूल्स का इस्तेमाल अपने कंप्यूटर में करवाएंगे। इंस्टॉल करने के बाद इसे ओपन कीजिए कुछ इस तरह का इंटरफेस आपके सामने होगा।

इस टूल में आपको कुछ सेटिंग्स करनी होंगी नीचे दी गई स्टेप्स को फॉलो करें!

5. यहां पर एक सर्वर का ऑप्शन दिया गया है! उस पर क्लिक करें इसके बाद नीचे दी गई विंडो में नोटिफिकेशन ऑप्शन पर क्लिक करें! और get आईपी पर क्लिक करें आपको आपका ip show हो जाएगा।

6. उसके बाद नीचे Exe icon पर क्लिक करें और किसी भी आइकन को सेलेक्ट कर लीजिए! ताकि विक्टिम को आप धोखा दे सके। फॉर एग्जांपल आप Rar file के icon को सिलेक्ट कर सकते हैं, और उसके बाद save सर्वर बटन पर क्लिक कर इस विंडो को एग्जिट कर दीजिए।

7. तो इस प्रकार आपका ट्रोजन आपके कंप्यूटर में बन चुका है. अब आपने जहां पर इन सॉफ्टवेयर्स को इंस्टॉल किया था उस फोल्डर में एक server नाम की एप्लीकेशन होगी उस पर क्लिक कर उसे launch कीजिए।

8. अब उसके बाद फिर से beast सॉफ्टवेयर पर आएं और दूसरे यूज़र का पीसी show हो जाएगा! उस यूजर पर क्लिक कर दीजिए और इस तरह विक्टिम का कंप्यूटर hack को जाएगा।

9. अब आपको स्क्रीन में start का बटन दिखाई देगा उस पर क्लिक करें। स्टार्ट बटन पर क्लिक करें अब आप देख सकते हैं दूसरे कंप्यूटर की स्क्रीन आपके पीसी में भी देखने को आपको मिल जाएगी. अब आप मैसेज बॉक्स में अपना कुछ भी मैसेज भेज सकते हैं! और इस तरह का मैसेज स्क्रीन पर देखने को मिलेगा।

10. लेकिन यदि आपके साथ कोई यूजर आपके पीसी को इस तरीके का इस्तेमाल कर हैक करता है तो फिर आप अपने टास्क मैनेजर को ओपन करें! svchost.exe फाइल पर क्लिक कर end प्रोसेस बटन पर क्लिक कर दीजिए! हैकर कंप्यूटर दोबारा हैक नहीं कर पायेगा!

तो साथियों आज के इस आर्टिकल में बस इतना ही! RAT वायरस, ट्रोजन वायरस किसी भी कंप्यूटर डिवाइस में आने के बाद डिवाइस एवं यूजर दोनों को नुकसान पहुंचा सकते हैं! अतः इसके बारे में अधिक से अधिक लोगों तक जानकारी पहुंचा कर उनके डिवाइस को सिक्योर रखने में भी आप उनकी हेल्प कर सकते हैं।

उम्मीद है की अब आपको Trojan Horse or Rats Virus से जुड़ी पूरी जानकारी मिल चुकी होगी, और आप जान गये होगे की Trojan Horse or Rats Virus Kya Hai? और इससे Computer Hack Kaise Kare?

यह गेस्ट पोस्ट Mahipal Negi द्वारा लिखी गयी है, इसी तरह ही Useful जानकारी पाने के लिए kaisekartehai.in साइट को जरूर visit करें!

यह भी पढ़े: 

Hope की आपको Trojan Horse or Rats Virus Kya Hai? Computer Hack Kaise Kare? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।


अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here