USB क्या है? इसके प्रकार, Versions और फायदे की पूरी जानकारी


USB क्या है? इसके प्रकार, Versions और फायदे की पूरी जानकारी! USB का इस्तेमाल कैसे किया जाता है? जैसे कुछ साधारण सवाल का जवाब इस लेख मे दिया गया है। आज आपने कंप्यूटर से स्मार्ट फोन में या फिर स्मार्ट फोन से कंप्यूटर/ लैपटॉप में डाटा को ट्रांसफर करने के लिए कभी ना कभी यूएसबी डिवाइस का इस्तेमाल किया ही होगा।


USB क्या है? इसके प्रकार, Versions और फायदे की पूरी जानकारी

यह एक ऐसा डिवाइस होता है जिसकी आवश्यकता हर कंप्यूटर अथवा लैपटॉप इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति को पड़ती ही है परंतु शायद ही उन्हें यह पता होता है कि यूएसबी का फुल फॉर्म क्या होता है और यूएसबी का मतलब क्या होता है।


अगर आप यूएसबी के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको यूएसबी के वर्जन की जानकारी देंगे साथ ही आपको USB Kya Hai, यूएसबी का इतिहास भी आर्टिकल में जानने को मिलेगा। आइए जानते हैं यूएसबी क्या होता है।

USB क्या है? (What is USB in Hindi)

दो पार्ट को आपस में जॉइंट करने के लिए इस्तेमाल में लिया जाने वाला यूएसबी एक प्रकार का वायर डिवाइस होता है। अगर हमें लैपटॉप को अपने मोबाइल के साथ कनेक्ट करना है तो हमें यूएसबी को इस्तेमाल करने की आवश्यकता पड़ती है। वही टेबलेट को कंप्यूटर के साथ जोड़ने के लिए या फिर डेस्कटॉप को टेबलेट के साथ जोड़ने के लिए हमें यूएसबी की आवश्यकता पड़ती है।

इस प्रकार से किसी भी दो डिवाइस को आपस में कनेक्ट करने के लिए इसकी जरूरत पड़ती है और जब दोनों डिवाइस आपस में कनेक्ट हो जाते हैं तो आप दोनों डिवाइस में किसी भी प्रकार का काम कर सकते हैं। आप चाहे तो एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस में डाटा ट्रांसफर का काम भी कर सकते हैं या फिर आप अपने खराब हो चुके मोबाइल के सॉफ्टवेयर को भी इसके द्वारा अपडेट कर सकते हैं।

USB का मतलब क्या है?

यह कंप्यूटर की क्षेत्र में बहुत ही प्रसिद्ध वायर डिवाइस है और हर व्यक्ति को कभी ना कभी इसकी आवश्यकता पड़ती ही है। इसलिए अधिकतर लोगों के पास आपको यूएसबी डिवाइस मौजूद मिलता है।

यूएसबी को एक प्रकार की टेक्नोलॉजी भी कहते हैं क्योंकि इसके द्वारा विभिन्न प्रकार के डाटा को एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस में ट्रांसफर किया जाता है साथ ही इसके द्वारा पावर बैंक को फोन के साथ जोड़ा जाता है जिसकी वजह से हमारा फोन चार्ज होता है।

USB का फुल फॉर्म क्या होता है?

यूएसबी का फुल फॉर्म Universal Serial Bus होता है जबकि हिंदी भाषा में “यूनिवर्सल सीरियल बस” के नाम से उच्चारित किया जाता है। हम आज के समय में जिस कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं उसमें यह इस्तेमाल होने वाला एक बहुत ही सामान्य कंप्यूटर पार्ट होता है। यूएसबी के द्वारा कीबोर्ड, माइक, गेम कंट्रोलर, प्रिंटर, स्कैनर, डिजिटल कैमरा और रिमूवेबल मीडिया ड्राइवर को जोड़ा जाता है।

टॉप यूएसबी कम्पनी के नाम

आपको यह जानकर काफी आश्चर्य होगा कि एक भारतीय व्यक्ति अजय भट्ट के द्वारा यूनिवर्सल सीरियल बस का पहला स्टैंडर्ड क्रिएट किया गया था। जब यह बनाया गया था तब अजय भट्ट इंटेल कंपनी की टीम में शामिल थे। स्टार्टिंग में तकरीबन 7 कंपनी के द्वारा इस टेक्नॉलजी का इस्तेमाल किया गया था, जिनकी लिस्ट निम्नानुसार है।

  • INTEL
  • DEC
  • IBM
  • NORTAL
  • NEC
  • MICROSOFT
  • COMPAQ

USB के वर्जन

यूएसबी के वर्जन नीचे आपके सामने प्रस्तुत किए गए हैं।

  • यूएसबी (USB) 1.0
  • यूएसबी (USB) 2.0
  • यूएसबी (USB) 3.0
  • यूएसबी (USB) 3.1
  • यूएसबी (USB) 3.2
  • यूएसबी (USB) 4.0

1: यूएसबी (USB) 1.0

साल 1996 का वह समय था जब यूएसबी के इस वर्जन को लांच किया गया था। इसमें डाटा ट्रांसफर करने की जो अधिकतम कैपेसिटी थी वह 12 मेगाबाइट प्रति सेकंड की थी।

2: यूएसबी (USB) 2.0

साल 2000 में लांच हुए इस वर्जन में अधिकतम डाटा ट्रांसफर करने की कैपेसिटी 480 मेगाबाइट प्रति सेकंड की थी।

3: यूएसबी (USB) 3.0

यह साल 2008 में लांच हुआ था और इसकी डाटा को ट्रांसफर करने की अधिकतम कैपेसिटी 5 गीगाबाइट प्रति सेकंड की थी।


4: यूएसबी (USB) 3.1

यूएसबी के इस वर्जन की डाटा को ट्रांसफर करने की अधिक से अधिक कैपेसिटी 10 गीगाबाइट प्रति सेकंड थी और यह साल 2013 में लांच हुआ था।

5: यूएसबी (USB) 3.2

यूएसबी का यह वर्जन 20 गीगाबाइट प्रति सेकंड की स्पीड से डाटा को ट्रांसफर करने की क्षमता रखता था और यह साल 2017 में लांच हुआ था।

6: USB 4.0

अब तक की सबसे लेटेस्ट वर्जन वाले यूएसबी की लॉन्चिंग साल 2019 में हुई थी। इसमें अधिकतम डाटा ट्रांसफर की कैपेसिटी 40 जीबीपीएस है। यह थंडरबोल्ट को भी सपोर्ट करता है।

USB के फ़ायदे?

यूनिवर्सल सीरियल बस के एडवांटेज अथवा यूनिवर्सल सीरियल बस के फायदे निम्नानुसार हैं।

  • यूनिवर्सल सीरियल बस को इस्तेमाल करने में किसी भी प्रकार का जोखिम नहीं है और इसके इस्तेमाल करने की जो विधि है वह भी बहुत सरल है।
  • हम यूनिवर्सल सीरियल बस का इस्तेमाल करके आसानी से डिवाइस को कनेक्ट कर सकते हैं और जब हमारा काम खत्म हो जाए तो हम इसे बहुत ही आसानी से डिस्कनेक्ट कर सकते हैं यानी कि निकाल सकते हैं।
  • यह वजन में बहुत ही हल्का होता है साथ ही इसका आकार भी छोटा होता है। इसलिए इसे यहां से वहां बड़े ही आसानी के साथ ले कर के जाया जा सकता है। यह एक पोर्टेबल डिवाइस होता है।
  • आपको स्पार्किंग जैसी प्रॉब्लम का सामना इसका इस्तेमाल करने में नहीं करना पड़ता है।
  • विभिन्न प्रकार के साधनों के लिए यह सिंगल इंटरफेस है।
  • यूएसबी के द्वारा हम काफी जल्दी से डाटा को ट्रांसफर कर सकते हैं क्योंकि इसके डाटा ट्रांसफर करने की जो स्पीड होती है वह बहुत ही कमाल की होती है।
  • काम की चीज होने के बावजूद मार्केट में यूएसबी बहुत ही सस्ती कीमतों पर उपलब्ध रहते हैं। इसीलिए इसे आसानी के साथ खरीदा जा सकता है।
  • इसका इस्तेमाल करने में काफी कम एनर्जी का यूज़ होता है। इसलिए यह कम बिजली की खपत करता है।

USB के नुकसान?

यूएसबी के डिसएडवांटेज अथवा यूएसबी की हानिया नीचे आपके सामने दर्शाई गई है।

  • सिर्फ होस्ट और पेरीफेरल के बीच पर्सनल मैसेज का कम्युनिकेशन आप यूएसबी के द्वारा कर सकते हैं।
  • यूनिवर्सल सीरियल बस के वर्क करने की जो कैपेसिटी होती है वह लिमिटेड होती है। अधिक केपेसिटी प्राप्त करने के लिए आपको लेटेस्ट वर्जन के यूएसबी का इस्तेमाल करना पड़ता है।
  • कुछ ऐसे भी सिस्टम है जो यूएसबी से काफी तेज गति के साथ डाटा को ट्रांसफर करते हैं।
  • आपको यूनिवर्सल सीरियल बस में ब्रॉडकास्टिंग की सुविधा हासिल नहीं होती है।

USB के प्रकार?

आसानी से एक डिवाइस को दूसरे डिवाइस के साथ जोड़ने के लिए यूएसबी की खोज की गई थी और वर्तमान के समय में प्रिंटर,हार्ड ड्राइव और एक्सटर्नल डिस्क ड्राइव तथा दूसरे हार्डवेयर को आसानी के साथ यूएसबी के साथ जोड़ा जा रहा है। आइए जानते हैं कि यूएसबी के प्रकार कितने हैं।

1: मिनी यूएसबी

डिजिटल कैमरा और कंप्यूटर के हार्डवेयर के एक्सटर्नल डिवाइस के साथ इसका इस्तेमाल होता है। फिलहाल वर्तमान के समय में इसका इस्तेमाल कम किया जा रहा है क्योंकि अब इसकी जगह माइक्रो यूएसबी और यूएसबी सी केबल ने ले ली है। अभी कुछ ऐसे MP3 प्लेयर, कैमरा, प्लेस्टेशन और रिचार्जेबल स्पीकर हैं जिन्हें जोड़ने के लिए इसका इस्तेमाल होता है।

2: माइक्रो यूएसबी

इसका आकार मिनी यूएसबी से छोटा होता है और इसका लेटेस्ट वर्जन माइक्रो यूएसबी है। सामान्य तौर पर कंप्यूटर के एक्सटर्नल डिवाइस, वीडियो गेम कंट्रोलर और चार्जिंग स्मार्ट फोन से कनेक्ट करने के लिए इसका इस्तेमाल होता है।

3: USB टाइप A

वर्तमान समय में अधिकतर डिवाइस में यह आ रहा है। आपको होस्ट कंप्यूटर जैसे कि डेस्कटॉप कंप्यूटर, गेमिंग कंसोल और मीडिया प्लेयर में यूएसबी टाइप ए हासिल होता है।

4: यूएसबी टाइप B

यूएसबी टाइप बी चौकोर साइज के होते हैं और सामान्य तौर पर यह प्रिंटर जैसे संचालित साधनों के लिए कनेक्टर होते हैं। इसकी दूसरी साइड पर एक प्रकार का दूसरा कनेक्टर मौजूद होता है।

5: यूएसबी टाइप C

यूएसबी टाइप सी वर्तमान के माइक्रो यूएसबी वर्जन के जैसा ही होता है। इसकी साइज छोटी होती है और इसीलिए अपनी छोटी साइज की वजह से यह उन सभी पेरीफेरल साधनों में फिट हो जाता है जिसका इस्तेमाल हमारे द्वारा किया जाता है।

6: लाइटिंग कनेक्टर

इसे एप्पल कंपनी के द्वारा बनाया गया है और एप्पल के जो प्रोडक्ट हैं उसमें ही सिर्फ इसे इस्तेमाल में लिया जा सकता है। मार्केट में जो आईफोन और आईपॉड मिलते हैं उनके कनेक्टर दूसरे डिवाइस से जरा हटके होते हैं। उनमें जो कनेक्टर इस्तेमाल होते हैं वही लाइटिंग कनेक्टर होते हैं।

USB पोर्ट कहां होता हैं?

अभी जो लेटेस्ट टेक्नोलॉजी वाले कंप्यूटर मार्केट में आ रहे हैं उन सभी में कम से कम एक यूएसबी पोर्ट अवश्य होता है। नीचे हमने उन स्पेशल जगहों के नाम आपको बताए हैं जहां पर आप यूएसबी पोर्ट को प्राप्त कर सकते हैं।

1: डेस्कटॉप कंप्यूटर

जो डेस्कटॉप कंप्यूटर होते हैं उसमें सामने की तरफ में 2 से लेकर के 4 पोर्ट होते हैं और पीछे की साइड में 2 से लेकर के 8 पोर्ट अवेलेबल होते हैं।

2: लैपटॉप कंप्यूटर

जो लैपटॉप कंप्यूटर होते हैं उसमें बाएं, दाएं अथवा दोनों ही साइड 1 से लेकर के 4 यूएसबी पोर्ट अवेलेबल होते हैं।

3: टैबलेट कंप्यूटर

इसमें जो चार्जिंग पोर्ट होता है उसी में यूएसबी कनेक्शन मौजूद होता है। हालांकि कुछ ऐसे भी टेबलेट होते हैं जिसमें एक्स्ट्रा यूएसबी पोर्ट दिया जाता है।

4: स्मार्टफोन

स्मार्ट फोन में यूएसबी पोर्ट का इस्तेमाल माइक्रो यूएसबी के तौर पर डाटा को ट्रांसफर करने के लिए भी होता है साथ ही चार्जिंग करने के लिए भी होता है।

USB पोर्ट क्या होता है?

हर डिवाइस में यूएसबी डिवाइस को कनेक्ट करने के लिए अथवा अंदर डालने के लिए एक पोर्ट होता है उसी पोर्ट को यूएसबी पोर्ट कहते हैं। अगर आप अपने लैपटॉप को या फिर अपने स्मार्टफोन को ध्यान से देखेंगे तो आपको वहां पर यूएसबी पोर्ट अवश्य दिखाई देगा। हमारे स्मार्टफोन में जो हमारा चार्जिंग पोर्ट होता है वही यूएसबी पोर्ट होता है। वही कंप्यूटर और लैपटॉप में 2 से लेकर के 4 अथवा 8 यूएसबी पोर्ट अवेलेबल होते हैं।

USB डिवाइस के नाम?

अलग-अलग कामों को करने के लिए डिफरेंट टाइप के यूएसबी डिवाइस का इस्तेमाल वर्तमान के समय में किया जा रहा है। उनमें से कुछ प्रमुख यूएसबी डिवाइस के नाम निम्नानुसार है।

  • कीबोर्ड
  • माइक्रोफोन
  • माउस
  • डिजिटल कैमरा
  • प्रिंटर
  • जॉयस्टिक

USB का इतिहास?

आईबीएम, माइक्रोसॉफ्ट, इंटेल, कंपेक, नोरटेल ,डीसीई,एनसीई जैसी सात कंपनियों ने आपस में वर्ष साल 1994 में हाथ मिलाया और यूएसबी का निर्माण करने पर सहमति जताई। इसके पश्चात इन सभी कंपनियों के द्वारा यूएसबी को क्रिएट करने का सफर शुरू किया गया।

इस प्रकार 2 साल तक काफी खोजबीन करने के पश्चात और एक्सपेरिमेंट करने के पश्चात साल 1996 में यूएसबी का पहला वर्जन बन करके तैयार हुआ और उसे 1996 में ही रिलीज किया गया। इसकी खोज करने में मुख्य तौर पर अजय भट्ट को श्रेय दिया जाता है। यह इंटेल कंपनी में यूएसबी स्टैंडर्ड पर काम कर रहे थे।

यूएसबी का वर्जन लॉन्च होने के बाद इस पर और अधिक काम किया गया और इसे डिवेलप किया गया और वर्तमान के समय में मार्केट में जो यूएसबी मौजूद है वह काफी अच्छी कैपेसिटी वाले यूएसबी हैं जिनके द्वारा डाटा ट्रांसफर तेज गति के साथ हो रहा है।

USB के अन्य फुल फॉर्म

यूएसबी के अन्य फुल फॉर्म निम्नानुसार है।

  • UNIVRSAL SIERIAL BUS
  • UPPER SIDE BAND
  • UNION STATE BANK
  • ULTIMATE SOUND BANK
  • ULTIMATE SECURITY BREAKDOWN
  • UNIVERSAL STYLE BANK
  • UNSTABLE SYNTHETIC BRAIN
  • UNUSUALLY SLOW BUS
  • USELESS STEAM BLOWHOLE
  • UNIVERSITY OF SOUTH BERKLY

OTG क्या है?

यह एक प्रकार का कनेक्टर होता है जो केबल के साथ भी आता है अथवा बिना केबल के भी आता है। इसका पूरा मतलब ऑन द गो होता है। अगर हमें अपने दो स्मार्टफोन को आपस में कनेक्ट करना है तो हम ओटीजी केबल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके अलावा अगर हमें अपने स्मार्टफोन के साथ अपने ड्राइवर को कनेक्ट करना है तो हम ओटीजी केबल का इस्तेमाल कर सकते हैं और अपने मोबाइल में डाटा को एक्सेस कर सकते हैं। हमारे स्मार्टफोन में या तो यूएसबी सी पोर्ट होता है या तो माइक्रो यूएसबी पोर्ट होता है परंतु अधिकतर यूएसबी डिवाइस फुल साइज यूएसबी पोर्ट को ही समर्थन देते हैं। ऐसी अवस्था में एक कनेक्टर के तौर पर ओटीजी वर्क करता है।

USB केबल की लंबाई कितनी होती है?

यूएसबी केबल अलग-अलग लंबाई में उपलब्ध होते हैं जिनमें से कुछ केबल की लंबाई 1 से 2 इंच की होती है तो कुछ केबल की लंबाई 16 फीट तक की होती है। यूएसबी केबल की अधिकतम लंबाई 16 फीट 5 इंच होती है जोकि हाई स्पीड डिवाइस के लिए होता है।

वही 9 फीट 10 इंच वाला यूएसबी केबल कम स्पीड वाले डिवाइस के लिए होता है। व्यक्ति चाहे तो यूएसबी हब का इस्तेमाल करके दो यूएसबी केबल को जॉइंट कर सकते हैं। इसके द्वारा दो डिवाइस के बीच की दूरी को बढ़ाया जा सकता है।

USB पोर्ट काम न करने पर क्या करे?

कभी-कभी जब हम यूएसबी डिवाइस को यूएसबी पोर्ट में लगाते हैं तो यूएसबी पोर्ट यूएसबी डिवाइस को एक्सेप्ट नहीं करता है जिसके पीछे कुछ ना कुछ दिक्कत अवश्य होती है। इसलिए नीचे कुछ ऐसे टिप्स हम आपके साथ शेयर कर रहे हैं जिसे आप यूएसबी पोर्ट काम ना करने की सिचुएशन में फॉलो कर सकते हैं।

अगर यूएसबी पोर्ट काम नहीं कर रहा है तो आपको सबसे पहले तो अपने कंप्यूटर अथवा लैपटॉप को पावर ऑफ कर लेना है और 1 से 2 मिनट के बाद आपको फिर से रीस्टार्ट करना है।

यूएसबी पोर्ट काम नहीं कर रहा है तो एक बार आप को यूएसबी पोर्ट से यूएसबी डिवाइस को बाहर निकालना है और उसके बाद फिर से यूएसबी डिवाइस को यूएसबी पोर्ट में इंटर करना है।

अगर आपके पास अन्य यूएसबी डिवाइस मौजूद है तो आप उसे इस्तेमाल कर सकते हैं।

कई बार ऐसा होता है कि आउटडेटेड ड्राइवर होने की वजह से यूएसबी पोर्ट सही प्रकार से काम नहीं करता है। ऐसी अवस्था में आपको अपने सिस्टम को अपडेट करना चाहिए। उम्मीद है की अब आपको usb से जुड़ी पूरी जानकारी मिल चुकी होगी और आप जान गये होगा की USB क्या है? इसके प्रकार, Versions और फायदे की पूरी जानकारी!

FAQ:

USB से आप क्या समझते हैं?

UNIVERSAL SERIAL BUS

USB का पूर्ण रूप क्या है?

UNIVERSAL SERIAL BUS

यूएसबी किस प्रकार का स्टोरेज है?

सेकेंडरी डाटा स्टोरेज

यूएसबी का आविष्कार किसने किया?

अजय भट्ट

इस लेख मे हमने आपको बताया की USB क्या है? और इस यंत्र का इस्तेमाल कैसे किया जाता है। आप इस लेख को पढ़ कर इसके इतिहास और काम के तरीके को अच्छे से समझ गए होंगे।

Hope अब आपको USB क्या है? इसके प्रकार, Versions और फायदे की पूरी जानकारी! समझ आ गया होगा, और आप जान गये होगे की USB कस इस्तेमाल कैसे करते है या usb port ना काम करने पर क्या करते है।


अगर आपके पास कोई सवाल है, तो आप नीचे कमेंट में पूछ सकते हो. और अगर आपको यह पोस्ट हेल्पफुल लगा हो तो इसको सोशल मीडिया पर अपने अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here